ऑस्ट्रेलिया के धमाकेदार दौरे के बाद धोनी और साक्षी के साथ समय बिता रहे हैं ऋषभ पंत

Rishabh Pant meets MS Dhoni after landing in India, Sakshi shares Pic on Instagram |वनइंडिया हिन्दी

नई दिल्लीः ऋषभ पंत ऑस्ट्रेलिया के सफल दौरे से लौटने के बाद इन दिनों धोनी के साथ समय का लुत्फ उठा रहे हैं, उन्होंने पिछले हफ्ते ब्रिस्बेन टेस्ट में टीम इंडिया को एक शानदार जीत दिलाई थी।

पंत भारत के पूर्व कप्तान एमएस धोनी और उनकी पत्नी साक्षी के साथ उनके दोस्तों के साथ वीडियो कॉल पर व्यस्त दिखे।

साक्षी ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर धोनी और पंत के साथ एक तस्वीर पोस्ट की। तस्वीर में भारत के पूर्व दिग्गज को हरे रंग की पार्टी की टोपी पहने देखा जा सकता है।

साक्षी ने पंत और धोनी के साथ फोटो पोस्ट की-

साक्षी ने पंत और धोनी के साथ फोटो पोस्ट की-

पंत पिछले साल आईपीएल में अपने विकेटकीपिंग फॉर्म और फिटनेस के मुद्दों के लिए फ्लिक का सामना करने के कुछ महीने बाद ही राष्ट्र के प्रिय बन गए थे।

विकेटकीपर बल्लेबाज ने भारत के लिए सबसे ज्यादा रन इस बॉर्डर-गावस्कर सीरीज बनाए। उन्होंने 68 के औसत से 274 रन बनाए। उन्होंने सिडनी और ब्रिसबेन में अंतिम दो टेस्ट मैचों में अर्धशतक जड़े।

ये उनकी नाबाद 89 रन की पारी थी जिसे लंबे समय तक पूरी क्रिकेट बिरादरी याद रखेगी। 23 वर्षीय ने चौथे टेस्ट में न केवल भारत को 3 विकेट से जीत दिलाई बल्कि भारत के दौरे के अंतिम दिन भी श्रृंखला जीत हासिल की।

खेलते हुए पंत की मानसिकता बनाती है उनको अलग-

खेलते हुए पंत की मानसिकता बनाती है उनको अलग-

पंत, शुभमन गिल (91) और चेतेश्वर पुजारा (56) की शतकीय पारी की बदौलत ऑस्ट्रेलिया ने 32 साल में गाबा में पहली बार हराकर ब्रिस्बेन टेस्ट के 5 वें दिन 328 रन बनाए। और ऑस्ट्रेलिया में दो साल में दूसरी बार बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी को बरकरार रखा।

पंत को ODI और T20 में वापस लेने के लिए इन दो खिलाड़ियों को बाहर करें भारत- ब्रेड हॉग

पंत ने इंडिया टुडे के साथ घर पर वापसी के बाद ऐतिहासिक टेस्ट जीत के बारे में बात की और उन भावनाओं पर भी खुल कर बात की, जो वह अपनी मैच जिताऊ पारी के दौरान महसूस कर रहे थे।

"मानसिकता हमेशा सामान्य क्रिकेट खेलने की थी, यहां तक ​​कि टीम प्रबंधन ने भी पहली पारी में इसके बारे में बात की थी। केवल रन बनाने के लिए देखें, ढीली गेंदों पर मारे, बस वहां से चिपके रहें और उस समय आप जो कुछ भी कर सकते हैं करते रहें।

मैं ड्रा नहीं जीत के लिए खेलता हूं- पंत

मैं ड्रा नहीं जीत के लिए खेलता हूं- पंत

पंत ने स्पोर्ट्स पर कहा, "मैच की शुरुआत से टीम प्रबंधन की योजना 'मैच जीतने के लिए चलने' की थी। यहां तक ​​कि मेरी सोच हमेशा जीतने की रही है। मैं हर खेल जीतना चाहता हूं, ड्रा हमेशा बीच का विकल्प होता है।"

टीम इंडिया सिडनी में मैच जीत सकती थी लेकिन पंत अंतिम दिन 97 रन पर आउट हो गए थे।

तब भारत तीसरे टेस्ट में जीत के लिए 407 रन बना रहा था और यह पंत की वीरता थी कि भारत को उसकी नजर में एक अप्रत्याशित जीत आई लेकिन पंत के आउट ने उनकी उम्मीदों को खत्म कर दिया और श्रृंखला को बचाए रखने के लिए उन्हें ड्रा के लिए जाना पड़ा।

पंत ने कहा, "मैं शतक से चूक गया लेकिन मुझे एक और बात का अहसास हुआ। अगर मैं आधा घंटा या एक घंटा अधिक खेल सकता था, तो हम मैच जीत सकते थे, यह एक संभावना थी।"

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Wednesday, January 27, 2021, 8:57 [IST]
Other articles published on Jan 27, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X