300 विकेट, 100वां टेस्ट- ईशांत शर्मा ने बताया कौन भारतीय पेसर तोड़ेगा उनका ये रिकॉर्ड

अहमदाबाद: भारत के तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा ने हाल ही में अपने 300 टेस्ट विकेट पूरे किए हैं और अब वे 100वां टेस्ट मैच खेलने के लिए तैयार हैं। ये कुछ ऐसी उपलब्धि है जो समय गुजरने के साथ और भी दुर्लभ होने वाली है। एशियाई मूल के तेज गेंदबाजों के पास टेस्ट क्रिकेट में करने के लिए बहुत कुछ नहीं होता। वे ओवरसीज दौरों पर ही अधिक निर्भर रहते हैं। इसके अलावा टेस्ट क्रिकेट के लिए जरूरी फिटनेस भी यहां के गेंदबाजों के लिए बहुत चुनौती रही है।

एशिया में केवल कपिल देव, वसीम अकरम, और चामिंडा वास ने टेस्ट क्रिकेट में 100 से ऊपर मैच खेलकर 300 से अधिक विकेट लिए हैं लेकिन उस समय क्रिकेट की तीनों प्रारूपों में बहुत क्रिकेट नहीं होता है। ना ही तब टी20 लीग बहुत ज्यादा थी।

अहमदाबाद मे उतरते ही इशांत रचेंगे इतिहास, ऐसा करने वाले दूसरे खिलाड़ी बनेंगे

एशिया पेसर के लिए बेहद दुर्लभ उपलब्धि-

एशिया पेसर के लिए बेहद दुर्लभ उपलब्धि-

ऐसे समय में ईशांत की उपलब्धि और भी बड़ी हो जाती है। ईशांत अब केवल टेस्ट क्रिकेट के लिए समपर्ति तेज गेंदबाज हैं। फिलहाल जिस रफ्तार से हर प्रारूप में क्रिकेट होने लगा है उसको देखकर लगता नहीं कि कोई एशियाई बॉलर ईशांत की तरह जल्दी से 300 विकेट लेने वाला है। लेकिन इस पर ईशांत का नजरिया कुछ अलग है और उनका कहना है कि जसप्रीत बुमराह ऐसा गेंदबाज हैं जो यह काम आसानी से कर सकता है।

सोमवार को मोटेरा में अहमदाबाद के सरदार पटेल गुजरात स्टेडियम और तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की तारीफ की। ईशांत बुधवार को यहां शुरू होने वाले इंग्लैंड के खिलाफ गुलाबी गेंद से अपने 100 वें टेस्ट मैच में कपिल देव (131 टेस्ट) के बाद दूसरे भारतीय तेज गेंदबाज बनने के लिए पूरी तरह तैयार हैं।

IND vs ENG: इंग्लैंड के खिलाफ टी20 सीरीज में दिनेश कार्तिक करेंगे खास डेब्यू, ब्रॉड भी देंगे साथ

ईशांत ने कहा- बुमराह तोड़ देंगे उनका रिकॉर्ड

ईशांत ने कहा- बुमराह तोड़ देंगे उनका रिकॉर्ड

मीडिया के साथ एक आभासी बातचीत के दौरान 32 वर्षीय ने कहा, "यह भव्य सेटिंग वाला एक शानदार स्टेडियम है।"

ईशांत ने कहा, "मुझे लगता है कि बुमराह मुझसे ज्यादा टेस्ट मैच खेलेंगे।

"हमारे पास शार्दुल ठाकुर, नवदीप सैनी और मोहम्मद सिराज जैसे अच्छे तेज गेंदबाज़ हैं। जबकि सैनी अधिक गति निकाल सकते हैं, सिराज का मजबूत बिंदु उनका नियंत्रण है। मुझे लगता है कि प्रत्येक भारतीय तेज गेंदबाज टीम में अपनी भूमिका जानता है।"

जहीर खान को भी धन्यवाद दिया-

जहीर खान को भी धन्यवाद दिया-

ईशांत ने 2014 की श्रृंखला में इंग्लैंड की बल्लेबाजी को 7-74 के शानदार स्पेल के साथ बर्बाद कर दिया था। ईशांत ने भारत के पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान को भी धन्यवाद दिया।

"मैंने जक (जहीर) से बहुत कुछ सीखा है। मैंने उनसे काम की नैतिकता के बारे में सीखा।''

India vs England: जानिए क्यों जसप्रीत बुमरा को दूसरे टेस्ट में आराम देना सही फैसला है

ईशांत ने भारतीय गेंदबाजों के बीच फिटनेस की जरूरत पर जोर दिया। तो क्या कपिल देव के 131 टेस्ट को पार करना ईशांत दिमाग में आता है? इस पर बात करते हुए उन्होंने कहा-

"मैं केवल विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल के लिए क्वालीफाई करने के बारे में सोचना चाहता हूं। यह मेरा विश्व कप है, जहां अगर मैं जीतता हूं, तो मुझे वैसा ही लगेगा जैसा की बाकियों को एकदिवसीय विश्व कप जीतने पर लगता है।"

क्या जेम्स एंडरसन जितनी उम्र तक खेल पाएंगे ईशांत?

क्या जेम्स एंडरसन जितनी उम्र तक खेल पाएंगे ईशांत?

उनसे जिमी एंडरसन के 38 साल की उम्र में खेलने के बारे में पूछा कि क्या वह उस उम्र तक खेलना जारी रख सकता है, तो वह हंसते है-

"मैं एक समय में एक गेम खेलूंगा। आप कभी नहीं जान पाएंगे कि आगे क्या आता है। हां, मैं अब अपनी रिकवरी के बारे में अधिक पेशेवर हूं। इससे पहले, मैं कड़ी मेहनत करता हूं, लेकिन अपने रिकवरी पर ध्यान केंद्रित नहीं करता। जैसे-जैसे आप बड़े होते जाते हैं, आपको लंबे स्पैल में गेंदबाजी करने के लिए अच्छी तरह से रिकवर होने की जरूरत होती है। "

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Tuesday, February 23, 2021, 8:49 [IST]
Other articles published on Feb 23, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X