IPL 2020: आरसीबी के पूर्व कोच ने कोहली पर लगाया बड़ा आरोप, कहा- गलत खिलाड़ियोंं का दिया साथ

नई दिल्ली। आईपीएल 2020 का आगाज होने में अब बस कुछ ही दिन बाकी हैं और सभी टीमों ने अपनी तैयारियों को और बढ़ा दिया है ताकि वह खिताब की रेस में बनी रहें। वहीं इस साल के टीम कॉम्बिनेशन और यूएई की पिच पर पुराने रिकॉर्ड को देखते हुए कई दिग्गज खिलाड़ियों का मानना है कि रॉयल चैलेंजर्स बैंंगलोर की टीम अपना पहला खिताब जीत सकती हैं। वहीं आरसीबी के पुराने कोच रे जेनिंग्स ने एक इंटरव्यू के दौरान आरसीबी के पहले खिताब न जीत पाने का कारण बताते हुए कप्तान विराट कोहली के खराब जजमेंट को दोष दिया है।

IPL 2020: जानें क्या हुआ था जब 6 साल पहले MI से भिड़ी थी CSK की टीम, किसका पलड़ा रहा भारी

जेनिंग्स ने विराट कोहली पर आरोप लगाते हुए कहा कि जब वह टीम का नेतृत्व कर रहे थे तो विराट कोहली उनकी बात सुनने के बजाय गलत खिलाड़ियों को बैक करते थे और यही वजह है कि उनकी टीम अब तक एक बार भी खिताब नहीं जीत सकी है। उनका मानना है कि यही वजह है कि आरसीबी की टीम हर बार दावेदार होने के बावजूद खिताब जीत पाने में नाकाम रही है। भले ही वह आईपीएल में अब तक सफल साबित नहीं हो सके हैं लेकिन बतौर भारतीय कप्तान उन्होंने शानदार काम किया है।

IPL 2020: मुंबई के खिलाफ मैच से पहले CSK ने धोनी, जडेजा समेत कई खिलाड़ियों को दिया अवॉर्ड

जेनिंग्स ने विराट पर लगाया बड़ा आरोप

जेनिंग्स ने विराट पर लगाया बड़ा आरोप

विराट कोहली जब से भारतीय टीम के कप्तान बने हैं तब से टीम इंडिया ने टेस्ट प्रारूप में लगभग 60 फीसदी मैचों में जीत हासिल की है। जेनिंग्स ने विराट कोहली पर हार का आरोप लगाते हुए कहा कि वह हमेशा अपने हिसाब से प्लान बनाते हैं और किसी और की नहीं सुनते हैं। उन्होंने साल 2009 से साल 2014 के बीच आरसीबी के लिये बतौर कोच की भूमिका निभाई थी।

उन्होंने कहा, ' जब मैं टीम में कोच था तो उस दौरान करीब 25-30 खिलाड़ी हुआ करते थे, मेरा काम था कि सभी खिलाड़ियों पर नजर रखना। मैं अलग हालात में गेंदबाजी करने के के लिये किसी और खिलाड़ी का सुझाव देता तो उनके पास पहले से ही अलग प्लान होता था। वह कई बार टीम में सबसे अलग होते हुए गलत खिलाड़ियों को सपोर्ट करते थे।'

कप्तानी में आया है काफी बदलाव

कप्तानी में आया है काफी बदलाव

क्रिकेट डॉटकॉम से बात करते हुए आरसीबी टीम के पूर्व कोच ने बताया कि आखिर क्यों अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के मुकाबले आईपीएल में टीम की कप्तानी करना ज्यादा मुश्किल है।

उन्होंने कहा, 'आईपीएल और अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में काफी चीजें अलग होती हैं। यह ज्यादा मुश्किल है। आपके पास 6 हफ्ते का समय होता है जिसमें कुछ खिलाड़ी फॉर्म में आ सकते हैं तो कुछ अपनी फॉर्म को गंवा सकते हैं। ऐसे में आपके पास कुछ खिलाड़ी ऐसे होने चाहिये जो लगातार परफॉर्म कर सकें। जब मैं कोच था तो मेरा मानना था कि कुछ खिलाड़ियों को थोड़े और मौके मिलने चाहिये जबकि विराट की राय इससे अलग होती थी। हालांकि यह सब पुरानी बात हो गई है। मुझे यह देखकर काफी अच्छा लग रहा है कि वह बतौर कप्तान काफी परिपक्व हो गये हैं।बहुत जल्द वह आईपीएल ट्रॉफी भी जीतना शुरू कर देंगें।'

जल्द लौटेंगे आरसीबी के अच्छे दिन

जल्द लौटेंगे आरसीबी के अच्छे दिन

हालांकि अपनी इस बातचीत के दौरान उन्होंने विराट की तारीफ भी की और कहा कि उनके पास शानदार क्रिकेटिंग ब्रेन है।

उन्होंने कहा, ' इस साल उनके पास शानदार टीम है और बिल्कुल उम्मीद है कि उनकी टीम सेमीफाइनल (प्ले ऑफ) और फाइनल तक का सफर तय कर सकती है। मैं चाहता हूं कि आने वाले दिनों में उनकी टीम को और ज्यादा कामयाबी मिले।'

आपको बता दें कि बतौर कप्तान विराट कोहली ने आईपीएल में अब तक 109 पारियों में 4010 रन बनाये हैं। इस दौरान उनका औसत 44 का रहा है। जबकि उनके बल्ले से 5 शतक निकले हैं।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Thursday, September 17, 2020, 21:00 [IST]
Other articles published on Sep 17, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X