अगर ICC ने मोटेरा को बताया खराब पिच तो जानें क्या होगा फिर WTC का समीकरण, भारत पर कितना पड़ेगा फर्क

India vs England What Happen If ICC rates Motera Cricket Ground as Bad Pitch How It will affect World Test Championship: नई दिल्ली। भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही टेस्ट सीरीज का तीसरा मैच महज 2 दिन में समाप्त हो जाने के बाद पिच को लेकर शुरू हुआ विवाद खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। इसको लेकर इंग्लैंड के कई पूर्व खिलाड़ी अहमदाबाद की पिच को बैड पिच करार देने की बात कर रहे हैं तो वहीं पर इंग्लैंड के पूर्व स्पिनर मोंटी पनेसर ने कहा है कि अगर चौथे मैच में भी मोटेरा की पिच में बदलाव नहीं होता है और वो स्पिनर्स के लिये इतनी ही प्रभावी रहती है तो आईसीसी को विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप से भारत के अंकों में कटौती करनी चाहिये। उल्लेखनीय है कि अहमदाबाद के मैदान पर खेला गया तीसरा टेस्ट मैच पिंक बॉल से डे-नाइट प्रारूप में खेला गया जहां पर 30 विकेट गिरी जिसमें से 29 विकेट स्पिन गेंदबाजों के खाते में गई।

संन्यास के 2 दिन बाद ही युसूफ पठान-विनय कुमार ने लिया मैदान पर लौटने का फैसला, जानें कहां खेलते आयेंगे नजर

वहीं मैच के बाद यह चर्चा जोरों पर थी कि इंग्लैंड की टीम आईसीसी से भारतीय पिच की शिकायत कर सकती है और ऐसा करने पर बीसीसीआई और भारतीय टीम पर कार्रवाई देखने को मिल सकती है। हालांकि ऐसा कुछ अभी तक हुआ नहीं है और इंग्लैंड के कोच क्रिस सिल्वरवुड ने साफ किया है कि फिलहाल उनकी टीम इस बारे में नहीं सोच रही है बल्कि चौथे मैच में जीत के साथ वापसी करने की ओर ध्यान है। ऐसे में एक नजर आईसीसी के नियमों पर डालते हैं कि अगर ऐसा हुआ तो क्या होगा, टेस्ट चैम्पियनशिप के समीकरण से लेकर भारतीय टीम पर क्या कार्रवाई देखने को मिल सकती है।

Vijay Hazare: नॉकआउट गेम्स के लिये दिल्ली को मिली मेजबानी, 13 महीने में पहली बार होंगे मैच

अगर आईसीसी ने पिच को बताया खराब तो कटेंगे इतने प्वाइंट

अगर आईसीसी ने पिच को बताया खराब तो कटेंगे इतने प्वाइंट

अहमदाबाद की पिच को खराब घोषित करने की मांग की बीच ऐसा होता बड़ा मुश्किल नजर आ रहा है, हालांकि अगर आईसीसी करने के बारे में सोचती है तो भारतीय टीम पर कुछ खास फर्क नहीं पड़ेगा। ईएसपीएन क्रिकइंफो की रिपोर्ट के अनुसार अगर आईसीसी पिच को खराब करार देती है तो इससे मेजबान टीम पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा, हालांकि वेन्यू के खाते में 3 डिमेरिट अंक जोड़ दिये जायेंगे।

विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के नियमों की बात करें तो मैच पूरा होने के बाद अगर पिच में कोई गड़बड़ी या खराबी पायी जाती है तो उस पर कोई कार्रवाई नहीं की जा सकती है, ऐसे में भारतीय टीम का कोई नुकसान होता नजर नहीं आ रहा है।

जानें किस केस में मेजबान को मिलता है दंड

जानें किस केस में मेजबान को मिलता है दंड

आईसीसी विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के नियमों के अनुसार अगर मैच को खराब पिच या परिस्थितियों के चलते बीच में ही रोकना पड़ता है तो मेजबान टीम पर कार्रवाई की जा सकती है और उसके लिये उसे दंडित किया जा सकता है। अगर किसी वजह से पिच और आउटफील्ड को अनफिट करार दिया जाता है तो उस केस में आईसीसी मैच के अंकों का बंटवारा मेजबान और मेहमान की हार-जीत के हिसाब से करती है। इतिहास पर नजर डालें तो मैच को ड्रॉ माना जाता है।

गौरतलब है कि इस केस में तीसरा टेस्ट मैच पूरा हो चुका है और ऐसी स्थिति में किसी भी तरह से भारतीय टीम को पिच के लिए दोषी करार नहीं दिया जा सकता।

फिलहाल ऐसा है विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप का गणित

फिलहाल ऐसा है विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप का गणित

आपको बता दें कि विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में पहुंचने के लिये भारतीय टीम को सीरीज के आखिरी मैच में बस हार को टालना है। इस मैच में अगर भारतीय टीम जीत या ड्रॉ करने में कामयाब रहती है तो वो न्यूजीलैंड के खिलाफ फाइनल खेलती नजर आयेगी। हालांकि तीसरे टेस्ट मैच में हार कर फाइनल की रेस से बाहर हो चुकी इंग्लैंड की टीम अगर भारत को हराने में कामयाब हो जाती है तो ऑस्ट्रेलिया की टीम फाइनल के लिये क्वालिफाई कर जायेगी।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Sunday, February 28, 2021, 21:00 [IST]
Other articles published on Feb 28, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X