मोहम्मद सिराज का खुलासा, नस्लीय टिप्पणी के बाद अंपायर ने दिया था मैदान छोड़ने का विकल्प

Mohammed Siraj for the first time opens up on facing racial abuse in Australia| वनइंडिया हिंदी

Mohammed Siraj reveals Umpire had given us option to Walk away after racial abuse incident know What Ajinkya rahane said to that: नई दिल्ली। भारत और ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) के बीच हाल ही में समाप्त हुए बॉर्डर-गावस्कर टेस्ट सीरीज (Border Gavaskar Test Series) में सबसे कामयाब भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj) गुरुवार को स्वदेश लौट आये हैं। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज के शुरू होने से कुछ वक्त पहले अपने पिता को खो देने वाले इस गेंदबाज ने भारत पहुंचते ही सबसे पहले अपने पिता कीकब्र का रुख किया और वहां पहुंच कर उन्हें अपनी श्रद्धांजलि दी। सिराज (Mohammed Siraj) पिता के निधन के बाद देश सेवा के लिये टीम के साथ ही जुड़े रहे थे और वापस भारत नहीं लौटे थे।

इस दौरान उन्होंने बॉर्डर-गावस्कर टेस्ट सीरीज (Border Gavaskar Test Series) के दूसरे टेस्ट मैच में मोहम्मद शमी (Mohamamd Shami) के चोटिल होने के बाद डेब्यू किया और सीरीज के अंत में अपना पहला 5 विकेट हॉल हासिल करते हुए भारत के लिये डेब्यू सीरीज में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले तेज गेंदबाज बने।

अब इस आसान तरीके से घर बैठे कमा सकते हैं अरबों रुपये

इस दौरान मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj) को जहां पिता के निधन का गम था तो वहीं पर उन्हें ऑस्ट्रेलियाई फैन्स की ओर से नस्लीय टिप्पणियों का भी सामना करना पड़ा। वहीं पिता को श्रद्धांजलि देने के बाद सिराज (Mohammed Siraj) ने खुलासा करते हुए बताया कि सिडनी के मैदान पर जब फैन्स उनके ऊपर नस्लीय टिप्पणी कर रहे थे तो अंपायर ने उन्हें मैदान छोड़कर बाहर जाने का विकल्प दिया था लेकिन कप्तान रहाणे की वजह से टीम ने खेलते रहने का फैसला किया।

उन्होंने कहा,' नस्लीय टिप्पणी मामले पर अभी केस चल रहा है और यह वक्त ही बतायेगा कि हमें न्याय मिलता है या नहीं। हालांकि सिडनी में हुए उस वाकये पर अंपायर ने हमें मैदान छोड़कर जाने का विकल्प दिया था कि आप चाहें तो खेल छोड़कर जा सकते हैं लेकिन कप्तान अजिंक्य रहाणे ने कहा कि हम यहां पर खेलने आये हैं और हम खेलकर ही जायेंगे। हम खेल का सम्मान करते हैं भले ही कुछ लोग इसका मतलब न समझते हों पर एक टीम के तौर पर हम इसका सम्मान करेंगे और खेल छोड़कर नहीं जायेंगे।'

IND vs ENG: भारत के खिलाफ पूरी ताकत से उतरेगी इंग्लैंड, वापस लौटे आर्चर-स्टोक्स, देखें कैसी है टीम

गौरतलब है कि मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj) के पिता मोहम्मद गौस का निधन 20 दिसंबर को हुआ था जिसके बाद उन्होंने टीम के साथ ही जुड़े रहने का फैसला किया था। इस बारे में बात करते हुए सिराज (Mohammed Siraj) ने कहा कि इस मुश्किल दौरे में उनके परिवार और उनकी मंगेतर ने उनका काफी साथ दिया।

उन्होंने कहा,'मेरे पिता के निधन की खबर सुनने के बाद मेरे लिये चीजें काफी मुश्किल हो गई थी। जब मैने घर पर बात की अम्मी ने कहा कि पिता का सपना पूरा करके आओ, तो वहीं पर मेरी मंगेतर ने भी मुझे प्रेरित करने में काफी योगदान दिया। उन्होंने मुझे मुश्किल समय में संभाला और मेरी टीम ने भी बहुत साथ दिया।'

आपको बता दें कि मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj) ने इस सीरीज के दौरान 3 टेस्ट मैचों में 13 विकेट हासिल किये। इस बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि मैं ज्यादा विकेट के बारे में नहीं सोच रहा था, काफी खिलाड़ियों के चोटिल होने की वजह से बस जिम्मेदारी का अहसास किया और खुद पर विश्वास जताया।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

 

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Thursday, January 21, 2021, 21:25 [IST]
Other articles published on Jan 21, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X