जसप्रीत बुमराह और बोल्ट में बेहतर कौन? इस बार फंस गए माइकल वॉन, फिर भी दिया ये जवाब

नई दिल्लीः कुछ सप्ताह पहले की बात है जसप्रीत बुमराह और ट्रेंट बोल्ट जैसे दिग्गज तेज गेंदबाज एक ही टीम की ओर से खेल रहे थे। यह मौका था इंडियन प्रीमियर लीग में मुंबई इंडियंस की ओर से खेलने का, जो अब कोरोनावायरस की सेंधमारी के कारण स्थगित हो चुकी है। लीग का बाकी बचा हुआ हिस्सा संयुक्त अरब अमीरात में खेला जाएगा लेकिन क्या बुमराह और बोल्ट तब भी मुंबई इंडियंस की टीम में एक साथ दिखाई देंगे? इस बारे में अभी कुछ नहीं कहा जा सकता। बुमराह का खेलना तो स्पष्ट है लेकिन बोल्ट के खेलने पर अभी दावा नहीं किया जा सकता। यह यह दोनों खिलाड़ी दोस्त बन चुके हैं लेकिन 18 जून को वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल मुकाबले में कट्टर प्रतिद्वंदी के तौर पर आमने-सामने होंगे।

सीधा जवाब देने वाले वॉन से है इस बार ये सवाल-

सीधा जवाब देने वाले वॉन से है इस बार ये सवाल-

बुमराह दाएं हाथ के शानदार तेज गेंदबाज है और बोल्ट बाएं हाथ के बेहतरीन स्विंग बॉलर हैं जो कि इंग्लैंड की जमीन पर विकेटों के मूवमेंट को हासिल करने की ओर देख रहे होंगे। दोनों ही खिलाड़ी अपनी-अपनी टीमों के पेस अटैक का नेतृत्व भी करते हैं और इनका प्रदर्शन यह तय करेगा कि विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में किस टीम को गौरवान्वित होने का मौका मिलता है। बुमराह और बोल्ट के तौर पर हमारे सामने आज आधुनिक समय के 2 बेहतरीन गेंदबाज हैं और इन दोनों के आमने-सामने होने पर दिलचस्प प्रतिद्वंदिता देखने को मिलेगी। वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप पर इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन काफी बातें कर रहे हैं और वे अक्सर जल्दबाजी में अपनी राय देने के लिए जाने जाते हैं। यह माइकल वॉन की जल्दबाजी ही है जिसके चलते क्रिकेट में फैंस उनकी इज्जत कम और लताड़ ज्यादा लगाते हैं। हालांकि यह खिलाड़ी क्रिकेट की गहरी समझ भी रखता है लेकिन शायद मस्ती मैं कई बार जानबूझ कर भी इस तरह की राय देते हैं कि लोगों की उत्सुकता उनके व्यक्तित्व को लेकर बनी रहे।

जय शाह ने दिया बयान, भारत में मानसून के कारण IPL 2021 को UAE में शिफ्ट किया गया

'बुमराह या फिर बोल्ट........मैं तय नहीं कर सकता'

'बुमराह या फिर बोल्ट........मैं तय नहीं कर सकता'

ऐसे में जब उनसे यह पूछा गया कि आप बुमराह और बोल्ट के बीच में से किस को बेहतर मानते हैं तो वॉन ने ऐसा जवाब दिया कि जो उनकी पर्सनालिटी से अधिक मैच नहीं खाता है। वे आमतौर पर इस तरह के सवालों के जवाब देने की जल्दी में रहते हैं लेकिन ऐसा लगता है उन्होंने इस दफा सेफ गेम खेला है। वॉन ने स्पार्क सपोर्ट के साथ बातचीत करते हुए बताया, "बुमराह या फिर बोल्ट........मैं तय नहीं कर सकता। मैं शायद पहली बार ऐसा कह रहा हूं। मैं कहूंगा कि बोल्ट थोड़े बेहतर हैं क्योंकि वह क्रिकेट अधिक लंबे समय से खेल रहे हैं लेकिन बुमराह भी अविश्वसनीय खिलाड़ी हैं और उनके पास जबरदस्त कौशल है। उन्होंने इंग्लैंड में कुछ साल पहले बहुत ही शानदार गेंदबाजी की थी। इसलिए मुझे लगता है कि यह नजदीकी टक्कर है।"

कुछ सप्ताह पहले ही माइकल वॉन ने बुमराह और बोल्ट के साथ-साथ विराट कोहली और केन विलियमसन को लेकर भी अपनी राय जाहिर की थी। पूर्व कप्तान ने दावा किया था कि केन विलियमसन उतने ही अच्छे बल्लेबाज हैं जितने कि विराट कोहली है लेकिन कोहली को भारतीय होने के कारण आज की पीढ़ी का महानतम बल्लेबाज समझा जाता है क्योंकि सोशल मीडिया पर उनकी लोकप्रियता बहुत ज्यादा है।

कोहली बनाम विलियमसन को लेकर कही थी बेबाक बात-

कोहली बनाम विलियमसन को लेकर कही थी बेबाक बात-

वॉन ने कहा था अगर केन विलियमसन की स्थिति भी ऐसी ही होती और वे भारत की ओर से खेलते तो लोग विराट कोहली की जगह विलियमसन को आज की पीढ़ी का बेस्ट बल्लेबाज घोषित कर देते। हालांकि उन्होंने बुमराह और बोल्ट की टक्कर पर एक डिप्लोमेटिक जवाब दिया है जिसमें ना कोई हारा ना कोई जीता।

वर्ल्ड चेस चैंपियनशिप साउथेंप्टन के एजेस बावल में होगी। 18 जून से शुरू होने जा रहे इस मुकाबले में न्यूजीलैंड की टीम भारत की तुलना में काफी पहले इंग्लिश परिस्थितियों के माकूल ढल चुकी होंगी क्योंकि उनको जून के पहले सप्ताह से इंग्लैंड के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज खेलनी है। परिस्थितियों में ढलने के अलावा सबसे महत्वपूर्ण बात यह होगी कि न्यूजीलैंड के पास अपने बेस्ट 11 को पहचानने का भी भरपूर मौका मिल जाएगा। जबकि दूसरी ओर भारतीय टीम को ऐसी कोई भी मौका नहीं मिलने जा रहा है क्योंकि वह 2 जून को इंग्लैंड की यात्रा करेंगे और फिर 10 दिन का क्वारंटाइन पीरियड इंग्लैंड पहुंचने के बाद पूरा करेंगे जिसका मतलब यह होगा कि ऐतिहासिक फाइनल मुकाबला खेलने से पहले विराट कोहली एंड कंपनी के पास अधिक समय नहीं होगा। हालांकि भारतीय क्रिकेट टीम मुश्किल परिस्थितियों में नतीजे देने के लिए भी जानी जाने लगी है और हम ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर ऐसा देख चुके हैं। इस बात में कोई शक नहीं है कि कीवी टीम भी इस तथ्य से वाकिफ होगी और भारत को किसी भी कीमत पर हल्के में लेने की भूल नहीं करेगी।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Sunday, May 30, 2021, 17:12 [IST]
Other articles published on May 30, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X