B'day Special : धोनी का 'नंबर 7' से रहा है खास कनेक्शन, यूं ले गया फर्श से अर्श तक

नई दिल्ली। विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी आज यानि की 7 जुलाई को 39 साल के हो चुके हैं। धोनी ने जब क्रिकेट में कदम रखा तो तब से ही भारतीय क्रिकेट में चार चांद लग गए। धोनी ने दिसंबर 2004 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पहला कदम रखा था। तब से लेकर अबतक लगातार भारत के लिए अपना अहम योगदान देते आए हैं। अपने 15 साल के करियर के बीच धोनी टीम के लिए वो काम कर गए जो किसी अन्य टीम के कप्तान के लिए दोहराना आसान नहीं रहने वाला। 2007 में टीम की कप्तानी संभालने से लेकर अब तक धोनी के करियर में सात नंबर ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। खुद धोनी भी अपने लिए सात नंबर को बहुत लक्की मानते हैं। आइए जानते हैं कि उनके और सात नंबर के बीच क्या कनेक्शन है-

'शब्दों में बयां नहीं हो सकता धोनी का काम'- माही के 39वें जन्मदिन पर वकार यूनिस ने कही बड़ी बात'शब्दों में बयां नहीं हो सकता धोनी का काम'- माही के 39वें जन्मदिन पर वकार यूनिस ने कही बड़ी बात

जानिए धोनी का नंबर 7 से रहा खास 'कनेक्शन'

जानिए धोनी का नंबर 7 से रहा खास 'कनेक्शन'

- धोनी का जन्मदिन सातवें महीने की 7 तारीख को आता है। धोनी का जन्म 7 जुलाई,1981 को हुआ था और शायद यही कारण है कि उनके करियर के साथ नंबर सात जुड़ गया।

- उनकी टीम इंडिया और आईपीएल की जर्सी का नंबर भी सात ही है।

- वह अपनी हर नई गाड़ी और बाइक खरीदते समय पूरी कोशिश करते हैं कि रजिस्ट्रेशन में नंबर 7 ही मिले। जब उन्होंने विदेश से हमर एच2 मंगाई थी तो उन्होंने उसका नंबर खासतौर पर 7781 लिया था। क्योंकि ये उनके जन्मदिन की तारीख (7 जुलाई 1981) है।

-धोनी की शादी की खास बात ये थी कि धोनी ने बेशक हड़बड़ी में ये शादी की लेकिन महीना 7वां ही चुना। धोनी और साक्षी की शादी 4 जुलाई 2010 को हुई थी।

-धोनी के करियर से जुड़ा एक दिलचस्प आंकड़ा है कि उनके करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी जो उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ (183) खेली थी, उसमें उन्होंने 10 छक्के लगाए थे और ऐसा करने वाले वो दुनिया के सातवें बल्लेबाज थे।

- धोनी ने जब वनडे क्रिकेट में 7 हजार रन पूरे किए, तो वो ऐसा करने वाले भारत के सातवें बल्लेबाज बने।

- माही को नंबर सात से इतना प्यार है कि उन्होंने 2013 के दौरान '7 By एमएस धोनी' के नाम से परफ्युम भी लॉन्च किया था, जिसे फैंस ने खूब प्यार दिया।

- क्रिकेट की दुनिया के जेम्स बॉन्ड धोनी ने भारत को टी-20 विश्व कप में भी 2007 के दौरान जीत दिलाई थी। उस समय किसी ने भी नहीं सोचा था कि टीम इंडिया विश्व कप जीत पाएगी, लेकिन माही ने अनहोनी को होनी कर दिखाया।

- धोनी की अगुवाई में जब चेन्नई सुपर किंग्स ने तीसरे सीजन में अपना पहला खिताब जीता, तो उस समय भी तारीख 7 अप्रैल थी।

रेलवे में कर चुके हैं नौकरी

रेलवे में कर चुके हैं नौकरी

धोनी बिहार रणजी टीम के लिए खेलते थे और इसी दौरान रेलवे में बतौर टिकट कलेक्टर उनकी नौकरी लग गई। धोनी की पहली पोस्टिंग पश्चिम बंगाल के खड़गपुर में हुई थी और 2001 से 2003 तक धोनी खड़गपुर के स्टेडियम में क्रिकेट खेला करते थे। दोस्तों के मुताबिक ईमानदारी से अपनी नौकरी करने वाले धोनी जितना ड्यूटी के दौरान लगन से काम करते थे, उतना ही समय क्रिकेट को भी दिया करते थे। धोनी वहां रेलवे की टीम के लिए भी खेला करते थे।

ऐसे मिली थी टीम में जगह

ऐसे मिली थी टीम में जगह

साल 2003-2004 में धोनी को जिंबाब्वे और केन्या दौरे के लिए भारतीय ‘ए' टीम में चुना गया। जिंबाब्वे के खिलाफ उन्होंने विकेटकीपर के तौर पर बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए 7 कैच और 4 स्टंपिंग कीं। इस दौरे पर बल्लेबाजी करते हुए धोनी ने 7 मैचों में 362 रन भी बनाए। धोनी के प्रदर्शन को देखते हुए तत्कालीन टीम इंडिया के कप्तान सौरव गांगुली ने उन्हें टीम में लेने की सलाह दी। 2004 में धोनी को पहली बार टीम इंडिया में जगह मिली।

दर्ज हैं ये रिकाॅर्ड

दर्ज हैं ये रिकाॅर्ड

धोनी बताैर कप्तान भारत को आईसीसी विश्व कप की तीनों खिताब दिलाने वाले इकलाैते कप्तान हैं। उनकी कप्तानी में भारत ने 2007 में टी20 विश्व कप, 2011 में एकदिवसीय विश्व कप और 2013 में चैम्पियन्स ट्राॅफी का खिताब जीता था। भारत की तरफ से सबसे ज्यादा टेस्ट (60), वनडे (200) और टी20 अंतरराष्ट्रीय (72) में कप्तानी का रिकॉर्ड भी माही के ही नाम है। साथ ही भारत की तरफ से सबसे ज्यादा टेस्ट (27), वनडे (110) और टी20 अंतरराष्ट्रीय (41) जीतने वाले कप्तान भी हैं। इसके अलावा धोनी अपने बल्लेबाजी क्रम के साथ लचीले रहे हैं और बल्लेबाजी क्रम में लगभग हर स्थान पर बल्लेबाजी की है। हालांकि अपने करियर के अधिकांश समय उन्होंने नंबर 6 पर बल्लेबाजी की है। एकदिवसीय मैचों में अब तक धोनी ने 125 पारियों में छठे नंबर पर बल्लेबाजी की है और 46.79 की औसत से 4024 रन बनाए हैं। धोनी के नाम वनडे में नंबर 6 पर बल्लेबाजी करते हुए सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड है।

ऐसा काम करने वाले इकलाैते

ऐसा काम करने वाले इकलाैते

खिलाड़ी धोनी को उनके छक्के लगाने के लिए जाना जाता है। वनडे क्रिकेट में रोहित शर्मा के बाद धोनी भारत के लिए सबसे ज्यादा छक्का जड़ने वाले बल्लेबाज हैं। वह शाहिद अफरीदी, क्रिस गेल, सनथ जयसूर्या और रोहित शर्मा के बाद दुनिया में सबसे ज्यादा छक्के लगाने के मामले में चौथे स्थान पर हैं। धोनी 9 मौकों पर छक्का जड़कर टीम को जीत दिलाने वाले एकमात्र खिलाड़ी हैं।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Tuesday, July 7, 2020, 10:03 [IST]
Other articles published on Jul 7, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X