सुनील गावस्कर ने कहा, रोहित का शतक आसपास है, लॉर्ड्स में ही सेंचुरी मारना सब कुछ नहीं होता

नई दिल्लीः हमने देखा है रोहित शर्मा हाल के टेस्ट मैचों में कुछ अच्छी पारियां खेलने में कामयाब हैं लेकिन बड़ा शतक नहीं आ रहा है। फिर भी उनकी स्थिति विराट कोहली से बहुत बेहतर है जो अच्छी पारी अभी खेलने में फिलहाल नाकाम चल रहे हैं। रोहित को लेकर कोई भी शिकायत नहीं कर सकता है क्योंकि यह बल्लेबाज लगातार अपना काम कर रहा है और उन्होंने लॉर्ड्स टेस्ट की पहली पारी में 83 रन बनाए थे।

हालांकि दूसरी पारी में वे कुछ नहीं कर पाए थे। लेकिन मुश्किल परिस्थितियों में रोहित जिस तरीके से काम की साझेदारियां करते हैं वह भारत के लिए काफी फायदेमंद साबित होती है और उन्होंने पार्टनर केएल राहुल के साथ शतकीय साझेदारी करके टीम को मजबूत नीव दी थी। भारत के लिए इस मैच में अगर जीत की स्थिति बनी तो इस साझेदारी ने बहुत अहम रोल निभाया था जो बाद में हमको उतना पता नहीं चला क्योंकि बहुत ही नाटकीय तरीके से यह टेस्ट मैच पलटा था जिसमें जीत का सेहरा मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह के सिर बंधा।

लेकिन रोहित का योगदान भी किसी से कम नहीं था, बावजूद इसके कि मैन ऑफ द मैच भी केएल राहुल ले उड़े। बल्लेबाजी लीजेंड सुनील गावस्कर ने रोहित शर्मा के प्रयास की तारीफ की है और बताया है कि वह पहली गेंद से ही अपने मानसिक संतुलन को किस तरीके से बनाते हैं। क्योंकि तब पता नहीं चलता कि पिच किस तरीके से बर्ताव करेगी।

अफगानिस्तान सीरीज को लेकर PCB अभी यकीन में नहीं, पक्के वायदे के बाद ही घोषित करेगा टीमअफगानिस्तान सीरीज को लेकर PCB अभी यकीन में नहीं, पक्के वायदे के बाद ही घोषित करेगा टीम

सुनील गावस्कर ने सोनी स्पोर्ट्स से बात करते हुए बताया, "5 दिन के टेस्ट मैच में आपको पहले दिन नहीं पता होता कि किस तरीके से पिच बर्ताव करने जा रही है। ऐसे में आपको थोड़ा समय चाहिए होता है और कुछ एडजस्टमेंट करने होते हैं जो कि रोहित शर्मा ने पहली पारी में की है और उन्होंने यह जिस तरीके से की है वह बहुत ही जबरदस्त है। आप देखिए वे किस तरीके से गेंदों को छोड़ रहे थे, कुछ गेंदों को ऑफ स्टंप के बिल्कुल पास से जाने दे रहे थे। यह सभी संतुलन आपके दिमाग में बनाए जाते हैं और यहीं पर रोहित शर्मा ने दर्शाया है कि वह अच्छे खिलाड़ी हैं।"

गावस्कर कहते हैं कि लॉर्ड्स में शतक बनाना ही सब कुछ नहीं है और रोहित शर्मा की यह पारी भारत के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। गावस्कर बताते हैं, "यह सब चीजें हमें एक खिलाड़ी से उम्मीद बांधती है। अगर आपके पास एक ऐसा प्लेयर है जो 80 रन बनाने की गारंटी दे तब 5 मैचों की टेस्ट सीरीज में वह 400 या 450 रन बना लेगा और कप्तान को इससे ज्यादा क्या चाहिए? हां, वे निराश होंगे कि शतक नहीं बना पाए लेकिन लॉर्ड्स में शतक बनाना ही सब कुछ नहीं होता। आप ट्रेंट ब्रिज या लीड्स में भी शतक बना सकते हैं।"

गावस्कर ने कहा जिस तरीके से रोहित बैटिंग कर रहे हैं, ऐसा लगता है शतक आने वाला है। रोहित अब 25 अगस्त को मैदान में उतरेंगे जब तीसरे टेस्ट में भारत-इंग्लैंड लीड्स में खेलेंगे।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Saturday, August 21, 2021, 17:04 [IST]
Other articles published on Aug 21, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X