पाकिस्तानी पेसर ने उठाये कोहली की तकनीक पर सवाल, कहा- आम एशियाई बल्लेबाजों जैसी है दिक्कत

IND vs ENG
Photo Credit: ICC/Twitter

नई दिल्ली। पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज आकिब जावेद ने भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही 5 मैचों की टेस्ट सीरीज के तीसरे मैच में भारतीय टीम की हार के बाद कप्तान विराट कोहली की बल्लेबाजी तकनीक पर सवाल उठाये हैं। उल्लेखनीय है कि भारत और इंग्लैंड के बीच खेली जा रही 5 मैचों की टेस्ट सीरीज का तीसरा मैच हेडिंग्ले के मैदान पर खेला गया जिसमें भारतीय टीम पहली पारी में महज 78 रन पर सिमट गई और इंग्लैंड की टीम ने जवाब में 432 रनों का विशाल स्कोर खड़ा कर दिया और नतीजन इंग्लैंड की टीम ने 76 रन और एक पारी से जीत हासिल की।

और पढ़ें: Tokyo Paralympics: तीरंदाजी के क्वार्टरफाइनल से बाहर हुई राकेश-ज्योति की जोड़ी, सिर्फ 2 अंक से मिली हार

इस जीत के साथ ही इंग्लैंड की टीम ने सीरीज में वापसी कर ली है और अब श्रृंखला 1-1 की बराबरी पर पहुंच चुकी है। वहीं भारतीय टीम की हार के बाद पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज आकिब जावेद ने विराट कोहली की तकनीक को आम एशियाई बल्लेबाज की तरह बताया। आकिब का मानना है कि भारतीय टीम के कप्तान की कमजोरी ऐसी परिस्थितियों में निकलकर सामने आ जाती है जहां पर गेंद थोड़ी सी स्विंग और सीम करती नजर आती है।

और पढ़ें: IND vs ENG: टेस्ट क्रिकेट में जो रूट बने इंग्लैंड के सर्वश्रेष्ठ कप्तान, वॉन को पीछे छोड़ने पर जानें क्या बोले

आम एशियाई खिलाड़ियों की तरह हैं विराट कोहली

आम एशियाई खिलाड़ियों की तरह हैं विराट कोहली

पाकटीवी डॉट टीवी की यूट्यूब चैनल के साथ बात करते हुए जावेद ने अपने विचार रखे हैं और कहा कि विराट कोहली के लिये ऑस्ट्रेलिया में सफल होना अब बड़ी मुसीबत नहीं रही है जबकि इंग्लैंड और साउथ अफ्रीका की सरजमीं पर रन बनाना भारतीय कप्तान के लिये अभी भी बड़ा काम नजर आता है।

उन्होंने कहा,' कोहली एक आम एशियाई खिलाड़ी की तरह है जो कि ऑस्ट्रेलिया में तो सफल हो सकते हैं लेकिन इंग्लैंड और साउथ अफ्रीका जैसी जगह जहां पर गेंद को स्विंग और सीम करते देखा जाता है, वहां पर वो गेंद का पीछा करते हैं और कंट्रोल्ड स्विंग के खिलाफ अपना विकेट गंवा देते हैं।'

कोहली से बेहतर है जो रूट की तकनीक

कोहली से बेहतर है जो रूट की तकनीक

इंग्लैंड में जारी मौजूदा सीरीज की बात करें तो भारतीय कप्तान विराट कोहली कुछ खास लय में नजर नहीं आ रहे हैं। पहले 3 मैचों की 5 पारियों में कप्तान विराट कोहली 24.80 की औसत से महज 124 रन ही बना सके हैं और ऑफ स्टंप से निकल रही गेंदों को छेड़ने के चक्कर में कई बार अपना विकेट गंवाते नजर आये हैं।

वहीं पर विराट कोहली के विपक्ष में खड़े कप्तान जो रूट के लिये यह सीरीज किसी सपने की तरह गुजर रही है, जिसमें इस दिग्गज खिलाड़ी ने 3 शतक और एक अर्धशतक की मदद से अब तक 126.75 की औसत से 507 रनों का पहाड़ खड़ा कर दिया है। जावेद ने इसको लेकर जो रूट की तकनीक की तारीफ की और कहा कि सीमिंग कंडीशन्स में रूट की तकनीक कोहली से काफी बेहतर नजर आ रही है।

उन्होंने कहा,' जो रूट की देर से खेलने की तकनीक उन्हें इन परिस्थितियों में कोहली से ज्यादा सुरक्षित बताती है और वो जानते हैं कि गेंद को कैसे खेलना चाहिये।'

 बल्लेबाजों पर पड़ता है भौतिक परिस्थितियों का असर

बल्लेबाजों पर पड़ता है भौतिक परिस्थितियों का असर

जावेद ने आगे कहा कि उपमहाद्वीप के बल्लेबाज जब गेंद ज्यादा स्विंग नहीं करती है तो गेंद की लाइन में जाकर शॉट मारते हैं, हालांकि सेना देशों के बल्लेबाज स्पिन के खिलाफ खेलने में मुश्किलात का सामना करते हैं।

उन्होंने कहा,' क्रिकेट में किसी खिलाड़ी के विकास में उसके देश की भौतिक परिस्थितियां काफी अहम रोल निभाती हैं, उदाहरण के तौर पर इंग्लैंड में गेंद अक्सर घूमती नजर आती है और मैच के अंत में गेंद स्पिन भी होती है, इसके चलते ही खिलाड़ी ऐसी मुश्किल परिस्थितियों में खेलने के आदी होते हैं। वहीं पर उपमहाद्वीप से आने वाले खिलाड़ी गेंद के ज्यादा घूमने की चिंता नहीं करते हैं और लाइन में जाकर खेलते हैं। वहीं पर सेना देश के खिलाड़ी घूमती गेंदों को मारने के आदी होते हैं। लेकिन जैसे ही गेंद थोड़ा घूमने और नीचे रहने लगती है वो बेअसर होते नजर आते हैं।'

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Sunday, August 29, 2021, 17:11 [IST]
Other articles published on Aug 29, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X