IND vs ENG: 3 विकल्प जो सीरीज का रिजल्ट निकालने के लिए भारत-इंग्लैंड के पास मौजूद थे

मैनचेस्टर: भारतीय क्रिकेट टीम ने मौजूदा टेस्ट सीरीज का अंतिम मुकाबला खेलने से इनकार कर दिया है जिसके चलते इंग्लैंड के खिलाफ होने जा रहा यह पांचवा टेस्ट मैच कैंसिल हो गया है। इंग्लिश क्रिकेट बोर्ड के बयान के मुताबिक भारतीय टीम को डर था कि उनके सदस्यों में कोविड-19 के मामले बढ़ सकते हैं और वे मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रैफर्ड में यह मुकाबला खेलना नहीं चाहते थे।

भारतीयों का यह रुख तब आया जब भारत टीम के जूनियर सपोर्ट स्टाफ का एक सदस्य कोविड-19 पॉजिटिव पाया गया और यह टेस्ट मैच शुरू होने से 1 दिन पहले की बात है। जो भी है यह एक अच्छी सीरीज का बड़ा ही शर्मनाक अंत लगता है क्योंकि हमने भारत और इंग्लैंड दोनों की ओर से ही कुछ बेहतरीन टेस्ट क्रिकेट देखा जिसमें चार टेस्ट मैच हो चुके थे और भारतीय क्रिकेट टीम 2-1 से आगे चल रही थी।

ऐसी स्थिति में नतीजे कैसे निकलते हैं-

ऐसी स्थिति में नतीजे कैसे निकलते हैं-

अब जब अंतिम मैच कैंसिल हो चुका है तो बड़ा सवाल यह है क्या भारत ने 2-1 से यह सीरीज जीती है या फिर उन्होंने खुद ही टेस्ट मैच खेलने से इनकार किया है और इंग्लैंड को इस मुकाबले का विजेता ऑटोमेटिक मान लिया जाएगा और श्रंखला को 2-2 से ड्रा बता दिया जाएगा?

फिलहाल सामने आ रही जानकारी ये बताती है कि इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड मैच खेलना चाहता था लेकिन भारतीयों को कोरोना को लेकर कई आशंकाएं थी जिसके चलते इंग्लैंड के पास भी कोई और विकल्प नहीं बचा है। शुरुआती आसार तो इसी बात के लग रहे थे कि भारत ने इस मैच को ना खेलकर इंग्लैंड के हाथों में बैठे-बिठाए एक जीत दे दी है लेकिन बीसीसीआई ने मैच को रिशेड्यूल करने का फैसला किया है। आइए देखते हैं ऐसे हालातों में सीरीज के नतीजों को लेकर आसार क्या कहते हैं।

'पाजी आप अब भी शरारती हो', युवराज के बचपन की फोटो पर शुभमन गिल का मजेदार कमेंट

ECB और BCCI ने मिलकर तय किया फैसला-

ECB और BCCI ने मिलकर तय किया फैसला-

यह सीरीज अभी भी बैलेंस में है क्योंकि इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड और बीसीसीआई आपस में तय कर चुके हैं कि आगे किस तरीके से बढ़ा जाए। पहले यह रिपोर्ट आई थी कि मैच को एक या 2 दिन आगे बढ़ा दिया जाएगा लेकिन भारतीय टीम के लिए आईपीएल इतना अहम था कि उन्होंने ऐसा करने से साफ इनकार कर दिया अब पांचवें टेस्ट मैच को कैंसिल करने के अलावा चारा ही नहीं बचा।

इस समय तीन तरह की सूरते हाल दिखाई देती है जिसमें नंबर 1 तो यह होती कि दोनों क्रिकेट बोर्ड मौजूदा स्थिति को अंतिम मान ले और भारत को यह सीरीज एक 2-1 से जीतने दें। दूसरा सूरते हाल यह होता कि भारतीय क्रिकेट बोर्ड इस मैच को खेलने में नाकाम रहने के चलते इंग्लैंड को यह मुकाबला भेट कर दे और सीरीज ड्रा हो जाए या फिर तीसरा सिनेरियो यह बैठता कि आगे कभी यह फाइनल टेस्ट मैच खेला जाए। यानी कि जब भारतीय टीम के पास अगले साल समय होगा तो वे इंग्लैंड में इस मैच को खेलने के लिए एक विंडो बना सकते हैं।

WTC के चलते अब टेस्ट यूं ही रद्द करने बहुत मुश्किल होंगे-

WTC के चलते अब टेस्ट यूं ही रद्द करने बहुत मुश्किल होंगे-

भारतीय क्रिकेट टीम को अगले साल इंग्लैंड का दौरा करना है जहां पर कोई भी टेस्ट मैच नहीं है। केवल T20 और वनडे मैच खेले जाने हैं, ऐसे में एक टेस्ट मैच को खेलने की गुंजाइश वहां पर बन सकती है।

सबसे बड़ा मामला यह था कि वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप पहले से ही जारी है और कोई भी टीम अपने अंको को बिना खेले गंवाना नहीं चाहेगी। इंग्लैंड बैठे-बिठाए भारत के हाथों हारना नहीं चाहेगा जबकि भारतीय टीम भी बिना मैच खेले इंग्लैंड को एक टेस्ट मैच यूंही कैसे जीतने दे सकती है। ऐसे में बीसीसीआई ने तय किया है कि यह मैच फिर से कभी दोबारा रिशेड्यूल किया जाएगा।

अब आईपीएल 19 सितंबर से हो रहा है और फिर T20 वर्ल्ड कप है ऐसे में आने वाले महीनों में इस टेस्ट मैच को खेलना बिल्कुल असंभव दिखाई देता है। शायद अगले साल ही कभी यह मैच फिर खेला जाएगा।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Friday, September 10, 2021, 15:44 [IST]
Other articles published on Sep 10, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X