'मैं फर्श पर सो जाता हूं', जब धोनी ने हार्दिक को दिया अपने बेड पर सोने का ऑफर

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पांड्या ने अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर का आगाज पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्व में साल 2016 में किया था। यूएई और ओमान में खेले जा रहे 2021 टी20 विश्वकप में हार्दिक पांड्या भारतीय टीम का हिस्सा बने हैं, हालांकि उनकी फिटनेस को लेकर पिछले कुछ समय में चयनकर्ताओं के फैसले पर सवाल खड़े किये गये, जिसके बाद माना जा रहा था कि विश्वकप के लिये अंतिम भारतीय टीम में उन्हें बाहर किया जा सकता है। इस बीच जब चयनकर्ताओं ने भारत की रिवाइज्ड टीम का ऐलान किया तो फिर से हार्दिक पांड्या पर भरोसा बरकरार रखा और उन्हें बाहर नहीं किया।

और पढ़ें: T20 World Cup में पहली बार नीदरलैंड से जीती आयरलैंड, कैर्टिस कैम्फर के दम पर 7 विकेट से हराया

इस बीच विश्वकप कैंपेन से पहले हार्दिक पांड्या ने ईएसपीएन क्रिकइंफो के साथ बात करते हुए अपने करियर में महेंद्र सिंह धोनी के प्रभाव की बात की और कहा कि वो अपनी सफलता और उपलब्धियों के बहुत बड़े हिस्से का श्रेय भारतीय टीम के पूर्व कप्तान को देते हैं। हार्दिक पांड्या ने इस दौरान अपने करियर के खराब दौर का भी जिक्र किया और खुलासा किया कि कैसे धोनी ने उन्हें इससे बाहर आने में मदद की।

और पढ़ें: T20 World Cup: वार्म अप मैच में चला बाबर-फखर का बल्ला, वेस्टइंडीज को 7 विकेट से हराया

धोनी ने हमेशा दिया मेरा साथ

धोनी ने हमेशा दिया मेरा साथ

उल्लेखनीय है कि कॉफी विद करण के टीवी शो में विवादित टिप्पणी करने के चलते हार्दिक पांड्या पर बीसीसीआई ने बैन लगा दिया था जिसके बाद वह डिप्रेशन में चले गये थे और हार्दिक पांड्या के वापसी करने में धोनी ने अहम भूमिका निभाई।

उन्होंने कहा,'वह जानते हैं कि मैं किस तरह का इंसान हूं, वह जानते हैं कि मुझमें कितनी गहराई है और मैं उनके काफी करीब हूं। वह इकलौते इंसान हैं जो मुझे शांत कर सकते हैं। जब यह सब कुछ घट रहा था तो वो जानते थे कि मुझे सपोर्ट की जरूरत है। मुझे बस एक कंधे की जरूरत थी जो माही भाई ने मेरे पूरे करियर के दौरान कई बार दिया है। मैंने कभी भी उन्हें महानतम खिलाड़ी एमएस धोनी के रूप में नहीं देखा, मेरे लिये वो मेरे भाई माही हैं। मैं उनका दिल से सम्मान करता हूं क्योंकि वो हर उस जगह पर थे जब मुझे उनकी जरूरत थी।'

न्यूजीलैंड दौरे पर धोनी ने बचाया

न्यूजीलैंड दौरे पर धोनी ने बचाया

हार्दिक पांड्या ने धोनी के शांत स्वाभाव की तारीफ करते हुए 2019 में हुई पुरानी घटना को याद किया जब पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज ने अपने जेस्चर से दिल जीत लिया। हार्दिक पांड्या ने बताया कि यह घटना जनवरी 2019 की है जब भारतीय टीम ने सीमित ओवर्स प्रारूप सीरीज के लिये न्यूजीलैंड का दौरा किया था और बैन हटने के बाद पांड्या थोड़ी देर से टीम में शामिल हुए थे। हार्दिक पांड्या ने बताया कि जब वो न्यूजीलैंड पहुंचे तो उन्हें होटल ढूंढने में दिक्कत हो रही थी और तब भी धोनी ही उनके बचाव में आये।

हमेशा मेरे लिये सबसे पहले खड़े हुए माही

हमेशा मेरे लिये सबसे पहले खड़े हुए माही

उन्होंने कहा,'एमएस वो इंसान हैं जो मुझे शुरुआत से ही समझते आये हैं, मैं कैसे काम करता हूं, किस तरह का इंसान हूं और मुझे क्या पसंद है, सबकुछ। जब मैं न्यूजीलैंड दौरे के लिये चुना गया था तो वहां पर कोई होटल रूम उपलब्ध नहीं था। लेकिन तभी मुझे एक कॉल आती है कि तुम बस आ जाओ, एमएस ने कहा है कि मैं बेड पर नहीं सोता हूं, अगर होटल नहीं मिलता है तो वो मेरे बेड पर सो जायेगा और मैं फर्श पर सो जाऊंगा। वह हमेशा से पहले इंसान रहे जो मेरे लिये खड़े रहे।'

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Monday, October 18, 2021, 21:05 [IST]
Other articles published on Oct 18, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X