LPL 2020: गॉल ग्लैडिएटर्स पहुंचा फाइनल में, रोमांचक मैच में कोलंबो को दी मात

नई दिल्ली। श्रीलंका प्रीमियर लीग (LPL) अंतिम दाैर पर आ चुका है। कोलंबो किंग्स और गॉल ग्लेडिएटर्स के बीच पहले सेमीफाइनल में, गॉल ग्लेडियेटर्स ने कोलंबो किंग्स को दो विकेट से हराकर फाइनल में प्रवेश किया। ग्लेडिएटर्स की जीत के नायक युवा ऑलराउंडर धनंजय लक्षण थे। जिम्मेदारी से खेलते हुए, उन्होंने 23 गेंदों पर नाबाद 31 रन बनाए।

यह मैच हंबनटोटा के महिंदा राजपक्षे स्टेडियम में खेला गया और गॉल ग्लैडिएटर्स ने टॉस जीता और पहले फील्डिंग करने का फैसला लिया। ग्लेडिएटर्स के गेंदबाजों ने कोलंबो के बल्लेबाजों को खुलकर खेलने का मौका नहीं दिया। कोलंबो से तीसरे स्थान पर आए डैनियल बेल-ड्रमंड, ने 53 गेंदों पर 70 रन बनाए। नौवें नंबर पर बल्लेबाजी कर रहे इसुरु उदाना ने 19 रन बनाकर कोलंबो को 150 रन तक पहुंचाया। ग्लेडियेटर्स की ओर से, लखन संदाकन ने तीन विकेट लिए, जबकि नुवान तुशारा और धनंजय लखन ने दो-दो विकेट हासिल किए।

Flashback 2020 : टाॅप-3 भारतीय बल्लेबाज, जिन्होंने T-20 में लगाए सबसे ज्यादा छक्केFlashback 2020 : टाॅप-3 भारतीय बल्लेबाज, जिन्होंने T-20 में लगाए सबसे ज्यादा छक्के

ग्लेडियेटर्स की खराब शुरुआत

ग्लेडियेटर्स की खराब शुरुआत

ग्लेडियेटर्स ने कोलंबो की 151 रन की चुनौती के लिए निराशाजनक शुरुआत की। टूर्नामेंट में सबसे अधिक रन बनाने वाले धनुष्का गुणातिलका 11 रन पर आउट हो गए। उसके बाद आए एहसान अली भी कद्दू नहीं तोड़ सके। विकेटकीपर-बल्लेबाज आजम खान और सलामी बल्लेबाज भानुका राजपक्षे ने चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए, चौकों और छक्कों की मदद से पारी की शुरुआत की। दोनों ने ग्लैडिएटर्स की बढ़त लेने के लिए तीसरे विकेट के लिए 22 गेंदों पर 40 रन बनाए। 13 गेंदों में 22 रन बनाने के बाद, आजम के आउट होने के बाद भी, कप्तान राजपक्षे ने कुछ अच्छे शॉट खेले। आशान प्रियरंजन, जो अपना दूसरा ओवर करने आए थे, ने राजपक्षे को चकमा दिया और कोलंबो को वापसी दिलाई। इसके बाद, टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन करने वाले अफगानिस्तान के स्पिनर कैस अहमद ने ग्लैडिएटर्स के रन को धीमा कर दिया। उन्हें अनुभवी ईसरु उडाना का अच्छा समर्थन प्राप्त था। हालांकि, मोहम्मद आमिर और धनंजय लखन ने मैच में रंग लाने के लिए छक्के और चौके लगाए।

दो ओवर में रोमांच अपने चरम पर पहुंच गया

दो ओवर में रोमांच अपने चरम पर पहुंच गया

ग्लेडिएटर्स को जीत के लिए आखिरी दो ओवरों में 17 रनों की जरूरत थी। कोलंबो टीम के इसुरु उदाना गेंदबाजी के लिए तैयार थे। हालांकि, चोट के कारण वह कुछ समय के लिए बाहर थे, पंच कुमार धर्मसेना ने उन्हें गेंदबाजी करने से मना किया। ऐसे में युवा ऑलराउंडर तक्षशिला डीसिल्वा की मदद के लिए दौड़ पड़े। उन्होंने टूर्नामेंट के अपने पहले और सबसे महत्वपूर्ण ओवर में सिर्फ दो रन देकर एक विकेट लिया। अंतिम ओवर में, इसुरु उदाना, जो अनुभवी थे लेकिन चोटिल थे, गेंदबाजी करने आए। पहली दो गेंदों पर दो रन बनाने के बाद, धनंजय लक्ष्मण ने छक्के मारकर मैच का उत्साह बढ़ाया। पांचवीं गेंद पर, लखन ने पहली गेंद का सामना किया और चौका लगाकर ग्लेडियेटर्स को फाइनल में जगह दी।

खराब फील्डिंग और चोट के कारण कोलंबो हार गया

खराब फील्डिंग और चोट के कारण कोलंबो हार गया

मैच में चार कोलंबो किंग्स खिलाड़ी घायल हो गए। टीम के कप्तान एंजेलो मैथ्यूज आठवें ओवर में चोटिल हो गए, जबकि इसुरु उड़ाना और कैस अहमद ने पूरे मैच में चोटिल होने के बावजूद गेंदबाजी की। ऑलराउंडर आंद्रे रसेल बल्लेबाजी के बाद मैदान पर नहीं लौटे। कैस अहमद ने अंतिम दो ओवरों में दो आसान कैच गिराकर ग्लेडियेटर्स को फाइनल में पहुंचने में मदद की।

आज दांबुला वाइकिंग्स और जाफना स्टालियंस के बीच दूसरा सेमीफाइनल मैच होगा। गॉल ग्लैडिएटर्स फाइनल में उस मैच के विजेता के साथ दो हाथ करेंगे। टूर्नामेंट का फाइनल 16 दिसंबर को खेला जाएगा।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Monday, December 14, 2020, 6:47 [IST]
Other articles published on Dec 14, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X