'चैम्पियन्स ट्रॉफी 2017 में रेड अलर्ट पर था इंग्लैंड', पाकिस्तान दौरा कैंसिल करने पर हाफिज ने याद दिलाये एहसान

नई दिल्ली। पाकिस्तान क्रिकेट टीम के हरफनमौला खिलाड़ी मोहम्मद हाफिज ने न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड और इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड के हालिया दौरे को कैंसिल करने के फैसले को लेकर निशाना साधा है। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के लिये पिछले कुछ दिन काफी मुश्किल तरीके से गुजरे हैं, जहां पर पीसीबी अपनी सरजमीं पर अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी कराने के लिये न्यूजीलैंड और इंग्लैंड की मेजबानी करने को तैयार था लेकिन सुरक्षा के खतरे का हवाला देते हुए जिस तरह से दोनों टीमों ने कैंसिल करने का फैसला किया उससे पाकिस्तान क्रिकेट को बड़ा झटका लगा है। जहां न्यूजीलैंड क्रिकेट ने पहले वनडे मैच के शुरू होने से कुछ देर पहले सीरीज न खेलने का फैसला किया वहीं पर इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने इस फैसले के 48 घंटे बाद अपनी टीमों को न भेजने का फैसला किया।

और पढ़ें: जानें कितनी तेज है आईपीएल 2021 में फेंकी गई सबसे फास्ट गेंदे, टॉप 10 में है इस गेंदबाज का दबदबा

इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड की ओर से उसकी महिला और पुरुष टीमें अक्टूबर में सीमित ओवर्स की सीरीज खेलने जाने वाली थी लेकिन ईसीबी ने दौरा रद्द कर दिया। ईसीबी ने दौरा न करने के पीछे खिलाड़ियों को बायोबबल से होने वाली मानसिक परेशानी को कारण बताया। लगातार दो अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट टीमों के सीरीज कैंसिल करने से पीसीबी को भारी नुकसान उठाना पड़ा है।

और पढ़ें: भुवनेश्वर में खेला जायेगा हॉकी का जूनियर विश्वकप, जारी हुआ शेड्यूल, जानें कब होंगे मैच

कई चुनौतियों के बावजूद पाकिस्तान ने कभी नहीं किया खेलने से इंकार

कई चुनौतियों के बावजूद पाकिस्तान ने कभी नहीं किया खेलने से इंकार

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के सीनियर बल्लेबाज मोहम्मद हाफिज ने इसको लेकर कहा कि हमारी टीम ने कई चुनौतियों के बावजूद दौरे किये और परिस्थितियां कठिन होने के बावजूद श्रृंखला को खत्म करने की अपनी प्रतिबद्धता को पूरा किया। इस दौरान मोहम्मद हाफिज ने यह भी कहा कि वो समझते हैं कि न्यूजीलैंड ने बिना किसी कारण के दौरा रद्द नहीं किया है।

उल्लेखनीय है कि न्यूजीलैंड क्रिकेट बोर्ड की ओर से जारी की गई जानकारी के अनुसार उनके इंटेलिजेंस विभाग को पाकिस्तान में आतंकी हमले की धमकी मिली थी जिसके चलते उन्होंने न्यूजीलैंड सरकार को दौरे से वापस आने की सलाह दी थी। वहीं बाद में सामने आई रिपोर्ट के अनुसार न्यूजीलैंड की महिला क्रिकेट टीम को मैच न खेलने के लिये कहा गया था और साफ किया था कि अगर उनकी टीम खेलने उतरेगी तो उस पर आतंकी हमला हो सकता है।

बिना वजह न्यूजीलैंड ने नहीं किया दौरा रद्द, पर हम पर भरोसा करना चाहिये था

बिना वजह न्यूजीलैंड ने नहीं किया दौरा रद्द, पर हम पर भरोसा करना चाहिये था

हाफिज ने कहा,'देखिये, मैं यह नहीं कहूंगा कि न्यूजीलैंड ने बिना किसी वजह के दौरा रद्द कर दिया। मैं अपने देश के लिये कई ऐसे दौरों पर गया हूं जहां पर हमें बहुत सारी चुनौतियों का सामना करना पड़ा है, लेकिन इसके बावजूद हमने दौरे को पूरा किया। अगर आप किसी टीम को खेलने के लिये बुलाते हैं, जहां पर वो 14 दिन के मुश्किल क्वारंटीन से गुजरने के बावजूद क्रिकेट खेलना मंजूर करते हैं क्योंकि उन्हें इस खेल से प्यार है और वो इसे जारी रखना चाहते हैं।'

चैम्पियन्स ट्रॉफी में रेड अलर्ट पर था इंग्लैंड

चैम्पियन्स ट्रॉफी में रेड अलर्ट पर था इंग्लैंड

एआरवाई न्यूज के साथ बात करते हुए मोहम्मद हाफिज ने आगे बात करते हुए इंग्लैंड में आयोजित हुई आईसीसी चैम्पियन्स ट्रॉफी 2017 से कुछ समय पहले हुई घटना पर ध्यान दिलाया। इस वैश्विक टूर्नामेंट से पहले लंदन में आतंकी हमला हुआ था जिसके बाद दुनिया भर में दहशत का माहौल था लेकिन इसके बावजूद किसी टीम ने टूर्नामेंट से नाम वापस नहीं लिया और पाकिस्तान ने भारत को हराकर यह टूर्नामेंट जीता।

उन्होंने कहा,'हमने हमेशा बड़ा दिल दिखाया है लेकिन न्यूजीलैंड का सीरीज न खेलने का फैसला पाकिस्तान के फैन्स और हम सभी खिलाड़ियों के लिये दुखदायक रहा है। जब इंग्लैंड में 2017 की चैम्पियन्स ट्रॉफी का आयोजन किया गया था तो उस वक्त रेड अलर्ट जारी था लेकिन इसके बावजूद हमने खेल को आगे बढ़ाने का फैसला करते हुए भाग लिया। हालांकि न्यूजीलैंड सरकार का पाकिस्तान इंटेलिजेंस पर भरोसा न करने काफी अफसोस जनक फैसला रहा है।'

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Thursday, September 23, 2021, 21:10 [IST]
Other articles published on Sep 23, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X