Flashback 2021: वनडे क्रिकेट की वो 5 पारियां जिसने जीत लिया फैन्स का दिल

नई दिल्ली। साल 2021 खत्म होने की कगार पर है और क्रिकेट कैलेंडर में अब कोई भी अंतर्राष्ट्रीय वनडे क्रिकेट नहीं बचा है जिसका आयोजन इस साल किया जाना है। हालांकि वनडे क्रिकेट के लिहाज से 2021 को काफी कंजूसी भरा साल कहा जाये तो गलत नहीं होगा। इस साल आईसीसी विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के पहले संस्करण का फाइनल होने और यूएई में खेले गये टी20 विश्वकप के चलते ज्यादातर टीमों ने बहुत कम वनडे मैच खेले हैं। आपको यह जानकर हैरानी होगी कि भारत ने इस साल सिर्फ 2 वनडे सीरीज खेली हैं जिसमें कुल 6 ही मैचों का आयोजन किया गया, इसमें से भी सिर्फ एक ही सीरीज में भारत की मुख्य टीम खेलती नजर आयी।

और पढ़ें: सिर्फ 2 सालों में बिखर गया है विराट कोहली का प्रदर्शन, लगातार दूसरे कैलेंडर ईयर में नहीं आया शतक

भले ही 2021 में वनडे क्रिकेट का आयोजन काफी कम हुआ हो लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि फैन्स को इस प्रारूप में खिलाड़ियों के बल्ले से यादगार पारियां देखने को नहीं मिली है। 2021 में बीती यादों की पोटली से आज हम वनडे क्रिकेट की उन 5 यादगार पारियों के बारे में बात करने जा रहे हैं जिसने दुनिया भर के फैन्स को हिला कर रख दिया और अपनी टीम को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई और जिन मैचों में इन खिलाड़ियों की पारी जीत हासिल करने में नाकाम रही उस मैच में उन्होंने फैन्स का दिल अपने नाम कर लिया।

और पढ़ें: 'कई खिलाड़ी हैं जो उसे बाहर कर सकते हैं', सेंचुरियन में पुजारा के फ्लॉप शो पर भड़के पूर्व भारतीय क्रिकेटर

दीपक चाहर (Deepak Chahar)

दीपक चाहर (Deepak Chahar)

इस फेहरिस्त में पहला नाम भारतीय टीम के तेज गेंदबाज दीपक चाहर का आता है जिन्होंने श्रीलंका दौरे पर भारत की बी टीम के साथ सफर किया था और नाबाद 69 रनों की पारी खेलकर भारत को मुश्किल परिस्थितियों से बाहर निकाला था। इस मैच में दीपक चाहर जब बल्लेबाजी करने पहुंचे थे तो भारतीय टीम की हालत काफी खराब था, उसने महज 160 रन पर अपने 6 विकेट खो दिये थे और जीत के लिये उसे बचे हुए 23 ओवर्स में 115 रन की दरकार थी। दीपक चाहर ने धीमी शुरुआत करते हुए अगले 8 ओवर्स में क्रुणाल पांड्या के साथ 33 रन बनाये। हालांकि 36वें ओवर की पहली गेंद पर क्रुणाल पांड्या आउट होकर वापस पवेलियन लौट गये।

भारतीय टीम हार की कगार पर थी और उसे जीत के लिये अभी भी 82 रन की दरकार थी। दीपक चाहर ने इसके बाद भुवनेश्वर कुमार के साथ मिलकर 8वें विकेट के लिये 84 रनों की साझेदारी कर डाली और 5 गेंद पहले ही 276 रन के लक्ष्य को हासिल कर लिया। दीपक चाहर ने अपने वनडे करियर का पहला अर्धशतक लगाते हुए नाबाद 69 रनों की पारी खेली और गेंद से भी 2 विकेट हासिल करने की वजह से मैन ऑफ द मैच चुने गये।

फखर जमान (Fakhar Zaman)

फखर जमान (Fakhar Zaman)

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के लिये साल 2021 काफी शानदार रहा है और इसका काफी श्रेय उसके सलामी बल्लेबाज मोहम्मद रिजवान और बाबर आजम को जाता है। हालांकि वनडे प्रारूप में फखर जमान ने भी काफी कमाल किया और कई यादगार पारियां खेलकर टीम को जीत दिलाई। इन पारियों में उनकी एक पारी साउथ अफ्रीका के खिलाफ आयी जिसमें उन्होंने रनों का पीछा करते हुए लगभग 200 रन बना लिये थे और अपनी टीम को जीत दिलाने में लगभग कामयाब हो गये थे। पाकिस्तान की टीम साउथ अफ्रीका के खिलाफ 3 मैचों की वनडे सीरीज खेलने पहुंची थी जिसके दूसरे मैच में साउथ अफ्रीका की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट के नुकसान पर 341 रनों का स्कोर खड़ा किया था।

जवाब में पाकिस्तान की टीम एक छोर से विकेट खोती रही लेकिन दूसरे छोर पर फखर जमान ने विकेट को संभाले रखा और 155 गेंदों में 193 रन बना डाले। ऐसा लगा जब वो दोहरा शतक लगाकर अपनी टीम को मैच में जीत दिला देंगी तभी वो क्विंटन डिकॉक की चलाकी का शिकार बने और रन आउट होकर वापस पवेलियन लौटे। अपनी इस पारी के चलते फखर जमान के रनों का पीछा करते हुए सबसे ज्यादा रन बनाने के शेन वाटसन के रिकॉर्ड को तोड़ दिया और सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी बन गये। हालांकि उनके आउट होने के बाद पाकिस्तान की टीम बचे हुए रन नहीं बना सकी और 17 रन से मैच हार गई।

सैम कर्रन (Sam Curran)

सैम कर्रन (Sam Curran)

इस फेहरिस्त में तीसरा नाम इंग्लैंड के हरफनमौला खिलाड़ी सैम कर्रन का है जिन्होंने भारत के खिलाफ खेली गई 3 मैचों की वनडे सीरीज के आखिरी मैच में नाबाद 95 रनों की पारी खेली थी। भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही इस सीरीज में दोनों टीमें 1-1 मैच जीत चुकी थी और सीरीज का फैसला आखिरी मैच के नतीजे से होना था। भारतीय टीम ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवर्स में 329 रनों का स्कोर खड़ा किया। जिसके जवाब में रनों का पीछा करते हुए इंग्लैंड की टीम ने 26 ओवर में 168 रन के स्कोर पर अपने 6 विकेट खो दिये और ऐसा लगा कि भारतीय टीम आसानी से मैच जीत जायेगी। तभी सैम कर्रन बल्लेबाजी करने आये और 83 गेंदों में नाबाद 95 रनों की पारी खेलकर मोइन अली, आदिल राशिद और मार्क वुड के साथ अहम साझेदारी की लेकिन लक्ष्य से 7 रन पीछे रह गये।

बेन स्टोक्स और जॉनी बेयरस्टो (Ben Stokes and Jonny Bairstow)

बेन स्टोक्स और जॉनी बेयरस्टो (Ben Stokes and Jonny Bairstow)

वनडे क्रिकेट में इस साल की चौथी सबसे यादगार पारी इंग्लैंड के हरफनमौला खिलाड़ी बेन स्टोक्स और जॉनी बेयरस्टो का नाम शामिल है, जिन्होंने भारत के खिलाफ खेले गये दूसरे वनडे मैच में 175 रनों की साझेदारी की और 337 रनों के विशाल स्कोर को आसानी से चेज कर लिया। भारत ने इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए केएल राहुल के शतक के दम पर 337 रन का स्कोर खड़ा किया था, जिसके जवाब में जॉनी बेयरस्टो ने जेसन रॉय के साथ महज 16.3 ओवर्स में 110 रन जोड़ डाले। जेसन रॉय 55 रन के स्कोर पर रन आउट होकर लौटे तो लगा कि शायद भारतीय टीम मैच में वापसी कर लेगी लेकिन यहां से बेयरस्टो (124) और बेन स्टोक्स (99) ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी कर स्कोर को 6 ओवर पहले ही चेज कर लिया। बेयरस्टो ने 114 गेंदों में 124 रनों की पारी खेली तो बेन स्टोक्स ने 52 गेंदों में 99 रन ठोंक डाले।

शिखर धवन (Shikhar Dhawan)

शिखर धवन (Shikhar Dhawan)

इस फेहरिस्त में भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज शिखर धवन का नाम भी शामिल है जिन्हें इंग्लैंड के खिलाफ लंबे समय बाद खेलने का मौका मिला। शिखर धवन ने सीरीज के पहले मैच में 106 गेंदों का सामना कर 11 चौके और 2 छक्कों की मदद से 98 रन बना डाले, जिसकी वजह से 5 विकेट खोकर भारत ने 317 रन का स्कोर खड़ा कर दिया। इंग्लैंड की टीम जवाब में 251 रन पर सिमट गई। इंग्लैंड की ओर से जॉनी बेयरस्टो ने 66 गेंदों में 94 रनों की पारी खेली लेकिन उनके अलावा किसी और बल्लेबाज ने साथ नहीं दिया तो इंग्लैंड को मैच में जीत नहीं मिल सकी।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Thursday, December 30, 2021, 16:11 [IST]
Other articles published on Dec 30, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X