स्पिनर का अंतिम मैच, सामने था भारत, चाहिए थे 8 विकेट- चैम्पियन बॉलर ने संन्यास में रचा इतिहास

किस्सा क्रिकेट का: Muttiah Muralitharan के 800 wicket पूरे करने की अनसुनी कहानी | वनइंडिया हिंदी

नई दिल्ली: मुथैया मुरलीधरन को स्पिन गेंदबाजी लीजेंड माना जाता है। वे और शेन वार्न क्रिकेट इतिहास के महानतम स्पिनर हैं। श्रीलंका के पूर्व दाएं हाथ के गेंदबाज ने टेस्ट क्रिकेट से 800 विकेट अपने नाम किए। मुरली के अंतिम टेस्ट के पीछे की कहानी बताती है कि गेंदबाज अपनी क्षमताओं के बारे में कितना आश्वस्त था, और सबसे अच्छे विरोधियों के खिलाफ उसने खुद को कितने बेहतर तरीके से पेश किया।

श्रीलंका 2010 में भारत के खिलाफ तीन मैचों की टेस्ट श्रृंखला की मेजबानी कर रहा था, और गेंदबाज ने फैसला किया कि वह पहले टेस्ट के बाद अपने रिटायरमेंट की घोषणा करना चाहता है।

792 विकेट पर ही की घोषणा- अगला टेस्ट अंतिम होगा

792 विकेट पर ही की घोषणा- अगला टेस्ट अंतिम होगा

उस समय, मुरलीधरन 800 विकेट का मील का पत्थर पूरा करने से आठ विकेट दूर थे, और भारतीय टीम के खिलाफ आठ विकेट लेना, वो एक भी टेस्ट मैच में, एक कठिन सवाल था। टीम इंडिया हमेशा से स्पिनरों को बेहतर खेलने के लिए जानी जाती रही है। लेकिन मुरलीधरन पहले ही घोषणा कर चुके थे वे इसी मैच में 8 विकेट लेंगे।

श्रीसंत ने चुनी IPL 2020 प्लेऑफ के लिए अपनी 4 टीमें, बताया कौन होगा सीजन का चैम्पियन

"वह 800 से 8 विकेट दूर थे। 800 टेस्ट विकेट, जैसा कि हम सभी जानते हैं कि यह एक अविश्वसनीय आंकड़ा है। उन्होंने कहा कि वह भारत श्रृंखला में संन्यास लेना चाहते थे और मैं कप्तान था। मैं चयनकर्ताओं के साथ बैठा और कहा, वह 1 टेस्ट के बाद संन्यास लेना चाहता है," संगकारा ने इंस्टाग्राम लाइव पर आर अश्विन से बात करते हुए बताया।

संगकारा ने मुरलीधरन को मनाने की कोशिश की-

संगकारा ने मुरलीधरन को मनाने की कोशिश की-

"हम उन्हें 8 विकेट लेने और रिटायर करने के लिए तैयार हो गए। इसलिए हमने मुरली को एक बैठक में बुलाया। मैंने कहा मुरली, हम जानते हैं कि आप चुनौतियों को उठाना पसंद करते हैं। लेकिन इस तरह से सोचें। यह बहुत दुख की बात होगी कि आप इतने करीब आते हैं और आपको अपना 800 नहीं मिलता है। तो आप 1 टेस्ट खेल सकते हैं, और फिर यदि आप बहुत थक गए हैं तो ब्रेक लेकर आप तीसरे टेस्ट के लिए वापस आ जाएं। या फिर आप 2 टेस्ट से छुट्टी ले सकते हैं और अगली सीरीज के लिए वापस आ सकते हैं।"

'गेंदबाज मुस्करा रहे थे ताकि गम छुपाया जा सके': अफरीदी ने याद किया भारत के खिलाफ ये टेस्ट

"मुरली ने हमारी ओर देखा और कहा कि हम तरीका किसी के लिए काम नहीं करेगा। मैंने हमेशा चुनौतियों से प्यार किया है और अगर मुझे सर्वश्रेष्ठ स्पिनर माना जाता है, तो मुझे किसी भी टीम के खिलाफ गॉल में 8 विकेट लेने में सक्षम होना चाहिए, "संगकारा ने याद किया।

'आपका बहुत-बहुत धन्यवाद, मैं 8 विकेट लेने जा रहा हूं'

'आपका बहुत-बहुत धन्यवाद, मैं 8 विकेट लेने जा रहा हूं'

उन्होंने कहा, "और अगर मैं 8 विकेट लेता हूं, तो मैं केवल अपना 800वां विकेट हासिल ही नहीं करूंगा, बल्कि हम यह टेस्ट मैच भी जीतने जा रहे हैं। यदि मैं इसे प्राप्त नहीं कर सकता, तो मैं इसे प्राप्त नहीं कर सकता। तो यह मेरा आखिरी टेस्ट है। आपका बहुत-बहुत धन्यवाद, मैं 8 विकेट लेने जा रहा हूं। ' पूर्व बाएं हाथ के बल्लेबाज ने मुरली की इस बात का याद करते हुए आगे कहा, "मैं तब बैठा था और सोच रहा था, कि वह क्या चैंपियन आदमी था।"

इंग्लैंड क्रिकेट ने घोषित किया 55 क्रिकेटरों का ट्रेनिंग ग्रुप, दो अहम खिलाड़ियों को किया बाहर

मुरली ने जो कहा वही किया। उन्होंने भारत के खिलाफ गॉल में पहली पारी में पांच विकेट और दूसरी पारी में तीन विकेट लेकर इतिहास रच दिया।श्रीलंका ने 10 विकेट से मैच को आराम से जीता और मुरलीधरन ने बड़े पैमाने पर तालियां बटोरीं। मुरलीधरन टेस्ट इतिहास में 800 विकेट लेने वाले अकेले क्रिकेटर हैं। यह ऐसा रिकॉर्ड है जो शायद आगे हमेशा के लिए बरकरार रहे।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Saturday, May 30, 2020, 11:22 [IST]
Other articles published on May 30, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X