IPL 2020: KXIP की MI के खिलाफ 3 बड़ी गलतियां, जिनको अगले मुकाबले में जरूर सुधारना होगा

नई दिल्लीः राहुल बनाम रोहित के बीच का मुकाबला एकतरफा मामला बन गया जब गत चैंपियन मुंबई इंडियंस ने फिर दिखाया आखिर क्यों वे चार बार के चैम्पियन रह चुके हैं। मुबई जब अपने दिन पर खेलती है तो बहुत ही दर्शनीय टीम नजर आती है। फिर ऐसा लगता है जैसे मुंबई का मुकाबला करने का दम चेन्नई सुपर किंग्स में ही है लेकिन यही आईपीएल की खासियत है कि उनके प्रतिद्वंदी इस समय सबसे निचले पायदान पर हैं और रोहित एंड कंपनी शीर्ष पर विराजमान होकर अपनी ताकत की बानगी दिखा रहे हैं।

मुंबई इंडियंस ने किंग्स इलेवन पंजाब को ऐसे मसल दिया मानो ये कोई कच्ची टीम हो जबकि आपको बता दें कि किंग्स इलेवन इस प्रतियोगिता में एक अलग टीम नजर आई है और अपने चार मुकाबलों में ये उसका पहला मैच था जिसमे वो खराब खेली है। यह विडंबना ही है कि किंग्स इलेवन अपने चार में से 3 मैच हार चुकी है जबकि मैदानी प्रदर्शन उसका शानदार रहा है। आइए देखते हैं इस हार में केएल राहुल की टीम किन 3 गलतियों से सबक ले सकती है-

1. एक वास्तविक पांचवें गेंदबाज के बिना खेलना

1. एक वास्तविक पांचवें गेंदबाज के बिना खेलना

राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ KXIP ने अपना आखिरी गेम गंवा दिया, क्योंकि राहुल तेवतिया ने IPL 2020 की सबसे लोकप्रिय पारी में से एक खेली और रातों-रात किवदंती बन गए। लेकिन मुंबई के खिलाफ इस मुकाबले में पंजाब के पास गेंदबाजी योजना का अभाव था और ऐसा लग रहा था कि उन्हें एक अतिरिक्त गेंदबाज की जरूरत है। चार वास्तविक गेंदबाजों के साथ, KXIP जिमी नीशम और ग्लेन मैक्सवेल को अपने हरफनमौला के रूप में खिलाते हैं, लेकिन उनमें से कोई भी विश्वसनीय नहीं है और उन्हें डेथ ओवर के समय पोलार्ड और पंड्या की के खिलाफ उनकी दोयम दर्जे की गेंदबाजी पर भरोसा नहीं किया जा सकता है। पंजाब को पांचवें गेंदबाज की जरूरत थी, लेकिन कोई अन्य विकल्प नहीं था। सोशल मीडिया पर मजाकिया दार्शनिक के तौर पर सक्रिय रहने वाले नीशम चार ओवर गेंदबाजी करने गए और उन्होंने 52 रन देकर वास्ताविक जीवन के खेल का कठिन दर्शन किया।

MI vs KXIP: अबुधाबी में दिखा रोहित शर्मा के 2 साल पहले विकेट का एक्शन रिप्ले, वायरल हो रहा वीडियो

2. शेल्डन कॉट्रेल को डेथ ओवर के लिए नहीं रखा-

2. शेल्डन कॉट्रेल को डेथ ओवर के लिए नहीं रखा-

डेथ के लिए शेल्डन कॉटरेल के ओवरों को नहीं रखना भी कम भारी नहीं पड़ा। जबकि शेल्डन कॉटरेल को KXIP ने उनके डेथ ओवर स्पेशलिस्ट के रूप में खरीदा था। हालांकि पिछले गेम में तेवतिया के खिलाफ पांच छक्के खाने के साथ टीम ने उन पर वो विश्वास नहीं दिखाया। क्रिस जॉर्डन ही ऐसे में ले देकर किंग्स इलेवन पंजाब के सीमित संसाधन बचते हैं, लेकिन यह प्रसिद्ध डेथ बॉलर भी असफल रहा।

हालांकि, कॉटरेल ने नई गेंद के साथ इस खेल में शानदार प्रदर्शन किया और खतरनाक क्विंटन डी कॉक को जल्दी आउट कर दिया। अपने डेथ ओवर स्पेशलिस्ट के पास कोई भी ओवर नहीं होने के कारण, राहुल को अपने ऑलराउंडरों से आखिरी ओवरों में गेंदबाजी करनी पड़ी, जिसके कारण मुंबई ने अंतिम पांच ओवरों में 89 रन बनाए।

3. क्या क्रिस गेल को मैदान पर लाने समय आ गया है?

3. क्या क्रिस गेल को मैदान पर लाने समय आ गया है?

ग्लेन मैक्सवेल को नीलामी में 10.75 करोड़ रुपये में खरीदा गया था। उनसे KXIP की समस्याओं को हल करने की उम्मीद की गई थी, जिनका उन्हें IPL 2019 के दौरान सामना करना पड़ा था। हालांकि, वह इस सत्र में निराशाजनक रहे हैं और केवल चार विदेशी खिलाड़ियों को खेलने की सीमा के साथ, वह टीम पर बोझ रहे हैं। मैक्सवेल के हावभाव, उनकी शारीरिक भाषा इस बार चैम्पियन वाली नहीं है। उन पर बुढ़ापे का भी असर जैसे जल्दी आ रहा है लेकिन क्रिकेट में उम्र केवल एक नंबर होती है, और सब कुछ आपके द्वारा चीजों को देखने के नजरिए पर निर्भर करता है। KXIP बनाम MI में भी, उन्होंने 18 महत्वपूर्ण गेंदों का सामना करते हुए केवल 11 रन बनाए।

ऐसे में 40 साल के गेल को मैक्सवेल के स्थान पर बदलने का शायद ये सही समय है। हंसने गाने वाले गेल को इस सीजन में बेंच पर बैठकर गंभीर चेहरे के साथ मैच देखना काफी कठिन अनुभव है। कौन जानता है अगर वह इस खेल में होते, तो 192 का पीछा करना संभव हो सकता था।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Friday, October 2, 2020, 7:16 [IST]
Other articles published on Oct 2, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X