T 20 world Cup: 5 गेंदबाज जिनका यूएई में रहा बोलबाला, 2 ने चटकाई हैट्रिक

नई दिल्ली। यूएई में खेले जा गया टी20 विश्वकप अपने आखिरी चरण पर पहुंच चुका है, जिसमें ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बीच खेले जाने वाले फाइनल मैच के साथ ही दुनिया को इस प्रारूप का नया वर्ल्ड चैम्पियन मिल जायेगा। आईसीसी की ओर से 5 साल बाद आयोजित किये गया यह टी20 विश्वकप कई मायनों में खास रहा, न सिर्फ दुनिया को नया वर्ल्ड चैम्पियन मिला बल्कि फैन्स को बल्ले और गेंद से खिलाड़ियों का कमाल देखने को मिला। जहां टी20 विश्वकप के इतिहास में इस टूर्नामेंट से पहले सिर्फ एक ही हैट्रिक ली गई थी तो वहीं इस टूर्नामेंट में 3 गेंदबाजों ने हैट्रिक लेकर इस संख्या को 4 कर दिया।

और पढ़ें: T20 मैचों में ओस से बचने के लिये आकाश चोपड़ा ने दिया अजीब सुझाव, बताया कैसे कम करे टॉस का प्रभाव

टी20 विश्वकप में इसकी शुरुआत आयरलैंड के तेज गेंदबाज कर्टिस कैम्फर ने की थी, जिसके बाद श्रीलंका के वनिंदु हसरंगा और कगिसो रबाडा ने भी यह कारनामा किया। यूएई की सरजमीं पर खेले गये इस टूर्नामेंट में सिर्फ स्पिनर्स ही नहीं तेज गेंदबाजों ने भी शानदार प्रदर्शन किया और अपनी टीम को अहम जीत दिलाई। आइये एक नजर उन 5 गेंदबाजों पर डालते हैं जिनका इस टूर्नामेंट में बोलबाला देखने को मिला।

और पढ़ें: कैसे World Cup पर भारी पड़ रहा है IPL, BCCI को टक्कर देने के लिये जानें क्या है आईसीसी की तैयारी

वनिंदु हसरंगा (Wanindu Hasaranga)

वनिंदु हसरंगा (Wanindu Hasaranga)

इस फेहरिस्त में पहला नाम श्रीलंका के मिस्ट्री स्पिनर वनिंदु हसरंगा का है जिन्होंने इस टूर्नामेंट में शानदार गेंदबाजी की और अपनी गेंदबाजी से काफी प्रभावित किया। हसरंगा ने टी20 विश्वकप के 8 मैचों में गेंदबाजी की और शानदार प्रदर्शन करते हुए 16 विकेट चटका दिये और फिलहाल सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजों की लिस्ट में टॉप पर हैं। हसरंगा ने टी20 विश्वकप में साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेले गये मैच में हैट्रिक लेकर अपनी टीम की वापसी भी करायी थी लेकिन मैच को बचाने में कामयाब नहीं हो सके। क्वालिफायर खेलकर सुपर 12 में जगह बनाने वाली श्रीलंकाई टीम ने 3 मैचों में जीत हासिल की और अगले साल खेले जाने वाले टी20 विश्वकप के लिये भी क्वालिफाई कर लिया। हसरंगा ने अपनी गेंदबाजी ही नहीं बल्लेबाजी से भी धमाल मचाया और टीम के लिये सबसे अहम खिलाड़ी साबित हुए।

एडम जाम्पा (Adam Zampa)

एडम जाम्पा (Adam Zampa)

इस फेहरिस्त में दूसरा नाम ऑस्ट्रेलिया के लेग स्पिनर एडम जाम्पा का है जिन्होंने 6 मैचों में 138 रन देकर 12 विकेट अपने नाम किये तो वहीं पर 5 विकेट हॉल लेने वाले पहले कंगारू स्पिनर बने। एडम जाम्पा की वजह से ही ऑस्ट्रेलिया की टीम सेमीफाइनल में पहुंच सकी, दरअसल साउथ अफ्रीका की टीम ने अंकतालिका में ऑस्ट्रेलिया से ऊपर पहुंच गई थी और अगर कंगारू टीम को सेमीफाइनल में पहुंचना था अपने नेट रन रेट को बेहतर करने की दरकार थी। ऐसे में एडम जाम्पा ने बांग्लादेश के खिलाफ अपनी गेंदबाजी के दम पर बड़ी जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई। अगर मैथ्यू वेड ने इस मैच में कैच ड्रॉप न किया होता तो जाम्पा के नाम भी टी20 विश्वकप में हैट्रिक लेने का रिकॉर्ड दर्ज हो जाता। बांग्लादेश के खिलाफ इस मैच में मिली बड़ी जीत की वजह से ऑस्ट्रेलिया की टीम का नेट रन रेट बेहतर हो गया और वो सेमीफाइनल में पहुंचे।

ट्रेंट बोल्ट (Trent Boult)

ट्रेंट बोल्ट (Trent Boult)

इस मैच में तीसरा नाम न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट का है जिन्होंने इस टूर्नामेंट में खेले गये 6 मैचों में 142 रन देकर 11 विकेट चटकाये हैं। ट्रेंट बोल्ट ने भारत के खिलाफ खेले गये अहम मैच में पावरप्ले में शानदार गेंदबाजी कर अपनी टीम को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई। यह उनकी गेंदबाजी का ही कमाल था कि भारतीय टीम उस मैच में 110 रन ही बना सकी और कीवी टीम ने जीत हासिल कर सेमीफाइनल का अपना रास्ता आसान कर लिया। इतना ही नहीं बोल्ट ने इस पूरे टूर्नामेंट में जब भी टीम को दरकार रही उस वक्त अपनी गेंदबाजी से विपक्षी टीम की कमर तोड़ी और नतीजन उनकी टीम अब फाइनल खेलने के लिये उतर रही है।

कगिसो रबाडा (Kagiso Rabada)

कगिसो रबाडा (Kagiso Rabada)

इस फेहरिस्त में अगला नाम साउथ अफ्रीका के तेज गेंदबाज कगिसो रबाडा का नाम भी है, जिनकी इस कैंपेन में अच्छी शुरुआत नहीं रही थी लेकिन उन्होंने एनरिच नॉर्खिया के साथ गेंदबाजी में रनों पर लगाम लगाकर विकेट चटकाने का काम किया। साउथ अफ्रीका की टीम ने ग्रुप 1 में टॉप 2 पर रही इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया की तरह 5 में से 4 मैचों में जीत हासिल की थी लेकिन ज्यादा नेट रन रेट न होने की वजह से बाहर हो गई। सुपर 12 स्टेज के अपने आखिरी मैच में कगिसो रबाडा ने इतिहास रचा और 3 गेंदों में 3 विकेट हासिल कर साउथ अफ्रीका के लिये हैट्रिक चटकाने वाले पहले गेंदबाज बन गये। कगिसो रबाडा भले ही अपनी टीम को सेमीफाइनल में नहीं पहुंचा सके हों लेकिन अपनी टीम को इंग्लैंड के खिलाफ रनों का बचाव करते हुए 10 रनों से जीत दिलाई। कगिसो रबाडा ने टी20 विश्वकप के 5 मैचों में 114 रन देकर 8 विकेट हासिल किये जिसमें से 41 रन उन्हें आखिरी मैच में पड़े।

शाहीन शाह अफरीदी (Shaheen Shah Afridi)

शाहीन शाह अफरीदी (Shaheen Shah Afridi)

इस फेहरिस्त में आखिरी नाम पाकिस्तान के तेज गेंदबाज शाहीन शाह अफरीदी का है जिन्होंने भारत के खिलाफ खेले गये पहले मैच से लेकर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गये सेमीफाइनल मैच तक शानदार गेंदबाजी की। सेमीफाइनल मैच के 19वें ओवर को छोड़ दिया जाये तो शाहीन शाह अफरीदी ने जबरदस्त गेंदबाजी की है और पाकिस्तान के लिये पावरप्ले में विकेट हासिल कर उसे अहम मैचों में जीत दिलाई। भारत के खिलाफ 29 सालों से विश्वकप में चले आ रहे हार के सिलसिले को तोड़ने में अफरीदी ने अहम भूमिका निभाई और ओपनिंग मैच में रोहित, राहुल और कोहली का विकेट लेकर पूरी भारतीय टीम को बैकफुट पर धकेल दिया। न्यूजीलैंड के खिलाफ भी उन्होंने शानदार स्पेल डाला और अपनी टीम को अजेय रखते हुए सेमीफाइनल में पहुंचाया। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सेमीफाइनल मैच में उन्होंने शुरुआत अच्छी ही की थी लेकिन आखिरी ओवर में मैथ्यू वेड उन पर भारी पड़ गये। अफरीदी ने 6 मैचों में 144 रन देकर 7 विकेट अपने नाम किये।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Sunday, November 14, 2021, 22:12 [IST]
Other articles published on Nov 14, 2021

Latest Videos

    + More
    POLLS
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Yes No
    Settings X