जब गांगुली को गाली देने के लिये भागकर आये थे एंड्रयू फ्लिंटॉफ, पूर्व इंग्लिश खिलाड़ी ने सुनाई कहानी

नई दिल्ली। क्रिकेट के इतिहास में भारतीय कप्तान सौरव गांगुली और इंग्लिश कप्तान एंड्रयू फ्लिंटॉफ के बीच की राइवलरी के बारे में सभी जानते हैं कि दोनों के बीच कोई खास दोस्ती नहीं रही है। काउंटी चैम्पियनशिप में लंकाशायर के लिये साथ खेलने से लेकर अपनी-अपनी नेशनल टीम में एक दूसरे के खिलाफ खेलने तक दोनों की कभी एक दूसरे के साथ नहीं बनी। इतना ही नहीं एंड्रयू फ्लिंटॉफ ने अपनी बायोग्राफी में सौरव गांगुली का जिक्र करते हुए लिखा है कि लंकाशायर की ओर से खेलते हुए उनके साथ तालमेल बिठाना कितना मुश्किल रहा था। गांगुली बस साथ में काम करना ही नहीं चाह रहे थे।

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व स्पिनर ब्रैड हॉग ने हाल ही में इंग्लैंड के पूर्व तेज गेंदबाज स्टीव हार्मिंसन के साथ बात की जिन्होंने एंड्रयू फ्लिंटॉफ और सौरव गांगुली के बीच एक घटना का किस्सा सुनाया जिसमें दोनों के बीच झगड़ा हुआ था। हार्मिसन ने अपने टेस्ट डेब्यू का किस्सा सुनाया जिसमें भारत और इंग्लैंड की टीम साल 2002 में नॉटिंघम में खेलने उतरी थी।

और पढ़ें: ICC Rankings: सिर्फ 7 दिन में ही मिताली राज से छिना नंबर 1 का ताज, जानें अब किस पायदान पर

इस मैच में हार्मिसन ने भारतीय कप्तान सौरव गांगुली को 99 रन के स्कोर पर आउट किया था जिसके बाद इंग्लैंड टीम के कप्तान एंड्रयू फ्लिंटॉफ ने उन्हें कुछ गलत शब्द कहे थे।

हार्मिसन ने ब्रैड हॉग के यूट्यूब शो टेस्ट ऑफ टाइम में बात करते हुए कहा,'सौरव के साथ क्या दिक्कत थी, पता नहीं शायद वो लोगों की नब्ज गलत तरीके से पकड़ते थे। मुझे याद है कि मैं अपना डेब्यू मैच खेल रहा था और अपने पहले ओवर की पहली गेंद पर उन्हें 99 रन के स्कोर पर आउट कर दिया था। एंड्रयू फ्लिंटॉफ उस वक्त मैदान पर नहीं थे और वॉशरूम गये थे लेकिन जैसे ही सौरव गांगुली 99 के स्कोर पर आउट हुए तो फ्रैडी भागते मैदान पर आये सिर्फ इसलिये ताकि वो गांगुली को गाली दे सकें। गांगुली बहुत ही प्यारे इंसान हैं लेकिन उनके अंदर शायद कुछ ऐसा है जिसके साथ लोग नहीं जा पाते।'

और पढ़ें: सामने आई विराट-अनुष्का की बेटी की तस्वीर हुई वायरल, डिविलियर्स की पत्नी ने किया शेयर

गौरतलब है कि सौरव गांगुली और एंड्रयू फ्लिंटॉफ के बीच असली विवाद तब खुलकर सामने आया जब एंड्रयू फ्लिंटॉफ ने भारत के खिलाफ वनडे सीरीज जीतने के बाद वानखेड़े के मैदान पर अपनी शर्ट उतार कर हवा में लहराई थी। इसके जवाब में गांगुली 2002 की नेटवेस्ट ट्रॉफी का फाइनल जीतने के बाद लॉर्डस के ऐतिहासिक मैदान पर अपनी टी शर्ट उतारकर हवा में लहराने का काम किया था। आपको बता दें कि एंड्रयू फ्लिंटॉफ की गेंद पर ही भारतीय टीम ने विनिंग रन बनाये थे।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Thursday, July 15, 2021, 23:31 [IST]
Other articles published on Jul 15, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X