सहवाग से भी आक्रामक और तूफानी पारी, Marco Marais ने 191 गेंदों में ठोका नाबाद तिहरा शतक

Written By: Mohit

नई दिल्लीः भारत के पूर्व सलामी विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग को उनकी शानदार बल्लेबाज के लिए जाना जाता है। टेस्ट क्रिकेट में वनडे के अंदाज में खेलने वाले सहवाग को उनकी पारियों के लिए याद किया जाता है। सहवाग के अंदाज में एक तिहरा शतक देखने को मिला। दक्षिण अफ्रीका के 24 साल के मार्को मरैस (Marco Marais) ने 191 गेंदों में नाबाद 300 रनों की पारी खेली।

191 गेंदों में ठोका तिहरा शतक

191 गेंदों में ठोका तिहरा शतक

प्रथम श्रेणी में ये सबसे तेज तिहरा शतक बताया जा रहा है। मरैसे ने तिहरा शतक लगाने के लिए 191 गेंदों पर सामना किया। उन्होंने साल 1921 में बने चार्ली मैकार्टनी के रिकॉर्ड को तोड़ा। मार्को ने 221 गेंदों में तिहरा शतक लगाया था।

पारी में मरैस ने लगाए 35 चौके और 13 छक्के

पारी में मरैस ने लगाए 35 चौके और 13 छक्के

मरैस दक्षिणी अफ्रीका में पूर्वी लंदन में बॉर्डर की ओर से खेल रहे थे, जहां उन्होंने ये पारी खेली। अपनी पारी में मरैस ने 35 चौके और 13 छक्के लगाए। मरैज पर बैटिंग करने के लिए आए तो उनकी टीम की हालत ठीक नहीं थी। बॉर्डर की टीम 82 रनों पर चार विकेट गंवा चुकी थी।

सहवाग के अंदाज में खेली पारी

मरैस ने आते ही सहवाग अंदाज में बल्लेबाजी करना शुरू कर दिया। ब्रैडले विलियम्स के साथ मरैस ने अपनी टीम की पारी को आगे बढ़ाना शुरू किया और 428 रनों की अविजित साझेदारी की। बॉर्डर ने पारी घोषित कर दी हालांकि बारिश की वजह से उनका मैच ड्रॉ हो गया।

सहवाग ने लगाए हैं दो तिहरे शतक

सहवाग ने लगाए हैं दो तिहरे शतक

उनकी इस पारी को सहवाग की बल्लेबाजी की तरह देखा जा रहा है। टेस्ट मैचों में सहवाग के नाम दो तिहरे शतक हैं तो वहीं एक बार श्रीलंका के खिलाफ 293 रनों की पारी भी खेल चुके हैं। टेस्ट क्रिकेट में सहवाग का स्टाइक रेट उन्हें दूसरे बल्लेबाजों से अलग बनाता था।

यह भी पढ़ें-पहले ही मैच में पहली ही गेंद पर आउट होकर इस बल्लेबाज ने बना दिया वर्ल्ड रिकॉर्ड

Read more about: south africa cricket
Story first published: Friday, December 1, 2017, 12:28 [IST]
Other articles published on Dec 1, 2017
Please Wait while comments are loading...