Flashback 2021 : फ्लाॅप रहे ये तीन भारतीय खिलाड़ी, एक को BCCI ने सरेआम दी चेतावनी

स्पोर्ट्स डेस्क (नोएडा) : किसी भी क्रिकेटर के लिए सबसे पहले अहम काम होता है टीम में जगह पाना। जब जगह मिल जाती है तो उसे बरकरार रखने के लिए भी उसे फिर हर मिले माैके पर छाप छोड़ने की जरूरत होती है। हालांकि ऐसा नहीं है कि एक बार फ्लाॅप होने के कारण किसी खिलाड़ी को नजरअंदाज किया जाए, लेकिन बार-बार असफल होना उसका बाहर होने का कारण बन जाता है। साल 2021 में दर्शकों को कई रोमांचक मैच देखने को मिले तो कई युवाओं को माैके मिलते भी दिखे। हालांकि कुछ खिलाड़ी ऐसे भी रहे जिनके लिए यह साल बेहद खराब रहा है। अगर हम यह कहें कि उन्हें टीम में जगह बनाए रखने के लिए साल 2021 में दमदार खेल दिखाना होगा तो उसमें कोई गलत राय नहीं। भारतीय टीम में भी इस बार तीन ऐसे खिलाड़ी रहे हैं, जो पूरी तरह फ्लाॅप साबित हुए। साल 2022 उनके लिए बुरे सपने जैसा रहा। यहां तक कि एक खिलाड़ी को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड(बीसीसीआई) से भी लय में लाैटने के लिए सरेआम चेतावनी मिली। काैन हैं वो तीन खिलाड़ी, आइए जानें-

यह भी पढ़ें- साल 2021 में सबसे ज्यादा T20 रन बनाने वाले टाॅप-5 बल्लेबाज, लिस्ट में दो पाकिस्तानी

1. वरुण चक्रवर्ती

1. वरुण चक्रवर्ती

ये वो खिलाड़ी है, जिसने आईपीएल के जरिए रातों-रात सुर्खियां बटोर लीं। वरुण के लिए यह साल शुरूआत में खुशियों भरा रहा, लेकिन अंत तक उन्हें उदास भी होना पड़ा। इंडियन प्रीमियर लीग में उनके प्रदर्शन ने उन्हें मिस्ट्री स्पिनर बना दिया। इस साल जब आईसीसी टी20 विश्व कप हुआ तो उन्हें अचानक टीम में जगह देकर बीसीसीआई ने सबको चाैंका दिया था। उम्मीद थी कि यूएई की पिचों पर वरुण अपनी जादुई स्पिन से विरोधियों को परेशान करेंगे, लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हुआ। वरुण ने पाकिस्तान के खिलाफ टी20 विश्व कप में मैच खेला और विकेट लिए बिना अपनी छाप छोड़ने में असफल रहे। वरुण पर भरोसा था, इसी कारण उन्हें न्यूजीलैंड और स्कॉटलैंड के खिलाफ हुए मैचों में भी माैका मिला, लेकिन वो इस बीच भी कोई भी विकेट नहीं ले सके। यानी कि वरुण ने टी20 विश्व कप में 3 मैच खेले, पर विकेट एक भी नहीं ले सके। इन मैचों से पहले वरुण ने इसी साल जुलाई में श्रीलंका के खिलाफ तीन टी20आई मैचों की सीरीज खेली, जिसमें वह सिर्फ 2 विकेट ले सके। सीरीज के शुरूआती दो मैचों में उन्होंने 1-1 विकेट लिए, लेकिन आखिरी मैच में उनके नाम कोई भी विकेट नहीं रहा था। कुल मिलाकर चक्रवर्ती ने इस साल भारत के लिए छह T20I मैच खेले, जिसमें 2 विकेट ही ले सके।

2. अजिंक्य रहाणे

2. अजिंक्य रहाणे

मध्यक्रम के बल्लेबाज रहाणे ही वो शख्स हैं जिन्हें अब तो बीसीसीआई से सरेआम चेतावनी मिली है। वो इसलिए, क्योंकि रहाणे को सिर्फ साल 2021 ही नहीं, बल्कि लंबे समय से खराब दाैर देखना पड़ रहा है। रहाणे टेस्ट क्रिकेट में टीम के उप-कप्तान थे, लेकिन उनसे अब ये पद बीसीसीआई ने छीन लिया है। रहाणे की वनडे, टी20 से पहले ही छुट्टी हो चुकी है, लेकिन अब टेस्ट से बाहर होने पर भी वह कगार पर हैं। इस साल रहाणे 12 मैचों में 19.57 की औसत से केवल 411 रन ही बना सके, जिसमें दो अर्धशतक भी शामिल हैं। रहाणे इस साल शतक बनाने में नाकाम रहे। निराशाजनक प्रदर्शन की एक सीरीज के बाद, उन्हें इस महीने न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट के लिए भी टीम से बाहर कर दिया गया था। हालांकि, रहाणे भारत के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक रहे हैं। उन्होंने 79 टेस्ट मैचों में 4795 रन बनाए हैं और पिछले साल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक ऐतिहासिक टेस्ट सीरीज जीत के लिए भारत की कप्तानी की थी। इसके अलावा रहाणे ने आखिरी बार फरवरी 2018 में वनडे मैच और अगस्त 2016 में एक टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेला था।

7. हार्दिक पांड्या

7. हार्दिक पांड्या

भारत के स्टार ऑलराउंडर हार्दिक ने बहुत ही कम समय में अपनी जगह पक्की कर ली थी। वो ना सिर्फ गेंदबाजी में बल्कि बल्लेबाजी में भी भारत के लिए कई अहम पारियां खेलते दिखे। हालांकि साल 2021 हार्दिक के लिए काफी बुरा रहा है। उनकी जगह पर लगातार सवाल उठते दिख रहे हैं। इस साल हार्दिक ने छह वनडे मैचों में 23.80 की औसत से 119 रन बनाए और केवल एक अर्धशतक ही बना सके, जो इंग्लैंड के खिलाफ आया था। उन्होंने 28 मार्च 2021 को इंग्लैंड के खिलाफ 63 गेंदों में 64 रनों की पारी खेली थी। इसके अलावा इस साल 11 टी20आई मैचों में 27.50 की औसत से 165 रन बनाए। उन्होंने इस साल दो बार 30 से अधिक रन बनाए और अर्धशतक तक पहुंचने में नाकाम रहे। हार्दिक पांड्या कभी ऐसे खिलाड़ी थे जिनकी टीम को सख्त जरूरत रहती थी। वह टीम के लिए मैच खत्म कर रहे थे और महत्वपूर्ण मैचों में विकेट ले रहे थे। हालांकि, चोटों के कारण उनका करियर खतरे में पड़ता दिखा। पीठ में सर्जरी करवाने के बाद हार्दिक अब गेंदबाजी करते भी नजर नहीं आते हैं। अब अगर हार्दिक को टीम में जगह बनानी है तो हर हाल में गेंदबाजी भी करनी होगी, अन्यथा मैनेजमेंट युवाओं को उनकी जगह माैका देने के लिए तैयार होगा।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Saturday, December 25, 2021, 18:47 [IST]
Other articles published on Dec 25, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X