IND vs NZ: मांजरेकर ने बताया भारत-न्यूजीलैंड के बॉलिंग अटैक में सबसे बड़ा अन्तर

नई दिल्ली: पहली पारी में अपने पुच्छले बल्लेबाजों के दम पर कीवी टीम ने अपनी बढ़त 183 रनों तक पहुंचा दी जिसके बाद भारतीय टीम पर जब बैटिंग करने उतरी तो उन पर काफी दबाव आ गया।

इस दबाव का असर साफ दिखा जब मयंक को छोड़कर एक बार फिर भारतीय टॉप ऑर्डर फ्लॉप हो गया।

भारतीय बल्लेबाजों पर हावी कीवी गेंदबाज

भारतीय बल्लेबाजों पर हावी कीवी गेंदबाज

पृथ्वी शॉ को ट्रेंट बोल्ट ने चलता कर दिया जिसके बाद न्यूजीलैंड ने मैच पर पकड़ बनाने का रास्ता ढूंढ लिया। कीवियों ने भारतीय मध्यक्रम को लगातार आक्रामक और शार्ट पिच बॉलिंग की जिसके चलते मयंक अग्रवाल जैसा मजबूत दिख रहा बल्लेबाज भी टूट गया लेकिन ये विराट कोहली थे जिनको आउट करके कीवियों ने जैसे ताबूत में आखिरी कील ठोकने का काम किया। बोल्ट ने अराउंड द विकेट आते हुए कोण के साथ गेंद निकाली जिस पर कोहली ने हुक कर दिया लेकिन गेंद बीजे वाटलिंग के हाथों में समा गई और कप्तान की छोटी पारी का अंत हो गया।

IND vs NZ: लक्ष्मण ने बताई कोहली की वो 'गलती' जिससे भारत गंवा सकता है मैच

मांजरेकर ने बताया दोनों टीमों की बॉलिंग में फर्क

मांजरेकर ने बताया दोनों टीमों की बॉलिंग में फर्क

इसी दौरान कमेंट्री कर रहे भारत के पूर्व बल्लेबाज संजय मांजरेकर ने दोनों टीमों के बॉलिंग अटैक के बीच बड़ा फर्क महसूस किया है।

उन्होंने कहा, "ईशांत को खुद ही उनकी लाइन और लेंथ खोजने के लिए छोड़ दिया गया, शमी और बुमराह भी अपने लिए रास्ते ढूंढ रहे थे। जबकि न्यूजीलैंड के लिए यह ज्यादा बेहतर टीमवर्क योजना साबित हुई, सभी गेंदबाजों के साफ यह बाउंसर्स फेंकने का प्लान था। पिच का धीमापन और बाउंस भारतीय बल्लेबाजों के लिए एक समस्या साबित रहा है।"

मैच पर कसा कीवियों का शिकंजा

मैच पर कसा कीवियों का शिकंजा

बता दें कि वेलिंग्टन के बेसिन रिजर्व में जारी भारत बनाम न्यूजीलैंड पहले टेस्ट में मेजबान टीम ने अपनी पकड़ शानदार बना ली है। भारत के पहली पारी में 165 रनों के जवाब में कीवी टीम ने अपनी पारी में ऑल आउट होने से पहले 348 रन बना लिए हैं। जिसके जवाब में भारत ने तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक 4 विकेट के नुकसान पर 144 रन बना लिए हैं। फिलहाल मैच में कीवियों का शिकंजा पूरी तरह से कस चुका है और भारत को यह टेस्ट बचाने के लिये किसी मैराथन प्रयास की सख्त जरूरत है।

भारत को मैराथन प्रयास की जरूरत

भारत को मैराथन प्रयास की जरूरत

जसप्रीत बुमराह ने वेलिंग्टन में भारत बनाम न्यूजीलैंड टेस्ट के तीसरे दिन की शुरुआत धमाकेदार की थी क्योंकि उन्होंने बीजे वाटलिंग जल्द ही आउट कर दिया था। इसके बाद ईशांत शर्मा ने टिम साउदी को वापस भेजा और खेल फिर से बराबरी पर आ गया।

हालांकि उसके बाद न्यूजीलैंड की पुच्छले बल्लेबाजों ने अपना कमाल दिखाया और भारत की हालत खराब होती गई। उन्होंने अंतिम तीन विकेटों के लिए 132 रन जोड़े कीवियों ने 183 रनों की भारी-भरकम बढ़ते के साथ अपनी पारी का समापन किया। यह बढ़त इस मुकाबले में निर्णायक साबित होने जा रही है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Sunday, February 23, 2020, 19:49 [IST]
Other articles published on Feb 23, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X