रोज कड़ी बैटिंग प्रैक्टिस कर रहा है ये पाकिस्तानी गेंदबाज, कहा- इंग्लैंड में बनानी है सेंचुरी

नई दिल्ली: COVID-19 महामारी के बीच खेल में अपनी वापसी करने के लिए पाकिस्तान अगले महीने इंग्लैंड के खिलाफ मैदान में उतरने के लिए तैयार है। कोरोनोवायरस के बाद की दुनिया में यह पाकिस्तान का पहला अभियान होगा जहां 'मेन इन ग्रीन' टीम इंग्लैंड में तीन टेस्ट इतने ही टी 20 मुकाबले खेलेगी।

इस दौरान पाकिस्तान को आईसीसी के पोस्ट-कोरोनोवायरस नियमों के तहत मैचों को खेलना होगा, जिनमें लार पर बहुत अधिक प्रतिबंध लगाया गया है। इसके अलावा, मैच बंद दरवाजों के पीछे खेले जाएंगे और खिलाड़ी सीरीज के दौरान जैविक रूप से सुरक्षित माहौल में रहेंगे।

बल्लेबाज में हाथ आजमा रहे हैं यासिर शाह-

बल्लेबाज में हाथ आजमा रहे हैं यासिर शाह-

5 अगस्त से शुरू होने वाली बहुप्रतीक्षित श्रृंखला से पहले, पाकिस्तान के अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी यासिर शाह ने अंग्रेजी धरती पर शतक बनाने की इच्छा व्यक्त की है। दिसंबर 2019 में, यासिर एडिलेड ओवल में 113 रन की पारी खेल चुके हैं और वे फिर से ऐसा ही कुछ करना चाहते हैं।

कोरोना के प्रकोप तक धोनी ने किया कोई विज्ञापन ना करने का फैसला, जैविक खेती पर देंगे ध्यान

श्रृंखला से पहले मीडिया से बात करते हुए, यासिर ने यह भी खुलासा किया कि वह अपने बल्लेबाजी कौशल के साथ-साथ नेट्स में भी अभ्यास कर रहे हैं।

पहले भी लगा चुके हैं इंग्लैंड में शतक-

पहले भी लगा चुके हैं इंग्लैंड में शतक-

उन्होंने कहा, 'मैं इंग्लैंड के खिलाफ श्रृंखला में अच्छे प्रदर्शन के लिए आशान्वित हूं। मौसम और हालात पाकिस्तान की मदद करेंगे। हमारे खिलाड़ियों को अनुभवहीन कहना पूरी तरह से सच नहीं है। हमारे युवा गेंदबाज वास्तव में अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। मोहम्मद अब्बास को काउंटी क्रिकेट खेलने का अनुभव है। शाहीन शाह से काफी उम्मीदें हैं, "यासिर ने क्रिकेट पाकिस्तान से यह बात कही।

चोट के बाद मैदान में उतर रहे हैं शाह-

चोट के बाद मैदान में उतर रहे हैं शाह-

उन्होंने कहा, 'इंग्लैंड में स्विंग की वजह से हमें फायदा होगा। गुगली और लेग-ब्रेक मेरे हथियार हैं। मैं अपनी बल्लेबाजी पर भी ध्यान दे रहा हूं और इंग्लैंड में शतक बनाने की कोशिश करूंगा। मैं लगातार नेट्स में एक बल्लेबाज के रूप में अपने बैटिंग कौशल का अभ्यास कर रहा हूं।

10 साल में फ्रेंचाइजी के परमानेंट बॉस बन जाएंगे धोनी: CSK के CEO ने दिया बयान

यासिर ने 39 टेस्ट और 25 एकदिवसीय मैचों में पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व किया है, क्रमशः 213 और 24 विकेट झटके हैं। 34 वर्षीय यासिर ने भी मुश्ताक अहमद के प्रयास को स्वीकार किया और खुलासा किया कि वह अपनी चोट के बाद मैदान पर वापसी करने के लिए वास्तव में कड़ी मेहनत कर रहे हैं।

मुश्ताक अहमद को दिया श्रेय-

मुश्ताक अहमद को दिया श्रेय-

"मेरा प्रदर्शन मेरी चोट से प्रभावित था। मैंने वापस आने के लिए वास्तव में कड़ी मेहनत की है। मेरा आत्मविश्वास वापस आ गया है और मैं अपनी गेंदबाजी से संतुष्ट हूं। बॉलिंग कोच, मुश्ताक अहमद मुझे अपना समय दे रहे हैं। टीम के साथ उनका वापस आना बहुत फायदेमंद रहा। अच्छे प्रदर्शन से उम्मीदें बढ़ती हैं। मैं उन उम्मीदों पर पहुंचने की कोशिश करूंगा।

उन्होंने कहा, 'पाकिस्तान में मजबूत बल्लेबाजी है। हमें उम्मीद है कि हमारे बल्लेबाज अच्छा करेंगे। अगर बल्लेबाजी अच्छी होती है, तो यह गेंदबाजों का दबाव दूर करता है।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Read more about: yasir shah pakistan vs england
Story first published: Wednesday, July 8, 2020, 8:21 [IST]
Other articles published on Jul 8, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X