IND vs NZ: वेलिंगटन में 100वां टेस्ट खेल टेलर रचेंगे इतिहास, बनेगा वर्ल्ड रिकॉर्ड

नई दिल्ली। भारत और न्यूजीलैंड के बीच हाल ही में समाप्त हुई वनडे सीरीज में जिस खिलाड़ी ने सबसे ज्यादा अंतर पैदा किया वह थे कीवी टीम के सबसे अनुभवी खिलाड़ी रोस टेलर। टी20 सीरीज के दौरान दबाव के चलते वह जिस को करने में नाकाम रहे थे उससे उबरते हुए रोस टेलर ने वनडे में जबरदस्त वापसी की और अपनी टीम को 3-0 से जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई। वनडे सीरीज के बाद रोस टेलर अब टेस्ट सीरीज में भी अपना वही कमाल जारी रखना चाहेंगे।

IND vs NZ: खुल गई भारतीय बल्लेबाजी की पोल, 10 रन के अंदर आउट हुए 8 बल्लेबाज

इस बीच वेलिंगटन के मैदान पर उतरते ही रोस टेलर एक बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम कर लेंगे और ऐसा करने वाले पहले बल्लेबाज बन जायेंगे। भारत और न्यूजीलैंड के बीच पहला टेस्ट मैच 21 फरवरी से वेलिंगटन के मैदान पर खेला जाना है।

IPL 2020: विराट कोहली की टीम आरसीबी ने शेयर किया नया LOGO, फैन्स ने पूछा- क्या बदला

रोस टेलर के नाम दर्ज हो जायेगा खास रिकॉर्ड

रोस टेलर के नाम दर्ज हो जायेगा खास रिकॉर्ड

वेलिंगटन में मैदान पर उतरते ही रोस टेलर अपने करियर के 100 टेस्ट मैच पूरे कर लेंगे। टेलर अब तक 99 टेस्ट मैच खेल चुके हैं। इस टेस्ट मैच में मैदान पर उतरते ही रोस टेलर क्रिकेट के तीनों प्रारूप में मैचों का शतक लगाने वाले पहले खिलाड़ी बन जायेंगे।

अपने करियर का 100वां अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने जा रहे न्यूजीलैंड के अनुभवी बल्लेबाज रॉस टेलर ने कहा है कि उन्हें करियर की पहली टेस्ट सीरीज खेलने के बाद लगा था कि वह कभी भी टेस्ट नहीं खेल पाएंगे।

टेलर ने बताया- पहले टेस्ट के बाद नहीं लगा था खेल पाउंगा

टेलर ने बताया- पहले टेस्ट के बाद नहीं लगा था खेल पाउंगा

रोस टेलर ने साल 2007 में टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू किया और इस मैच की 2 पारियों में वो सिर्फ 15 और 4 रन ही बना पाये थे। अगले मैच में भी वो 17 और 8 रन ही बना पाये थे। अपने करियर के शुरुआती मैचों में फ्लॉप रहने वाले रोस टेलर को लगा था कि वह शायद फिर कभी टेस्ट मैच नहीं खेल पायेंगे।

उन्होंने कहा,'दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट के बाद मुझे लगा कि मैं अब टेस्ट क्रिकेट नहीं खेल पाऊंगा। मैं बहुत खुशनसीब था क्योंकि 2005 में टी-20 क्रिकेट आया और 2006 में मैंने पदार्पण किया। समय के साथ मेरे प्रदर्शन को देखते हुए मेरा चयन टीम में हुआ। करियर में समय बहुत महत्वपूर्ण है।'

हर खिलाड़ी करता है गलती, कोई परफेक्ट नहीं

हर खिलाड़ी करता है गलती, कोई परफेक्ट नहीं

रोस टेलर ने अपने 100वें टेस्ट मैच को लेकर बात की और कहा कि अंतर्राष्ट्रीय खेलों में किसी भी खिलाड़ी का करियर परफेक्ट नहीं होता। कई बार आप नाकामयाब होते हैं। हर खिलाड़ी हमेशा कामयाब नहीं रह सकता।आपको आपकी गलतियां और हालात परिपक्व बनाते हैं।

अपने लिये 100वें टेस्ट की अहमियत को लेकर रोस टेलर ने कहा, 'शायद अब बूढ़ा हो गया हूं, लेकिन अपनी उपलब्धियों से खुश हूं।'

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

 

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Saturday, February 15, 2020, 7:56 [IST]
Other articles published on Feb 15, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X