ओलम्पिक का क्रेज फीका पड़ा, जापान के ट्रेनिंग कैम्पों में नहीं आ रहे हैं एथलीट

टोक्यो: टोक्यो 2020 ओलंपिक से पहले, जापानी शहर कामो ने 42 रूसी जिमनास्ट और कोचों के लिए प्रशिक्षण सुविधाओं के लिए सलाखों, जिमनास्टिक मैट और अन्य अपग्रेड्स पर करीब 70 मिलियन येन (640,000 डॉलर) खर्च किए हैं, विडंबना यह है कि ये लोग अब नहीं आएंगे।

स्थानीय अधिकारियों ने कहा कि टीम ने COVID-19 महामारी के कारण जापान में पूर्व-ओलंपिक प्रशिक्षण की योजना को रद्द कर दिया है। अब अधिकारियों का कहना है कि उन्हें टीम की मेजबानी करने का मौका गंवाने का अफसोस है, यह दुख खर्च किए गए पैसे से भी ज्यादा है।

ओलंपिक एक साल की देरी के बाद हो रहा है और अब इसमें आठ सप्ताह से भी कम समय बचा है। यह कोरोना के साए में हो रहा है जिसमें विदेशी दर्शकों की अनुमति नहीं होगी, और 100 से अधिक नगर पालिकाओं ने विदेशी टीमों की मेजबानी करने की योजना रद्द कर दी है।

जापान में पहुंचा खिलाड़ियों का पहला दल, ऑस्ट्रेलियाई सॉप्टबॉल टीम की ओलंपिक के लिए एंट्रीजापान में पहुंचा खिलाड़ियों का पहला दल, ऑस्ट्रेलियाई सॉप्टबॉल टीम की ओलंपिक के लिए एंट्री

कामो के अधिकारी हिरोकाजू सुजुकी ने रॉयटर्स को बताया, "स्थानीय बच्चे जो भविष्य के स्टार जिमनास्ट हो सकते हैं, रूसी जिमनास्ट से मिलने का अवसर चूकने से निराश थे।"

वैसे मेजबान शहर टोक्यो में ओलंपिक की बहुत कम चर्चा है, जो कि महामारी के कारण आपातकाल की स्थिति में है। कामो जैसे छोटे स्थानों में, जो 2019 से शिविर की योजना बना रहा था, निराशा शायद अधिक स्पष्ट है। कुछ मामलों में, जैसे कि ऑस्ट्रेलिया की जूडो टीम, टीमों ने सुरक्षा चिंताओं को लेकर अपने कदम पीछे खींच लिए हैं।

कई जनमत सर्वेक्षणों से पता चला है कि अधिकांश जापानी लोग चाहते हैं कि कार्यक्रम को रद्द या फिर से स्थगित कर दिया जाए।

ओलंपिक के आर्थिक प्रभाव का अध्ययन करने वाले कंसई विश्वविद्यालय में अर्थशास्त्र के एक एमेरिटस प्रोफेसर कात्सुहिरो मियामोतो ने कहा, "प्रशिक्षण शिविर कस्बों और शहरों की अर्थव्यवस्थाओं को एक बड़ा लाभ देंगे, लेकिन यह खो रहा है।"

टोक्यो के पूर्व में स्थित नारिता नामक जगह में अधिकारियों को उस समय आश्चर्य हुआ जब संयुक्त राज्य अमेरिका की ट्रैक और फील्ड टीम ने उन्हें सूचित किया कि उसने नियोजित प्रशिक्षण शिविर से हटने का फैसला किया है। जबकि पहले यहां स्टार धावक जस्टिन गैटलिन सहित लगभग 120 एथलीट और कर्मचारी शिविर के लिए आने वाले थे।

वहीं, टोयोटा के केंद्रीय शहर में कनाडा के तैराकों और कोचों ने जुलाई में लगभग तीन सप्ताह में होने वाले प्री-ओलंपिक प्रशिक्षण से हाथ खींच लिए। इस तरह के रद्दीकरण उन कस्बों और क्षेत्रों के लिए दर्द को बढ़ा सकते हैं जो पहले से ही पर्यटन में गिरावट से जूझ रहे हैं।

अब रूसियों द्वारा पना शिविर रद्द करने के बाद, वहां के अधिकारियों ने अंतिम समय में एक बहुत छोटे पुर्तगाली प्रतिनिधिमंडल की मेजबानी करने का फैसला किया है।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Tuesday, June 1, 2021, 13:00 [IST]
Other articles published on Jun 1, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X