IPL 2020: मुंबई इंडियंस की 4 गलतियां जिनके चलते CSK से हार गई मुकाबला

नई दिल्लीः इंडियन प्रीमियर लीग 2020 की शुरुआती भिड़ंत एमएस धोनी के लिए एकदम सही साबित हुई। चेन्नई सुपर किंग्स ने मुंबई इंडियंस को 5 विकेट से हराया। पिछले साल विश्व कप सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ भारत की हार के बाद धोनी के लिए यह पहला गेम था। CSK ने 4 गेंद शेष रहते जीत दर्ज कर ली हालांकि मैच काफी करीबी था।

अधिकांश खिलाड़ी 6 महीने के ब्रेक के बाद खेल रहे थे और वह देखने को मिल रहा था। गत चैंपियन, मुंबई इंडियंस जीत की तरफ अग्रसर हो सकती थी यदि कुछ पहलू अलग-अलग होते। विशेष रूप से, मुंबई कागज पर सबसे मजबूत पक्षों में से एक है और चेन्नई सुरेश रैना और हरभजन सिंह के बिना खेल रही थी।

1. बीच के ओवरों में आक्रामक बल्लेबाजी की कोशिश-

1. बीच के ओवरों में आक्रामक बल्लेबाजी की कोशिश-

मुंबई इंडियंस अपने द्वारा शुरू की गई ठोस शुरुआत के साथ आगे बढ़ रहे थे। अपनी पारी के दौरान, रन रेट 8 से ऊपर था और वे 180 के आसपास समाप्त होना चाह रहे थे। हालांकि, चेन्नई के स्पिनरों के खिलाफ अधिक आक्रामक रुख के साथ, रोहित शर्मा की अगुवाई वाली टीम ने न केवल अपने विकेटों की झड़ी लगा दी बल्कि अपने मजबूत फिनिशरों को खो दिया।

रोहित शर्मा, सौरभ तिवारी और हार्दिक पांड्या ऐसे ही स्पिनरों पर आउट हुए।

2. जंग लगी फील्डिंग

2. जंग लगी फील्डिंग

दोनों पक्षों के खिलाड़ी लंबे समय के बाद खेल रहे थे। हालांकि, मुंबई की फील्डिंग काफी सुस्त दिख रही थी क्योंकि बहुत सारे मौके चूक गए थे। कई कैच गिराए गए और मिसफिल्ड भी की गई जो खेल को उनसे दूर ले गए।

IPL 2020: खिलाड़ियों की निकली तोंद ने बटोरी पहले मैच में चर्चा , पूर्व हॉकी कप्तान हुए हैरान

एक कैच तो क्रुनाल पांड्या जैसे फिल्डर से भी छूट गया तो वहीं कुछ कैच ऐसे तो जिनको लपकने का प्रयास नहीं किया गया जैसे की सूर्यकुमार यादव के सामने आकर गिरा कैच।

अपने खिताब को बरकरार रखने के लिए, मुंबई को अपनी फील्डिंग में सुधार करने की आवश्यकता है।

3. शानदार गेंदबाजी के बाद मौका गंवा दिया-

3. शानदार गेंदबाजी के बाद मौका गंवा दिया-

बोर्ड में एक औसत टारगेट लगाने के बाद भी, मुंबई इंडियंस गेंद के साथ खेल की सही शुरुआत के साथ काफी हद तक खेल में थी। उनकी नई भर्तियों में ट्रेंट बोल्ट और जेम्स पैटिनसन ने पहले दो ओवरों में दो बड़े विकेट लिए और दोनों सलामी बल्लेबाजों को आउट किया।

हालांकि, मुंबई इंडियंस ने सुनहरे अवसर को भुनाने के लिए अंबाती रायुडू और फाफ डु प्लेसिस को शतकीय साझेदारी विकसित करने की अनुमति दे दी। जसप्रीत बुमराह जैसा गेंदबाज पूरी तरह फ्लॉप साबित हुआ जिसका खासकर खामियाजा मुंबई को भुगतना पड़ा।

4. परिस्थियों को नहीं भांप सके बड़े नाम वाले खिलाड़ी-

4. परिस्थियों को नहीं भांप सके बड़े नाम वाले खिलाड़ी-

मुंबई की सबसे बड़ी ताकत उसके बड़े नाम हैं जिनकी इस टीम में भरमार हैं। ये लोग चले तो विपक्षी टीम को मुश्किल होती हैं तो वहीं दूसरी बात यह है कि इस टीम में धोनी, फाफ डु प्लेसिस, विराट कोहली जैसे एंकर और तूफानी बल्लेबाजी के मिश्रण वाले अनुभवी खिलाड़ी की कमी है।

रोहित शर्मा, हार्दिक पांड्या और पोलार्ड को बैटिंग में बखूबी शुरुआत मिली लेकिन वे इसको कैश नहीं कर सके। गेंदबाजी में जसप्रीत बुमराह ने शुरुआती चार गेंदों में कमाल किए लेकिन बाद में नो-बॉल के बाद छक्का पड़वाकर अपनी लय खो बैठे।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Sunday, September 20, 2020, 15:51 [IST]
Other articles published on Sep 20, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X