BCCI कोषाध्यक्ष धूमल ने दिया भरोसा- भारत में ही होगा 2021 T20 वर्ल्ड कप

नई दिल्ली: BCCI के एक प्रमुख अधिकारी ने रायटर के हवाले से कहा है कि T20 वर्ल्ड कप 2021 को अगर बोर्ड कर छूट से सुरक्षित रखने में विफल रहा तो भी भारत अगले साल के टी 20 विश्व कप के लिए मेजबानी के अधिकार खोने के जोखिम में नहीं है। यहां बता दें कि यह वर्ल्ड कप भारत में होना है और आईसीसी ने बीसीसीआई से मांग की थी कि वह भारत में होने वाली वैश्विक क्रिकेट प्रतियोगिताओं को टैक्स छूट के दायरे में रखे ताकि आईसीसी के मुनाफे पर विपरीत फर्क नहीं पड़े। अगर बीसीसीआई ऐसा नहीं करेगा तो भारत को टी20 वर्ल्ड कप से हाथ धोने की धमकी तक दी गई थी।

हालांकि, बीसीसीआई के कोषाध्यक्ष अरुण सिंह धूमल ने रायटर को बताया कि ऐसा नहीं होगा और बातचीत जारी है। "टूर्नामेंट के लिए कोई जोखिम नहीं है," उन्होंने टेलीफोन द्वारा कहा। "यह एक कार्य प्रगति पर है। हम आईसीसी के साथ इस पर चर्चा कर रहे हैं और हम इसका समाधान करेंगे। "

भारतीय गेंदबाज ने किया खुलासा- छोटी उम्र में भी तेज गेंदबाजों से नहीं डरते थे विराट कोहलीभारतीय गेंदबाज ने किया खुलासा- छोटी उम्र में भी तेज गेंदबाजों से नहीं डरते थे विराट कोहली

ईएसपीएनक्रिकइन्फो द्वारा देखे गए पिछले दो महीनों के ई-मेल में, आईसीसी ने बीसीसीआई को बताया कि इस साल 18 मई तक भारतीय बोर्ड को इस समस्या का समाधान करना था। इसके बजाय बीसीसीआई कोविद -19 महामारी का हवाला देते हुए समय सीमा को कम से कम 30 जून तक बढ़ा देना चाहती थी।

3 T20Is, 4 Tests, 3 ODIs: भारत के ऑस्ट्रेलिया दौरे का पूरा शेड्यूल, तारीख और जगह3 T20Is, 4 Tests, 3 ODIs: भारत के ऑस्ट्रेलिया दौरे का पूरा शेड्यूल, तारीख और जगह

बता दें कि 2016 में भारत में कर अधिकारियों ने टी20 वर्ल्ड कप इवेंट को टैक्स छूट नहीं दी थी, इसलिए अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने BCCI के राजस्व में से लगभग 150 करोड़ रुपये काट लिए। ICC पुरुष और महिलाओं के T20 और 50 ओवर के विश्व कप और U-19 विश्व कप सहित आठ साल के चक्रों के लिए अपने कार्यक्रमों के लिए मीडिया अधिकार बेचता है। यह उसकी आय का सबसे बड़ा स्रोत है। यही कारण है कि यह इन इवेंट की मेजबानी करने वाले देशों से कर छूट की मांग करता है।

आईसीसी के प्रवक्ता ने रायटर को बताया, "समझौतों के भीतर कुछ समय सीमा होती है, जिसमें हम सामूहिक रूप से काम करते हैं ताकि हम यह सुनिश्चित कर सकें कि हम विश्व स्तर के सफल आयोजन कर सकें और क्रिकेट के खेल में निवेश कर सकें।"

"इसके अलावा आईसीसी बोर्ड ने उन कर मुद्दों के समाधान के लिए स्पष्ट समयसीमा पर सहमति व्यक्त की, जिनके द्वारा हमें निर्देशित किया जाता है।"

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Friday, May 29, 2020, 10:58 [IST]
Other articles published on May 29, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X