T20 World Cup के नॉकआउट मैचों को लेकर ICC ने बदला नियम, पहली बार टीमों को मिलेगी यह सुविधा

T20 WC 2021: DRS will be used in UAE, each team will get 2 DRS in an Innings | वनइंडिया हिंदी

नई दिल्ली। साल 2016 में भारत की मेजबानी में खेले गये आखिरी टी20 विश्वकप के बाद पुरुष क्रिकेट के लिये इस टूर्नामेंट का आयोजन नहीं हो सका है, हालांकि 5 साल के बाद एक बार फिर से यह वैश्विक टूर्नामेंट भारत की ही मेजबानी में यूएई और ओमान में खेला जाना है, जिसका आगाज 17 अक्टूबर से किया जायेगा। इस टूर्नामेंट के आयोजन के लिये आईसीसी और बीसीसीआई तैयारियों में जुटी हुई हैं, जहां बीसीसीआई हर टीम के लिये सुविधाओं का प्रबंध करने में जुटा है तो वहीं पर आईसीसी ने इस टूर्नामेंट के आयोजन को ज्यादा बेहतर और रोमांचक बनाने के लिये नियमों में बदलाव का ऐलान किया है।

और पढ़ें: T20 World Cup में वरुण चक्रवर्ती की फिटनेस बनी परेशानी, क्या चहल को मिलेगा वापसी का मौका

आईसीसी ने 17 अक्टूबर से शुरू होने वाले इस मल्टी नेशन टूर्नामेंट के नॉकआउट मैचों (फाइनल और सेमीफाइनल) को लेकर नियमों में बदलाव किया है तो वहीं पर कुछ नियमों को पहली बार इस टूर्नामेंट में लागू करने का फैसला किया है। आइये एक नजर आईसीसी की ओर से लागू किये गये इन नियमों पर डालते हैं-

और पढ़ें: MI vs SRH: 16 गेंदों में अर्धशतक ठोंक ईशान किशन ने तोड़ा अपना ही रिकॉर्ड, इस मामले में टॉप पर पहुंचे

10 ओवर खेलने पर ही मिलेगा मैच का नतीजा

10 ओवर खेलने पर ही मिलेगा मैच का नतीजा

मौजूदा नियमों के अनुसार अगर किसी मैच के दौरान बारिश आ जाती है और देरी होने के चलते डकवर्थ लुईस नियम लागू होता है तो उस मैच का नतीजा निकालने के लिये कम से कम 5 ओवर का खेल होना जरूरी है। आईसीसी ने इस नियम को क्वालिफायर और सुपर 12 स्टेज तक तो ऐसे ही रखा है लेकिन नॉकआउट मैचों के लिये (सेमीफाइनल और फाइनल) कम से कम 10 ओवर का खेल होना जरूरी है। अगर 10 ओवर का खेल नहीं होता है तो रिजल्ट नहीं निकाला जा सकता है। ईएसपीएन क्रिकइंफो के अनुसार सेमीफाइनल और फाइनल मैचों के लिये रिजर्व डे रखने की वजह से आईसीसी ने यह फैसला लिया है।

अगर बारिश ने धोया सेमीफाइनल तो फिर क्या..

अगर बारिश ने धोया सेमीफाइनल तो फिर क्या..

उल्लेखनीय है कि पिछले साल ऑस्ट्रेलिया में खेले गये महिला टी20 विश्वकप के दोनों सेमीफाइनल मैचों में बारिश का असर देखने को मिला था, जहां पर भारत और इंग्लैंड का मैच बारिश के चलते धुल गया था तो वहीं पर ऑस्ट्रेलिया-साउथ अफ्रीका के बीच का मैच 5 ओवर के डकवर्थ लुईस नियम के तहत समाप्त हुआ। ऐसे में अगर 2021 टी20 विश्वकप के सेमीफाइनल में भी बारिश आती है तो क्या होगा। इसके जवाब में आईसीसी ने पहले तो सभी नॉकआउट मैचों के लिये अतिरिक्त दिन रखा है और फिर 10 ओवर का डीएलएस मेथड, जिसके बाद भी अगर फैसला नहीं निकल पाता है तो टीमों के अपने-अपने ग्रुप स्टेज के प्रदर्शन पर नजर डाली जायेगी और ज्यादा जीत वाली टीम फाइनल में पहुंचेगी, अगर टीमें बराबर जीत के साथ पहुंची हैं तो नेट रन रेट के जरिये फैसला होगा।

पुरुष टी20 विश्वकप में पहली बार लागू होगा डीआरएस का नियम

पुरुष टी20 विश्वकप में पहली बार लागू होगा डीआरएस का नियम

गौरतलब है कि 2021 का टी20 विश्वकप पहला पुरुष टूर्नामेंट होगा जिसमें आईसीसी की ओर से डिसीजन रिव्यू सिस्टम (डीआरएस) लागू किया जायेगा। आईसीसी ने इसकी पुष्टि करते हुए साफ किया है कि हर टीम को प्रति पारी 2 रिव्यू लेने का मौका मिलेगा। आईसीसी ने बताया कि कोरोना महामारी को देखते हुए अंपायरिंग में कुछ कम अनुभवी अंपायर भी नजर आयेंगे जिसके चलते हर टीम को एक अतिरिक्त रिव्यू लेने का मौका दिया गया है।

आपको बता दें कि टी20 विश्वकप में पहली बार डीआरएस का इस्तेमाल साल 2018 के महिला टी20 विश्वकप टूर्नामेंट किया गया था, जबकि 5 साल से पुरुष टूर्नामेंट का आयोजन नहीं होने की वजह से 2021 में खेला जाने वाला यह पहला पुरुष टूर्नामेंट होगा जिसमें डीआरएस का इस्तेमाल किया जायेगा। आईसीसी की ओर से 2017 की चैम्पियंस ट्रॉफी में पहली बार डीआरएस का इस्तेमाल किया गया था जिसके बाद 2019 के वनडे विश्वकप और विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल में भी इसे लागू किया गया।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Sunday, October 10, 2021, 16:08 [IST]
Other articles published on Oct 10, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X