पाकिस्तान के हरफनमौला खिलाड़ी ने लिया संन्यास, ऐसा रहा कप्तानी का रिकाॅर्ड

कराची : पाकिस्तान के हरफनमौला ऑलराउंडर मोहम्मद हफीज ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी है। उन्होंने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान अपने फैसले की घोषणा की। 41 साल के हफीज के लिए ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 वर्ल्ड कप का सेमीफाइनल उनके करियर का आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच रहा। हालांकि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद वह फ्रेंचाइजी क्रिकेट खेलते नजर आएंगे। लेकिन खुद हफीज ने अभी तक कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की है।

यह भी पढ़ें-O OMG : दुनिया का इकलाैता गेंदबाज, जिसने एक टेस्ट की दोनों पारियों में ली हैट्रिक

टी20 विश्व कप में खेला था आखिरी मैच

टी20 विश्व कप में खेला था आखिरी मैच

हफीज ने पाकिस्तान के लिए 18 साल तक योगदान दिया। 2003 में जिम्बाब्वे के खिलाफ वनडे मैच में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू करने वाले हफीज ने 2021 में टी20 विश्व कप के दौरान देश के लिए अपना आखिरी मैच खेला था, जहां पाकिस्तान सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया से हार गया था। हफीज ने पाकिस्तान के लिए 55 टेस्ट में 37.64 की औसत से 3652 रन बनाए, 218 वनडे में 32.90 की औसत से 6614 और पाकिस्तान के लिए 119 टी20 मैचों में 26.46 की औसत से 2514 रन बनाए, जबकि गेंदबाजी में भी कमाल दिया। ऑफ स्पिन करते हुए हफीज ने टेस्ट में 53, वनडे में 139 और टी20 में 61 विकेट लिए।

कर चुके हैं कप्तानी

कर चुके हैं कप्तानी

उन्होंने संयुक्त अरब अमीरात में न्यूजीलैंड सीरीज के दौरान 2018 में टेस्ट से संन्यास ले लिया था। हालांकि हफीज सीमित ओवरों के प्रारूप में खेलते रहे, लेकिन इंग्लैंड में 2019 वनडे विश्व कप के खत्म होने के बाद वह वनडे मैचों से चयनकर्ताओं के रडार पर आ गए। उन्होंने 2020 टी20 विश्व कप के बाद सभी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से बाहर होने की इच्छा व्यक्त की थी, लेकिन कोविड -19 ने टूर्नामेंट को अगले वर्ष में धकेल दिया था। हफीज 2009 में पाकिस्तान टी20 विश्व कप टीम बार एक का हिस्सा रहे हैं, जिसे टीम ने जीता था। उन्होंने 2012 टी20 विश्व कप में भी टीम की कप्तानी की थी, जिसमें पाकिस्तान सेमीफाइनल में पहुंचकर श्रीलंका से हार गया था। फिर 2014 टी20 विश्व कप में भी उन्होंने कप्तानी संभाली थी, जिसमें पाकिस्तान को ग्रुप-स्टेज से बाहर होना पड़ा था।

ऐसा रहा है कप्तानी का रिकाॅर्ड

ऐसा रहा है कप्तानी का रिकाॅर्ड

हफीज ने 2017 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दो वनडे मैचों में पाकिस्तान के लिए कप्तानी की थी, जिसमें एक में जीत और एक हार मिली थी। जबकि उनकी टी20आई कप्तानी का रिकॉर्ड 29 मैचों में 18 जीत और 11 हार का रहा। कप्तान के रूप में उनका एकमात्र टेस्ट 2012 में श्रीलंका के खिलाफ गाले इंटरनेशनल स्टेडियम में था, जिसमें पाकिस्तान 209 रन से हार गया था। 41 वर्षीय फहीज ने लीग के आगामी संस्करण के लिए पाकिस्तान सुपर लीग फ्रेंचाइजी लाहौर कलंदर्स के साथ अनुबंध किया है और उनके लिए उपलब्ध रहेंगे। वह आखिरी बार श्रीलंका में हाल ही में समाप्त हुए लंका प्रीमियर लीग के दूसरे संस्करण में गाले ग्लेडियेटर्स के साथ सक्रिय थे, जहां उन्होंने आठ पारियों में 89 रन बनाए और पांच विकेट लिए। रोचक बात यह है कि मोहम्मद हफीज ने अपने करियर में 32 प्लेयर ऑफ दी मैच जीते हैं। इस मामले में पाकिस्तान खिलाड़ियों में उनसे आगे शाहिद अफरीदी (43), वसीम अकरम (39) और इंजमाम उल हक (33) ही हैं। इसके अलावा हफीज 9 बार प्लेयर ऑफ दी सीरीज अवार्ड जीता है और पाकिस्तान की तरफ से संयुक्त रूप से इमरान खान, इंजमाम और वकार यूनुस के साथ टॉप पर रहे हैं।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Monday, January 3, 2022, 11:48 [IST]
Other articles published on Jan 3, 2022
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X