'सोचिए कितना मजा आएगा': पूर्व भारतीय बल्लेबाज ने की धोनी-रैना को विदेशी लीगों में खिलाने की मांग

नई दिल्ली: स्वतंत्रता दिवस पर, एमएस धोनी ने इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट के साथ अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से अपनी सेवानिवृत्ति की घोषणा की। यह लंबे समय से अटकलें थीं लेकिन धोनी ने आखिरकार पिछले हफ्ते फैसला किया। यह केवल धोनी ही नहीं थे, जिन्होंने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लिया था, सुरेश रैना ने भी धोनी के नक्शेकदम पर चलते हुए अपने जूते लटकाने का फैसला किया।

हालांकि, धोनी और रैना दोनों इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेलते रहेंगे।

विदेशी लीग खेलेंगे धोनी और रैना?

विदेशी लीग खेलेंगे धोनी और रैना?

लेकिन क्या धोनी या रैना के रिटायर होने के बाद बीबीएल या सीपीएल जैसी विदेशी लीग में खेलने की कोई गुंजाइश है? BCCI का एक नियम है जहां वे सक्रिय खिलाड़ियों को विदेशी लीग में भाग लेने की अनुमति नहीं देते हैं। खिलाड़ियों को विदेशी लीग में खेलने के लिए बीसीसीआई से अनापत्ति प्रमाणपत्र (एनओसी) प्राप्त करना पड़ता है, लेकिन वे इसे घरेलू और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद ही प्राप्त करते हैं।

आकाश चोपड़ा ने कहा- अनुमति दी जाए

आकाश चोपड़ा ने कहा- अनुमति दी जाए

भारतीय टीम के पूर्व बल्लेबाज और कमेंटेटर आकाश चोपड़ा चाहते हैं कि रैना और धोनी को विदेशी लीग में खेलने की अनुमति दी जाए, अगर वे भारतीय टीम के चयन के लिए खुद को प्रस्तुत नहीं कर रहे हैं। '

भारतीय ऑलराउंडर विजय शंकर ने की वैशाली संग सगाई की घोषणा, देखें तस्वीरें

"मुझे लगता है कि उन्हें अनुमति दी जानी चाहिए क्योंकि वे रिटायर हो गए हैं और अगर वे भारतीय टीम के लिए चयन के लिए खुद को प्रस्तुत नहीं कर रहे हैं, तो उन्हें जाने देने में कोई बुराई नहीं होनी चाहिए, "आकाश ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा

बीसीसीआई इन कारणों ने नहीं देता छूट-

बीसीसीआई इन कारणों ने नहीं देता छूट-

"बीसीसीआई अपने अनुबंधित खिलाड़ियों को विदेशी लीग में खेलने के लिए जाने नहीं देता है क्योंकि वे चोट का रिस्क नहीं चाहते हैं और इस प्रकार, वे उन्हें रहने के लिए पर्याप्त पैसा दे रहे हैं।"

"दूसरा पक्ष यह है कि बीसीसीआई अपने मार्की (बड़े) खिलाड़ियों को जाने नहीं देना चाहता है। क्योंकि अगर भारतीय मार्की खिलाड़ी अन्य लीग में खेलना शुरू कर देंगे तो आईपीएल में कोई नयापन नहीं बचेगा। "

चोपड़ा ने कहा- 33 साल के रैना विदेशों में लीग खेलें

चोपड़ा ने कहा- 33 साल के रैना विदेशों में लीग खेलें

इसलिए मुझे लगता है कि धोनी और रैना को खेलने की अनुमति दी जानी चाहिए। जरा सोचिए कि उन्हें खेलते हुए देखना कितना मजेदार होगा। मैं धोनी को विदेशी लीग में खेलते हुए नहीं देखता, लेकिन सुरेश रैना सिर्फ 33 वर्ष के हैं और वह अधिक क्रिकेट खेलना चाहते हैं, "उन्होंने कहा।

युवराज सिंह को रिटायरमेंट की घोषणा के बाद ही ग्लोबल टी 20 कनाडा में खेलने के लिए बीसीसीआई से एनओसी मिल गई थी। यह देखना बाकी है कि बिग बैश या सीपीएल जैसी लीग में भाग लेने के लिए रैना या धोनी बीसीसीआई से मंजूरी चाहते हैं या नहीं।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Friday, August 21, 2020, 12:25 [IST]
Other articles published on Aug 21, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X