IPL 2020: लगातार दूसरे साल पहली बार MI ने जीता खिताब, बुमराह बोले- हमने मिथक तोड़ दिया

नई दिल्लीः मुंबई इंडियंस टीम के गेंदबाजी कोच शेन बॉन्ड जब अपने जमाने में बॉलिंग करते थे तो विपक्षियों को 70 के दशक का कैरेबियाई अटैक बहुत याद आता था। अपनी रफ्तार, उछाल और यॉर्कर से बल्लेबाजों के हौसले पस्त करने वाले इस तूफानी गेंदबाजी के सामने शायद ही कोई बल्लेबाज पड़ना चाहता था। बॉन्ड ने ठीक यही बात कुछ दिन पहले मुंबई इंडियंस के लिए कही थी कि आईपीएल की कोई भी टीम मुंबई का सामना करना नहीं चाहती। और ऐसा क्यों हैं इस बात की गवाही 10 नवंबर की शाम दे रही है जब रोहित शर्मा एंड कंपनी ने रिकॉर्ड पांचवीं बार खिताब अपने नाम किया।

MI ने मिथक तोड़ दिया-

MI ने मिथक तोड़ दिया-

मुंबई ने शोहरत को आईपीएल में बहुत कमाई है लेकिन उसके नाम एक अनचाहा रिकॉर्ड भी है कि वे कितनी भी धाकड़ टीम हों लेकिन लगातार दो बार आईपीएल खिताब नहीं जीत सकते। ये कारनामा 2010 और 2011 में लगातार किया है।

IPL 2020: इंडियन प्रीमियर लीग के अब तक के सभी फाइनलों पर एक नजर

दूसरी और मुंबई इंडियंस ने जो लगातार चार खिताब जीते वह 2013, 2015, 2017 और 2019 में आए थे। यानी एक खिताब के बाद दूसरा साल सूखा रहा और इस हिसाब से इस साल भी वह सूखा जाने वाला था लेकिन रेगिस्तानी धरती पर मुंबई की शानदार टीम ने ना केवल 5वें खिताब की बारिश की बल्कि लगातार दूसरे साल भी ट्रॉफी ना जीतने का मिथक तोड़ दिया।

जसप्रीत बुमराह ने कहा- हम तोड़ना चाहते थे लगातार ना जीतने का सिलसिला

जसप्रीत बुमराह ने कहा- हम तोड़ना चाहते थे लगातार ना जीतने का सिलसिला

सीजन 2020 में मुंबई इंडियंस की जान रहे जसप्रीत बुमराह भी इस बात से खुश हैं कि उनकी टीम ने ऐसा किया। कैगिसो रबाडा के बाद सबसे ज्यादा 27 विकेट लेने वाले बुमराह ने कहा-

"बहुत खुश हैं, हमने बहुत मेहनत की है, हमने अन्य टीमों से पहले बहुत तैयारी शुरू कर दी थी, हमने प्रक्रिया के माध्यम से काम किया है, जिसके सभी परिणाम हमें मिले हैं। हम हर वैकल्पिक वर्षों में जीत के मिथक को तोड़ना चाहते थे - लक्ष्य अब हासिल किया जा चुका है। आईपीएल खेलना एक बड़ी बात रही है। महामारी ने ऐसा झटका दिया कि सब घर पर ही अटक गए थे।"

मैच से पहले कही बुमराह की बात सच साबित हुई-

मैच से पहले कही बुमराह की बात सच साबित हुई-

बुमराह ने मुकाबले में कोई विकेट नहीं लिया लेकिन उन्होंने मैच से पहले ही कहा था अगर टीम खिताब जीत जाती है तो उनको कोई फर्क नहीं पड़ता वे चाहे विकेट भी ना लें।

बुमराह ने आगे कहा- "हम वापस आने और क्रिकेट खेलने के लिए आभारी हैं, कुछ जिसे हम प्यार करते हैं। हम खुश हैं कि हम लोगों को कुछ मनोरंजन दे सकते हैं (घर पर देख रहे लोगों के लिए), यह कुछ महीनों का कठिन काम है।"

बुमराह ने अपने प्रदर्शन पर बात करते हुए कहा-

बुमराह ने अपने प्रदर्शन पर बात करते हुए कहा-

"पहले गेम से, मुझे लगा कि मेरी लय ऊपर है लेकिन जिग्सा पजल का जैसे एक टुकड़ा गायब था। जब मैंने यहां (आरसीबी के खिलाफ) सुपर ओवर फेंका, तो अंत तक कुछ चिंता हो रही थी, लेकिन जब मैंने उस सुपरओवर को फेंका, तो मुझे लगा कि मैं एबी और विराट के खिलाफ प्रदर्शन कर सकता हूं। तब से, मेरा आत्मविश्वास बढ़ा, मैं बस चीजों को सरल रखना चाहता था और हर बार मूल बातें दोहराना चाहता था।"

बता दें कि दिल्ली कैपिटल्स ने पहले बैटिंग करते हुए 20 ओवरों में मात्र 156 ही रन बनाए थे जिसके जवाब में मुंबई ने आसानी से 8 गेंदें शेष रहते हुए लक्ष्य हासिल कर लिया।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Tuesday, November 10, 2020, 23:56 [IST]
Other articles published on Nov 10, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X