कमलेश नागरकोटी को इन 4 कारणों से मिल सकती है भारतीय टीम में जगह

नई दिल्ली। कोलकाता नाइट राइडर्स के युवा तेज गेंदबाज कमलेश नागरकोटी ने आईपीएल के 12वें सीजन में राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ शानदार प्रदर्शन किया था। उन्होंने 2 ओवर में 13 रन देकर 2 शिकार किए थे। उन्होंने आईपीएल में पदार्पण किया और अब तक 3 मैचों में 3 विकेट लिए हैं। हम इस युवा गेंदबाज को भारतीय टीम में जगह पाने के 4 कारण बताने जा रहे हैं।

1. साबित हुए हैं सर्वश्रेष्ठ फील्डर

1. साबित हुए हैं सर्वश्रेष्ठ फील्डर

कमलेश नागरकोटी एक ऑलराउंडर हैं, जो गेंदबाजी और बल्लेबाजी के साथ-साथ फील्डिंग में भी उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हैं। भारत के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने उन्हें टीम का अगला रवींद्र जडेजा साबित किया है। वह बाउंड्री के पास या अपनी गेंदबाजी पर जबरदस्त कैच लेते हुए नजर आते हैं। नागरकोटी ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ जोफ्रा आर्चर का भी कैच पकड़ा। भारतीय टीम के वर्तमान कप्तान विराट कोहली उन खिलाड़ियों पर बहुत ध्यान देते हैं जो सभी क्षेत्रों में टीम के लिए अच्छा काम करते हैं।

IPL 2020 : चोट के चलते दिल्ली कैपिटल्स का अहम खिलाड़ी हुआ टूर्नामेंट से बाहर

2. नागरकोटी एक शानदार गेंदबाज

2. नागरकोटी एक शानदार गेंदबाज

नागरकोटी पिछले दो साल से कोलकाता के सदस्य हैं। लेकिन वह अपनी फिटनेस के कारण टीम से बाहर थे। लेकिन अब वह इस सीजन से आईपीएल में पदार्पण कर रहे हैं। नगरकोटी ने आईपीएल में अब तक 3 मैच खेले हैं। लेकिन नागरकोटी ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ 2 ओवर फेंके, जिसमें उन्होंने 12 रन देकर 2 विकेट लिए। इस प्रदर्शन ने सभी का ध्यान आकर्षित किया है। वह एक महान गेंदबाज है, जो भारतीय टीम के लिए काफी फायदेमंद हो सकता है।

3. पूरी तरह फिट हैं

3. पूरी तरह फिट हैं

यदि कोई खिलाड़ी गेंदबाजी करता है, बल्लेबाजी करता है और अच्छी तरह से खेलता है, तो उस खिलाड़ी का फिटनेस स्तर बहुत अधिक है। नागरकोटी पिछले कुछ समय से फिटनेस से जूझ रहे थे, लेकिन अब वह पूरी तरह से फिट हैं।

IPL 2020 : हैदराबाद को लगा झटका, भुवनेश्वर कुमार हुए टूर्नामेंट से बाहर

4. कमलेश ने अच्छी बल्लेबाजी भी की

4. कमलेश ने अच्छी बल्लेबाजी भी की

नागरकोटी एक अच्छे गेंदबाज होने के साथ-साथ एक बल्लेबाज भी हैं। यह युवा खिलाड़ी निचले क्रम में अच्छी बल्लेबाजी कर सकता है और रन बना सकता है। उन्होंने राजस्थान के खिलाफ नाबाद 8 रन बनाए। उनकी बल्लेबाजी क्षमता को देखते हुए, क्रिकेट विशेषज्ञों ने कहा कि कमलेश भी अच्छी बल्लेबाजी कर सकते हैं। कमलेश ने क्लास ए क्रिकेट में खेले गए नौ मैचों में 26.20 की औसत से 131 रन बनाए हैं, जिसमें एक अर्धशतक भी शामिल है।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Monday, October 5, 2020, 18:43 [IST]
Other articles published on Oct 5, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X