जानें कौन हैं भारत के खिलाफ 10 विकेट चटकाने वाले एजाज पटेल, कभी बनना चाहते थे तेज गेंदबाज

IND vs NZ
Photo Credit: ICC/Twitter

नई दिल्ली। भारत और न्यूजीलैंड के बीच दो मैचों की टेस्ट सीरीज का आखिरी मैच वानखेड़े के मैदान पर खेला जा रहा है, जहां पर टॉस जीतने के बाद भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 325 रनों का स्कोर खड़ा किया। भारतीय टीम के लिये इस पारी में मयंक अग्रवाल (150) ने शतक, अक्षर पटेल (52) ने अर्धशतक और शुबमन गिल (44) ने अहम पारी खेली और टीम को एक अच्छे स्कोर पर पहुंचाया। हालांकि भारतीय खिलाड़ियों के इस शानदार प्रदर्शन के बावजूद वानखेड़े के मैदान पर खेले जा रहे इस मैच ने इतिहास के पन्नों में अपना नाम ऐसे भारतीय खिलाड़ी के लिये दर्ज करा लिया जो कि न्यूजीलैंड की टीम से खेलते हैं। हम बात कर रहे हैं न्यूजीलैंड के लेफ्ट ऑर्म स्पिनर एजाज पटेल की जिनका जन्म मुंबई में ही हुआ था और 11 साल पहले वो न्यूजीलैंड शिफ्ट हो गये थे।

और पढ़ें: IND vs NZ: वानखेड़े में चला एजाज पटेल का जादू, एक ही पारी में 10 विकेट लेकर रचा इतिहास

ऐसे में शायद ही किसी ने सोचा होगा कि मुंबई में जन्मा यह खिलाड़ी जब भारत आकर अपने होमटाउन पर मैच खेलेगा तो इतिहास रच देगा। एजाज पटेल ने वानखेड़े के मैदान पर खेले जा रहे इस टेस्ट मैच में 119 रन देकर सभी 10 विकेट अपने नाम किये और एक ही पारी में सभी 3 विकेट लेने वाले तीसरे गेंदबाज बन गये हैं। वह इस फेहरिस्त में जिम लेकर, अनिल कुंबले के साथ शामिल हो गये हैं।

और पढ़ें: IND vs SA: तय समय पर ही होगी टेस्ट-वनडे सीरीज, टी20 को लेकर लिया बड़ा फैसला

इस वजह से लिया स्पिनर बनने का फैसला

इस वजह से लिया स्पिनर बनने का फैसला

एजाज ने इस मैच में शानदार गेंदबाजी करते हुए भारत के खिलाफ सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाले गेंदबाज का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है, फिर चाहे वो भारतीय सरजमीं हो या फिर विदेशी सरजमीं पर। हालांकि आपको यह जानकर हैरानी होगी कि कीवी टीम का यह गेंदबाज पहले स्पिन नहीं बल्कि तेज गेंदबाज बनना चाहता था। 11 साल पहले जब एजाज पटेल सर्रे के क्रैनले क्रिकेट क्लब में युवा क्रिकेटर के तौर पर खेला करते थे तो उन्होंने अपनी गेंदबाजी की स्टाइल को बदलने का फैसला किया।

एजाज पटेल ने अपना सारा बचपन बतौर लेफ्ट ऑर्म पेसर के तौर पर खेला लेकिन जब न्यूजीलैंड ने अंडर-19 की टीम के लिये उनका चयन नहीं किया तो उन्हें दोबारा सोचने पर मजबूर होना पड़ा। 5 फुट 8 इंच की ऊंचाई वाले एजाज पटेल को यह पता था कि वह सीम गेंदबाज बनने के लिये जो कर सकते थे वह कर चुके हैं और अगर उन्हें कीवी टीम के लिये खेलने के अपने सपने को पूरा करना है तो उन्हें कुछ अलग करना होगा। इस वक्त उन्होंने अपनी गेंदबाजी की स्टाइल को बदलते हुए स्पिन फेंकने का फैसला किया। अक्षर पटेल ने पूर्व कीवी स्पिनर दीपक पटेल के साथ घंटों समय बिताकर अपनी स्पिन गेंदबाजी के एक्शन को तैयार किया और क्रैनले के लिये खेलते हुए खुद को बतौर स्पिनर उभारा।

मुंबई में बीता है एजाज पटेल का बचपन

मुंबई में बीता है एजाज पटेल का बचपन

पटेल का जन्म मुंबई में हुआ था और 8 साल की उम्र तक वह अपने परिवार के साथ यहीं रहा करते थे, हालांकि जब उनके घरवालों ने न्यूजीलैंड एमिग्रेट होने का फैसला किया। पटेल ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया था कि परिवार वालों के लिये एक नये देश में मूव करना जहां कि संस्कृति काफी अलग हो मेरे लिये एक बड़ी चुनौती थी। मैं पहले वहां खुद को एडजस्ट करने में लगा हुआ था और इस दौरान अपने रिश्तेदारों से मिलता रहता है। एक बार उन्होंने मुझे मेरे भाइयों के साथ क्लब क्रिकेट में जाकर खेलने को कहा और मैंने अच्छा किया जिसके बाद से उन्होंने मुझे क्रिकेट करियर पर काम किया। मेरे पिता ने काफी चुनौतियों के बावजूद खेल से जुड़ी हर चीज के लिये सपोर्ट किया और यह कहना गलत नहीं होगा कि मुझे यहां तक पहुंचाने में उन्ही का योगदान है।

5 विकेट हॉल के साथ की करियर की शुरुआत

5 विकेट हॉल के साथ की करियर की शुरुआत

गौरतलब है कि जब अंडर-19 टीम में एजाज पटेल का चयन नहीं हुआ तो उन्होंने तेज गेंदबाजी के बजाय स्पिनर बनने का फैसला किया और काफी मेहनत करने के बाद इस कला में माहिर हो गये। थोड़े समय के बाद वह स्पिन से विकेट निकालने में भी कामयाब होने लगे और प्लंकेट शील्ड टूर्नामेंट में 2015-16 से लेकर 2018 तक लगातार 3 सीजन में सबसे ज्यादा विकेट चटकाने वाले गेंदबाज बने जिसके बाद उन्हें पाकिस्तान के खिलाफ यूएई में होने वाले दौरे के लिये चुना गया। उन्होंने अपनी छाप छोड़ने में ज्यादा समय नहीं लगाया और पहले ही मैच की चौथी पारी में 5 विकेट हासिल कर कीवी टीम को 4 रनों से जीत दिलाई। इसके चलते उन्हें मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार भी दिया गया।

पटेल तब से लेकर अब तक 11 टेस्ट मैच खेल चुके हैं और 19 पारियों में 2.74 की इकॉनमी एवं 27.21 की स्ट्राइक रेट से 39 विकेट चटका चुके हैं। वानखेड़े में खेले जा रहे इस मैच में एजाज पटेल ने इतिहास रचते हुए कीवी टीम की ओर से सबसे बेहतरीन गेंदबाजी का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया और इस मामले में पूर्व दिग्गज गेंदबाज रिचर्ड हेडली को पीछे छोड़ दिया।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Saturday, December 4, 2021, 14:35 [IST]
Other articles published on Dec 4, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X