'जब किसी की फार्म खराब होती है तो..': कोहली की बैटिंग पर सहवाग ने दिया बयान

नई दिल्ली: भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग वर्तमान कप्तान विराट कोहली की खराब फॉर्म पर बात की है। कोहली की तरह ही खुद भी ऐसा समय भुगत चुके इस विस्फोटक ओपनर ने विराट कोहली का बचाव किया है।

कोहली न्यूजीलैंड दौरे पर तीनों प्रारूपों में 11 पारियों में केवल एक अर्धशतक बने सके और टेस्ट श्रृंखला में उनके बल्ले से रनों की कमी भारत के संघर्ष के पीछे सबसे बड़ा कारण रही। T20I श्रृंखला 5-0 से जीतने के बाद, भारत को क्रमशः ODI और टेस्ट श्रृंखला में न्यूजीलैंड ने 0-3 और 0-2 से हराया।

सहवाग ने किया कोहली का बचाव

सहवाग ने किया कोहली का बचाव

सहवाग ने कहा कि हर खिलाड़ी बुरे दौर से गुजरता है और कोहली अलग नहीं हैं। इसके अलावा, सहवाग ने भारत के पूर्व कप्तान कपिल देव के साथ सहमति नहीं जताई, जिन्होंने कहा कि कोहली को अपनी सजगता पर अधिक अभ्यास करने की जरूरत है और उनकी आंखों की रोशनी धीमी हो सकती है।

भारत के महानतम कप्तान? अभी नहीं! ये है कोहली का 'SENA' देशों में चौंकाने वाला रिकॉर्ड

कपिल देव के आंखों वाले बयान से जताई असहमति-

कपिल देव के आंखों वाले बयान से जताई असहमति-

"जब आप आउट ऑफ फॉर्म होते हैं, तो आपके लिए कुछ भी काम नहीं करता है। ऐसा नहीं है कि विराट प्रयास नहीं कर रहे हैं, लेकिन भाग्य ने उनका साथ छोड़ दिया है, "सहवाग को स्पोर्टस्टार ने कहा था।

"विराट के साथ निश्चित रूप से आँखों की रोशनी का मुद्दा नहीं है। आपकी आँखों की रोशनी का मुद्दा समय के साथ बिगड़ता है, रातों-रात नहीं। मुझे यकीन है कि यह सिर्फ फॉर्म की कमी है। इसके अलावा, वह अच्छी गेंदों पर आउट हुए थे।"

न्यूजीलैंड में गेंद बहुत सीम करती हैं-

न्यूजीलैंड में गेंद बहुत सीम करती हैं-

"यहां (न्यूजीलैंड में) गेंद बहुत सीम करती हैं और अगर आपको रन नहीं मिल रहे हैं तो चुनौती कई गुना बढ़ जाती है। बेशक, आप गेंद को छोड़कर, फ्रंट फुट पर अधिक खेल सकते हैं।

"मेरे लिए, यह जानना महत्वपूर्ण है कि किस गेंद को छोड़ना है और आप ऐसा तब कर सकते हैं जब आप आत्मविश्वास महसूस कर रहे हों। दबाव भी विराट की फार्म का एक कारण हो सकता है, "उन्होंने कहा।

कपिल ने आंखों को बताया था जिम्मेदार-

कपिल ने आंखों को बताया था जिम्मेदार-

बता दें कि कोहली की खराब फार्म पर बात करते हुए पूर्व भारतीय कप्तान कपिल देव का मानना ​​है कि ऐसा इसलिए हो सकता है क्योंकि कोहली की चपलता उनकी उम्र ढलने के साथ कम हो गई है जिसका बड़ा कारण उनकी नजर धीमी होना बना है और इसलिए, उन्हें अब वापस जाने और अपनी आंखों की घटती क्षमताओं के साथ फिर से तालमेल बैठाने के लिए प्रैक्टिस करने की जरूरत है।

'नजर को थोड़ा एडजस्ट करने की आवश्यकता '

'नजर को थोड़ा एडजस्ट करने की आवश्यकता '

'इसलिए मुझे लगता है कि उसे अपनी नजर को थोड़ा एडजस्ट करने की आवश्यकता है। जब बड़े खिलाड़ी आने वाली डिलीवरी के साथ LBW करने लगते हैं तो आपको उन्हें और अभ्यास करना होगा।

"यह दिखाता है कि आपकी आंखें और आपकी सजगता थोड़ी धीमी हो गई है और कुछ ही समय में आपकी ताकत आपकी कमजोरी में बदल जाती है, "कपिल ने एबीपी न्यूज़ पर कहा।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Thursday, March 5, 2020, 7:02 [IST]
Other articles published on Mar 5, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X