IPL 2020: 5 कंट्रोवर्सीज जिन्होंने लीग में बटोरी सबसे ज्यादा सुर्खियां

नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग का 13वां सीजन समाप्त हो गया है और कोरोना वायरस के बीच यूएई में आयोजित की गई इस लीग में मुंबई इंडियंस ने दिल्ली को हराकर 5वीं बार खिताब जीतने का काम किया। आईपीएल के इतिहास में खेले गये अब तक के संस्करण में यह सीजन अगर सबसे खास कहा जाये तो उसमें कुछ गलत नहीं होगा। जहां इस सीजन भारतीय युवा खिलाड़ियों का बोलबाला देखने को मिला तो वहीं हर साल की तरह इस सीजन भी आईपीएल में कुछ विवाद देखने को मिले।

और पढ़ें: IPL 2020: ब्रेट ली ने चुने अपने 2 पसंदीदा भारतीय खिलाड़ी, जिन्होंने बनाया अपना फैन

लीग के समाप्त होने पर हम ऐसे ही 5 विवाद चुनकर आपके सामने लाये हैं जिन्होंने लीग के दौरान सबसे ज्यादा सुर्खियां बटोरने का काम किया और फैन्स को काफी लंबे समय तक याद रहने वाले हैं। आइये एक नजर डालते हैं आईपीएल 2020 के 5 सबसे बड़े विवादों पर:

और पढ़ें: IPL 2020: 5वीं बार चैम्पियन बनने के बावजूद निराश हैं कप्तान रोहित शर्मा, जानें क्यों

दिल्ली के खिलाफ मैच में पंजाब का शॉर्ट रन विवाद

दिल्ली के खिलाफ मैच में पंजाब का शॉर्ट रन विवाद

आईपीएल 2020 का पहला विवाद हमें लीग के दूसरे मैच में ही देखने को मिला जहां दिल्ली कैपिटल्स की टीम ने सुपरओवर के रोमांच में पंजाब को हराकर जीत हासिल की थी। हालांकि जीत के बाद इस मैच के अंपायर विवादों में आ गये जिन्होंने कगिसो रबाडा के 19वें ओवर में क्रिस जॉर्डन के रन को शॉर्ट करार दिया था, जबकि टीवी रिप्ले में साफ नजर आया कि वह शॉर्ट नहीं था।

आखिरी ओवर में पंजाब को जीत के लिये 13 रनों की दरकार थी जिसका पीछा करते हुए पंजाब के लिये मयंक अग्रवाल ने पहली 3 गेंदों में 12 रन बना लिये लेकिन अगली 3 गेंदों में उसने अपने 2 विकेट खो दिये और एक रन नहीं बना सकी जिसके चलते मैच टाई हुआ और सुपरओवर में चला गया। ऐसे में अगर वह एक रन पंजाब के खाते में जुड़ा होता तो 3 गेंद पहले ही मैच को जीत जाती।

अंपायर के इस फैसले को लेकर सहवाग समेत कई दिग्गज खिलाड़ियों ने आपत्ति जताई थी। वहीं पंजाब की सह मालिक प्रीति जिंटा ने भी इसको लेकर ऑफिशियल कम्पलेंट की थी।

जब अंपायर ने टॉम करन को आउट देने के बाद बुलाया वापस

जब अंपायर ने टॉम करन को आउट देने के बाद बुलाया वापस

मैदान पर हमेशा शांत दिखने वाले कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को गुस्से में देखना कुछ दुर्लभ नजारों में से ही एक है, हालांकि आईपीएल के 13वें सीजन में वो भी देखने को मिला। राजस्थान रॉयल्स और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच खेले गये मैच में अंपायर शम्सुद्दीन ने टॉम करन को LBW आउट दिया जिस पर इस बल्लेबाज ने अपनी नाराजगी जताई, हालांकि रिव्यू न होने के चलते वह वापस लौटने लगे।

हालांकि यहां पर अंपायर शम्सुद्दीन ने तीसरे अंपायर की मदद लेने की सोची और अंपायर रिव्यू के लिये चले गये। वहीं जब तीसरे अंपायर ने रिव्यू किया तो वह LBW नहीं थे जिसके बाद वह मैदान पर वापस बल्लेबाजी करने के लिये आये।

वहीं अंपायर के इस फैसले से कप्तान एमएस धोनी नाराज दिखे और अंपायर से LBW आउट देने के बाद कैच के रिव्यू जाने के फैसले को लेकर सवाल किया। इस मैच के बाद धोनी के आपा खोने को लेकर काफी विवाद हुआ।

सुनील गावस्कर के बयान पर भड़की अनुष्का शर्मा

सुनील गावस्कर के बयान पर भड़की अनुष्का शर्मा

आईपीएल में विवादों का सिलसिला सिर्फ खिलाड़ियों के बीच ही नहीं बल्कि दिग्गज कॉमेंटेटर सुनील गावस्कर और विराट कोहली की पत्नी अनुष्का शर्मा के बीच भी देखने को मिला। पंजाब के खिलाफ पहले मैच में आरसीबी की टीम का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा था और इस मैच में कप्तान कोहली ने भी दो कैच छोड़े और बल्ले से भी कुछ खास योगदान नहीं दे सके। इस दौरान कॉमेंट्री कर रहे सुनील गावस्कर ने कोहली के खराब प्रदर्शन के लिये लॉकडाउन को जिम्मेदार बताते हुए अभ्यास का मौका न मिलने को जिम्मेदार ठहराया। इस दौरान उन्होंने कहा कि लॉकडाउन में उन्हें अनुष्का की गेंदबाजी के अलावा कुछ और प्रैक्टिस करने को नहीं मिली तो ऐसे में आप थोड़ा उन्हें बैकफुट पर देखेंगे।

हालांकि गावस्कर का यह बयान अनुष्का शर्मा को नागंवार गुजरा और उन्होंने ट्विटर का सहारा लेते हुए उन्हें लताड़ने का काम किया। उन्होंने लिखा, 'मैं आपसे कहना चाहती हूं कि आपका बयान काफी गलत है। आप ऐसे बयान क्यों देते हैं और क्या एक क्रिकेटर के खेल के लिए उसकी पत्नी ही जिम्मेदार है। मैं जानती हूं कि आपने हमेशा क्रिकेटरों की निजी जीवन का सम्मान किया है। तो आपको ऐसा नहीं लगता कि ऐसी ही मेरे साथ भी होना चाहिए। कब ऐसा होगा कि क्रिकेट में मुझे घसीटना बंद किया जाएगा।'

गावस्कर और अनुष्का के बीच हुई इस झड़प पर काफी विवाद देखने को मिला था।

जब धोनी के गुस्सा करने पर अंपायर ने बदला वाइड का फैसला

जब धोनी के गुस्सा करने पर अंपायर ने बदला वाइड का फैसला

गौरतलब है कि आईपीएल में धोनी और अंपायर का एक और विवाद देखने को मिला जब सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मैच में धोनी के गुस्सा करने पर अंपायर ने वाइड के अपने फैसले को बदलने का काम किया था।

सीएसके के खिलाफ इस मैच में सनराइजर्स हैदराबाद रनों का पीछा कर रही थी और शार्दुल ठाकुर 19वां ओवर कर रहे थे। मैच नाजुक मोड़ पर था और तभी शार्दुल की एक गेंद को अंपायर पॉल रेफल ने वाइड करार दिया। वहीं उनके इस फैसले पर धोनी ने अपना विरोध जताया, जिसे देखकर रेफल ने अपने फैसले को बदल दिया। भले ही सनराइजर्स हैदराबाद की टीम ने इस मैच को आसानी से जीत लिया लेकिन सोशल मीडिया पर इसको लेकर काफी विवाद हुआ।

जब DRS लेने पर थर्ड अंपायर ने वॉर्नर को दिया आउट

जब DRS लेने पर थर्ड अंपायर ने वॉर्नर को दिया आउट

आईपीएल 2020 का सबसे ताजा विवाद एलिमिनेटर मैच में देखा गया जहां पर आरसीबी के खिलाफ रनों का पीछा करने उतरी सनराइजर्स की टीम के लिये डेविड वॉर्नर को डीआरएस में गलत आउट दिया गया।

मोहम्मद सिराज ने इस मैच में पारी के छठे ओवर में डेविड वॉर्नर को डिविलियर्स के हाथों कैच कराया, हालांकि अंपायर ने नॉट आउट दिया तो आरसीबी ने थर्ड अंपायर का रुख किया। डीआरएस में सही तरीके से पता नहीं चल पाया कि गेंद वॉर्नर के ग्ल्वस में लगी थी यह फिर उनके थाई पैड के हिस्से को छूकर गई थी, हालांकि थर्ड अंपायर ने वॉर्नर को आउट माना और वापस पवेलियन भेज दिया।

थर्ड अंपायर के इस फैसले पर क्रिकेट कमेंटेटर्स से लेकर कई दिग्गज खिलाड़ियों ने नाराजगी जताई। कमेंटेटर मबंगवा ने कहा, मुझे लगता है कि अंपयार ने यह गलत फैसला किया। बहुत से लोगों का यह भी मानना था कि बेनिफिट ऑफ डाउट बल्लेबाज को मिलना चाहिए था।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Wednesday, November 11, 2020, 23:40 [IST]
Other articles published on Nov 11, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X