2011 विश्व कप पर गौतम गंभीर का बड़ा बयान, कहा- जीतकर नही किया किसी पर एहसान

Gautam Gambhir on 10th Anniversary of 2011 World Cup Win says Didn't do anyone favours, time to move beyond 2011: नई दिल्ली। साल 2011 में भारत की मेजबानी में हुए वनडे विश्व कप की 10वीं वर्षगांठ को लेकर आईसीसी इस समय खास तरह से सेलिब्रेशन कर रहा है। इसी को लेकर फाइनल मैच में अहम भूमिका निभाने वाले गौतम गंभीर से एक इंटरव्यू लिया गया जहां पर उन्होंने 10वीं वर्षगांठ को लेकर फैली उत्सुकता को बकवास करार देते हुए कहा कि हमने वही किया जिसके लिये हमें चुना गया था, विश्व कप जीत कर हमने किसी पर एहसान नहीं किया है। गौतम गंभीर ने इस पर बात करते हुए कहा कि मुझे समझ नहीं आता कि इस खिताबी जीत को मिले 10 साल होने के बाद भी लोग इसको लेकर आज भी इतना उत्सुक क्यों हैं।

उल्लेखनीय है कि 2 अप्रैल 2011 को भारत ने श्रीलंका के खिलाफ खेले गये इस फाइनल मैच में गौतम गंभीर की 97 रनों की पारी और महेंद्र सिंह धोनी के नाबाद अर्धशतक की मदद से दूसरा विश्व कप जीतने का काम किया था। इसी की 10वीं वर्षगांठ को लेकर न्यूज एजेंसी पीटीआई ने गौतम गंभीर से खास बात चीत की जिसमें उन्होंने लोगों को उस जीत से आगे बढ़ने के लिये कहा है।

NZ vs BAN: टिम साउथी ने टी20 क्रिकेट में रचा इतिहास, तोड़ा शाहिद अफरीदी का बड़ा रिकॉर्ड

गंभीर ने कहा कि मुझे ऐसा लगता ही नहीं कि यह कल की बात है, कम से कम मेरे लिये तो नहीं। इस बात को अब 10 साल बीत चुके हैं। मैं ऐसा व्यक्ति नहीं हूं जो पीछे मुड़कर देखने में विश्वास नहीं रखता है, बेशक यह हमारे लिये काफी गौरवशाली लम्हा था लेकिन अब भारतीय क्रिकेट के आगे बढ़ने का समय आ गया है। हमें चाहिये कि हम अगला विश्व कप जल्दी से जल्दी जीतें।

उन्होंने कहा,'मैं ऐसा ही हूं, गंभीर का मानना है कि लोगों को अतीत की यादों में जीने की ज्यादा जरूरत नहीं होना चाहिये। विश्व कप 2011 में जिन भी खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया उन्होंने अपनी प्रोफेशनल जिम्मेदारी के तहत ही किया। 2011 में हमने कुछ भी ऐसा नहीं किया जो हमें नहीं करना चाहिये था, हमें विश्व कप में खेलने के लिये ही चुना गया था, हम विश्वकप खेलने के लिये नहीं उतरे थे बल्कि जीतने के लिये उतरे थे और हमने वही किया।'

3 कारण जिसके चलते IPL 2021 में फिर प्लेऑफ तक नहीं पहुंच पायेगी CSK की टीम

गौतम गंभीर ने आगे कहा कि मेरे अंदर विश्व कप को लेकर कोई भावना नहीं बची है। हमने कोई आसाधरण काम नहीं किया, हां हमने अपने देश के लिये कुछ गौरव के पल जरूर कमाये लेकिन हमें अब अगले विश्व कप पर ध्यान लगाना चाहिये।

उन्होंने कहा, 'पीछे मुड़कर देखने से किसी का फायदा नहीं होता, अगर हम 2015 या 2019 के विश्व कप को जीतते तो शायद हम विश्व क्रिकेट में सुपरपावर होते और उससे मुझे ज्यादा खुशी होती लेकिन अब इस बात को 10 साल बीत चुके हैं और हमने दूसरा कोई विश्व कप नहीं जीता।'

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Thursday, April 1, 2021, 19:38 [IST]
Other articles published on Apr 1, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X