हार्दिक, कुलदीप, नटराजन जैसे मजबूत दावेदार क्यों हुए बाहर, जानिए वजह

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने शुक्रवार (7 मई) को आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल के लिए और अगस्त से सितंबर के बीच इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज के लिए 20 सदस्यीय भारतीय की टीम घोषणा की। लेकिन टेस्ट क्रिकेट में अपनी पहचान बनाने वाले कुछ क्रिकेटरों को टीम के चयनकर्ताओं ने नजरअंदाज किया है। उनमें ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या, स्पिनर कुलदीप यादव और तेज गेंदबाज टी नटराजन शामिल हैं।

भारत 18 से 22 जून तक साउथेम्प्टन में टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में न्यूजीलैंड से खेलेगा। उसके बाद भारत अगस्त-सितंबर में इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट सीरीज खेलेगा। टेस्ट सीरीज 4 अगस्त से शुरू होगी और 14 सितंबर को समाप्त होगी। लेकिन हार्दिक, कुलदीप और नटराजन जैसे खिलाड़ियों को इस बड़े दौरे के लिए क्यों नहीं चुना जाना गया, यह सवाल क्रिकेट प्रेमियों के दिमाग में है। तो आइए जानते हैं क्यों नहीं मिली इन तीन क्रिकेटरों को टीम में जगह-

'मेरे पास एक बड़ी जिम्मेदारी है', टीम में जगह मिलने पर आवेश खान ने जताई खुशी

1. टी नटराजन

1. टी नटराजन

भारत के तेज गेंदबाज नटराजन की हाल ही में घुटने की सर्जरी हुई है। इसके कारण वह आईपीएल के 14 वें सीजन में केवल 2 मैच ही खेल पाए थे। इस कारण से, ऑस्ट्रेलिया का दौरा कर रहे नटराजन को टेस्ट टाइटल और इंग्लैंड दौरे के लिए भारतीय टेस्ट टीम में नहीं चुना गया है। नटराजन ने भारत के लिए अब तक केवल एक ही टेस्ट खेला है। इसमें उन्होंने 3 विकेट लिए थे।

2. कुलदीप यादव

2. कुलदीप यादव

भारत के चाइनामैन कुलदीप यादव को भी भारतीय टेस्ट टीम से बाहर रखा गया था। इसके पीछे कारण यह बताया जाता है कि वह खराब दाैर से गुजर रहे हैं। कुलदीप ने आखिरी बार फरवरी 2021 में इंग्लैंड के खिलाफ एक टेस्ट मैच खेला था। लेकिन वह इस मैच में केवल 2 विकेट ही ले सके। उन्हें आईपीएल के 14 वें सीजन में एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला। शायद यही कारण है कि टीम के चयनकर्ताओं ने उनकी अनदेखी की।

3. हार्दिक पांड्या

3. हार्दिक पांड्या

ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या अभी भी गेंदबाजी के लिए फिट नहीं दिख रहे हैं। उन्होंने पिछली भारत-इंग्लैंड एकदिवसीय श्रृंखला में सिर्फ एक मैच में गेंदबाजी की थी। वह एक विकेट लेने में भी नाकाम रहे। हार्दिक एक आलराउंडर के रूप में अपनी भूमिका फिलहाल नहीं निभाते दिख रहे थे। इस कारण उन्हें भारतीय टेस्ट टीम से बाहर कर दिया गया था। इतना ही नहीं उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट मैच 2018 में खेला था। उनके पास पिछले 3 साल से टेस्ट क्रिकेट का कोई अनुभव नहीं है। शायद इसीलिए उसकी अनदेखी की गई।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Saturday, May 8, 2021, 13:04 [IST]
Other articles published on May 8, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X