गोल्ड मेडलिस्ट नीरज चोपड़ा का CSK ने किया सम्मान, खास जर्सी के साथ दिये इतने करोड़

Neeraj Chopra
Photo Credit: Twitter/CSK

नई दिल्ली। जापान की राजधानी टोक्यो में इस साल खेले गये ओलंपिक गेम्स में भारत को एथलेटिक्स में पहला गोल्ड मेडल दिलाने वाले नीरज चोपड़ा के सम्मान में बहुत सारे इनाम का ऐलान किया गया था। इस फेहरिस्त में इंडियन प्रीमियर लीग के इतिहास में 4 बार खिताब जीतने वाली चेन्नई सुपर किंग्स की टीम ने भी एक करोड़ रुपये और 8758 नंबर की खास जर्सी से सम्मानित करने का ऐलान किया था। अब चेन्नई सुपर किंग्स की टीम ने अपने वादे को पूरा करते हुए नीरज चोपड़ा को एक करोड़ रुपये का ईनाम और सीएसके की खास जर्सी (जिस पर 8758 नंबर छपा है) से सम्मानित किया है। उल्लेखनीय है कि नीरज चोपड़ा ने ओलंपिक के इतिहास में ट्रैक एंड फील्ड इवेंट में भारत के लिये एथलेटिक्स का पहला गोल्ड मेडल जीता था।

नीरज चोपड़ा ने भाला फेंक प्रतियोगिता में 87.58 मीटर का रिकॉर्ड थ्रो फेंककर यह पदक अपने नाम किया जिसके चलते चेन्नई सुपर किंग्स की टीम ने उनकी जर्सी पर 8758 नंबर लिखा है। इसके साथ ही नीरज चोपड़ा ओलंपिक के इतिहास में भारत के लिये इंडिविजुअल इवेंट में गोल्ड मेडल जीतने वाले खिलाड़ी बने थे। नीरज चोपड़ा से पहले भारतीय शूटर अभिनव बिंद्रा ने 2008 के समर ओलंपिक्स की 10 मीटर एयर राइफल प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल जीता था।

और पढ़ें: IND vs NZ: बर्थ डे ब्वॉय सोढ़ी ने मचाया धमाल, जीवनदान का फायदा नहीं उठा सके रोहित शर्मा

इस सम्मान समारोह में सीएसके के सीईओ केएस विश्वनाथन ने कहा,'नीरज की उपलब्धि पर सारे देश को नाज है, ट्रैक एंड फील्ड में भारत के लिये पहला गोल्ड मेडल जीतकर उन्होंने एक बेंचमार्क स्थापित कर दिया है। वह इस पीढ़ी के लिये प्रेरणास्त्रोत हैं। 87.58 वो नंबर है जो भारतीय खेल के इतिहास में हमेशा याद किया जायेगा और यह हमारा सौभाग्य है कि हम नीरज चोपड़ा को इस खास जर्सी से सम्मानित कर पा रहे हैं। हम उम्मीद करते हैं कि वो देश के लिये और भी उपलब्धियां हासिल कर सकें।'

गौरतलब है कि नीरज चोपड़ा ने साल 2014 में अपना पहला अंतर्राष्ट्रीय कम्पिटीशन खेला था जिसमें वह यूक्रेन में आयोजित किये गये विश्व यूथ चैम्पियनशिप में शिरकत करते नजर आये थे। नीरज चोपड़ा ने बैंकॉक में खेले गये यूथ ओलम्पिक्स क्वालिफिकेशन में सिल्वर पदक अपने नाम किया था।

और पढ़ें: IND vs NZ: 8 साल में पहली बार रोहित को लेकर कोहली ने किया बड़ा प्रयोग, फेल हुआ गेमप्लान

टोक्यो ओलंपिक्स में नीरज चोपड़ा ने अपने क्वालिफाइंग ग्रुप में 86.65 मीटर का थ्रो फेंककर सीधे फाइनल मैच के लिये क्वालिफाई कर लिया था। इसके बाद जब वो फाइनल इवेंट में खेलने उतरे तो पहले ही प्रयास में 87.02 का थ्रो फेंका और दूसरे प्रयास में 87.58 मीटर का थ्रो फेंककर गोल्ड मेडल पक्का कर लिया। इसके साथ ही वह आजादी के बाद भारत के लिये ओलंपिक्स में एथलेटिक्स का पदक जीतने वाले पहले खिलाड़ी बन गये हैं।

आपको बता दें कि नीरज चोपड़ा के पदक के साथ भारत ने इस ओलंपिक में कुल 7 पदक जीते और अपने सबसे ज्यादा पदक के रिकॉर्ड को तोड़ दिया। नीरज चोपड़ा ने अपने गोल्ड मेडल को भारत के पूर्व स्प्रिंटर मिल्खा सिंह और पीटी ऊषा को समर्पित किया है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Sunday, October 31, 2021, 21:55 [IST]
Other articles published on Oct 31, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X