वो भारतीय गेंदबाज जिसने 1 गेंद में झटके 2 विकेट, 3 बॉल में ली हैट्रिक

नई दिल्ली। क्रिकेट की दुनिया में आये दिन एक नया रिकॉर्ड बनता और टूटता देखा जाता है, पर कुछ ऐसे रिकॉर्ड होते हैं जो कि न सिर्फ असंभव लगते हैं बल्कि उनके होने पर भी यकीन होता है। पर सच मानिये क्रिकेट इतिहास में होने वाली यह घटनायें काफी हैरान करने वाली जरूर हैं लेकिन पूरी तरह से सच हैं। क्रिकेट इतिहास में जब कोई गेंदबाज एक ही मैच में दौरान लगातार 3 गेंद पर 3 विकेट लेने का कारनामा करता है तो उसे हैट्रिक बुलाया जाता है। ऐसे में इस बात का ख्याल भी लाना नामुमकिन लगता है कि कोई गेंदबाज सिर्फ 2 गेंदों में हैट्रिक ले सकता है।

और पढ़ें: अब बलूचिस्तान में भी अफरीदी ने अलापा पुराना राग, लोगों ने किया जबरदस्त ट्रोल

हालांकि यह सच है, 2 गेंदोंं में हैट्रिक पूरी करने का रिकॉर्ड भारतीय स्पिन गेंदबाज प्रवीण तांबे के नाम है जिन्होंने साल 2014 में आईपीएल के दौरान यह कारनामा किया था और महज 2 गेंद में अपनी हैट्रिक पूरी की थी।

और पढ़ें: मजदूरी करने को मजबूर हुआ डेब्यू मैच में शतक लगाने वाला यह खिलाड़ी

2 गेंद में पूरी की हैट्रिक

2 गेंद में पूरी की हैट्रिक

आईपीएल के इतिहास में अब तक कई बार हैट्रिक ली जा चुकी है, कई गेंदबाजों ने तो 2 और कुछ ने 3 बार हैट्रिक लेने का कारनामा किया है, लेकिन इन सबके बावजूद प्रवीण तांबे की यह हैट्रिक सबसे खास रहेगी। आईपीएल के इतिहास में प्रवीण तांबे इकलौते ऐसे गेंदबाज हैं जिसने 2 गेंद पर हैट्रिक ली है।

उल्लेखनीय है कि आईपीएल के 7वें सीजन के एक लीग मैच के दौरान राजस्थान रॉयल्स और कोलकाता नाईट राइडर्स की टीमों के बीच मुकाबला किया जा रहा था। इस मैच में राजस्थान रॉयल्स की टीम ने पहले खेलते हुए 170 रन बनाये और केकेआर के सामने 171 रनों का लक्ष्य रखा। कोलकाता नाइठ राईडर्स की टीम ने शानदार शुरुआत की और सिर्फ 1 विकेट के नुकसान पर 121 रन बना लिये लेकिन तभी राजस्थान रॉयल्स की टीम ने 2 रन के अंदर 2 विकेट लेकर मैच में वापसी की।

प्रवीण तांबे ने पलट दिया मैच, हारा गेम जिताया

प्रवीण तांबे ने पलट दिया मैच, हारा गेम जिताया

जैसे ही राजस्थान की टीम ने मैच में वापसी की वैसे ही प्रवीण तांबे को 16वें ओवर की जिम्मेदारी सौंपी गई, और इस ओवर में तांबे में वो किया जो आज तक कोई भारतीय गेंदबाज नहीं कर पाया। प्रवीण तांबे ने ओवर की पहली गेंद वाइड फेंक दी लेकिन बल्लेबाज संजू सैमसन क मनीष पांडेय के हाथों स्टंपिंग आउट करवा दिया।

आधिकारिक रूप से यह उनकी पहली गेंद होनी थी लेकिन वाइड होने के चलते यह मान्य भी नहीं हुई और विकेट भी मिला, वहीं जब इसी गेंद को दोबारा फेंकने आये तो उन्होंने यूसुफ पठान को आउट कर एक ही गेंद पर 2 विकेट हासिल कर लिया।

प्रवीण तांबे ने ओवर की दूसरी गेंद पर रेयान डशकाटे को आउट कर क्रिकेट में 2 गेंद पर 3 विकेट लेने के असंभव से कारनामे को सच करके दिखाया। उनकी शानदार गेंदबाजी के चलते राजस्थान की टीम ने हारे हुए मैच में वापसी की और जीत हासिल की।

सबसे ज्यादा उम्र में किया था डेब्यू

सबसे ज्यादा उम्र में किया था डेब्यू

गौरतलब है कि प्रवीण तांबे आईपीएल के इतिहास में सबसे ज्यादा उम्र में डेब्यू करने वाले भारतीय खिलाड़ी हैं, इतना ही नहीं 48 साल की उम्र में वह आईपीएल 2020 के लिये केकेआर की टीम के साथ वापसी कर रहे थे, हालांकि बीसीसीआई के एक नियम के चलते वह मैच खेलते हुए नजर नहीं आ पायेंगे। दरअसल प्रवीण तांबे ने बिना बीसीसीआई की इजाजत के पिछले साल दुबई मे हुई टी10 लीग में भाग लिया था जिसके चलते वह घरेलू लीग में हिस्सा नहीं बन सकते।

आपको बता दें कि प्रवीण तांबे ने अपने करियर के दौरान घरेलू क्रिकेट में मुंबई के लिए सिर्फ 2 प्रथम श्रेणी मैच और 6 लिस्ट ए करियर मैच खेले हैं जबकि आईपीएल के दौरान उन्होंने 33 मैच खेले और 28 विकेट अपने नाम किये हैं।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Wednesday, June 10, 2020, 15:07 [IST]
Other articles published on Jun 10, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X