चहल ने बताया IPL में क्यों 30 फीसदी मैच हार जाती है RCB की टीम, गिनाये 3 कारण

नई दिल्ली। आईपीएल के इतिहास में कई टीमें हैं जिन्होंने अब तक के 12 सीजन के दौरान अपना एक भी खिताब नहीं जीता है, इसमें किंग्स इलेवन पंजाब, दिल्ली कैपिटल्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीमों का नाम शामिल है। हालांकि इसके बावजूद भी अगर किसी टीम को इस टूर्नामेंट के चोकर्स के रूप में जाना जाता है तो वह है आरसीबी की टीम, जो हर साल कागज पर आईपीएल की सबसे मजबूत टीमों में से एक नजर आती है लेकिन उसके बावजूद खिताब जीत पाने में नाकाम रहती है।

लगातार खिताब से दूर रह जाने के चलते यह सवाल भी उठने लगे हैं कि आखिर फ्रैंचाइजी किस कारण से लगातार हार रही है। अब इस सवाल का जवाब टीम के युवा लेग स्पिनर गेंदबाज युजवेंद्र चहल ने दिया है।

कोरोना के बीच दिग्गज ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ने क्रिकेट को कहा अलविदा, लिया संन्यास

उल्लेखनीय है कि आरसीबी की टीम में दुनिया के सबसे शानदार बल्लेबाज विराट कोहली, एबी डिविलियर्स और क्रिस गेल जैसे खिलाड़ी रह चुके हैं लेकिन बावजूद इसके यह टीम अब तक एक भी खिताब नहीं जीत सकी है।

ENG vs PAK: इंग्लैंड के खिलाफ पाकिस्तान ने किया टी20 टीम का ऐलान, यह खिलाड़ी करेंगे डेब्यू

डेथ ओवर में गंवाते हैं 30 फीसदी मैच

डेथ ओवर में गंवाते हैं 30 फीसदी मैच

आरसीबी के लगातार खिताब न जीत पाने के चलते टीम के कप्तान विराट कोहली की नेतृत्व क्षमता को लेकर अक्सर सवाल उठाये जाते हैं, लेकिन टीम के साथ लंबे वक्त से जुड़े युजवेंद्र चहल ने इस बात का जवाब देते हुए आकाश चोपड़ा से बात की और लाइव चैट के दौरान बताया कि आखिरकार क्यों आरसीबी की टीम 30 प्रतिशत मैच डेथ ओवर्स में हार जाती है।

चहल ने लाइव चैट के दौरान कहा,'मैं आरसीबी के लिए 6 साल से खेल रहा हूं। जब मारे पास मिचेल स्टार्क थे वो साल छोड़ दें तो हमारी बड़ी परेशानी डेथ ओवर गेंदबाजी रही है। हम 16वें-17वें ओवर तक विरोधी टीम के बल्लेबाजों को बांधे रखने में कामयाब रहते हैं, लेकिन हम 30 फीसदी मैच आखिरी के तीन ओवर की वजह से हारते हैं।'

गेंदबाजी में इस बार हैं ज्यादा विकल्प

गेंदबाजी में इस बार हैं ज्यादा विकल्प

वहीं चहल ने आईपीएल 2020 में टीम के ज्यादा सफल होने और अपना पहला खिताब जीतने की उम्मीद जताई है और कहा है कि चूंकि इसका आयोजन यूएई में कराया जा रहा है, पिछले सीजन के मुकाबले रॉयल चैलेंजर्स बैंगलौर की टीम के पास गेंदबाजी में इस बार ज्यादा विकल्प हैं। इस बार आरसीबी की टीम में युजवेंद्र चहल के अलावा नवदीप सैनी, डेल स्टेन, मॉरिस और उमेश यादव भी शामिल हैं।

चहल ने कहा, 'इस साल हमारे पास डेथ ओवर गेंदबाजी करने के लिए ज्यादा विकल्प हैं, क्योंकि पहले 16वें ओवर के बाद जरूरत पड़ने पर मैं 17वां ओवर करता था। वरना हमारे पास आखिरी के चार ओवर के लिए सिर्फ दो गेंदबाजों का विकल्प होता था, लेकिन अब हमारे पास 3-4 गेंदबाजों का विकल्प होगा। पहले हमारी टीम में यही बात ‘मिसिंग' थी।'

4 साल पहले फाइनल में पहुंची थी आरसीबी

4 साल पहले फाइनल में पहुंची थी आरसीबी

गौरतलब है कि विराट कोहली की कप्तानी में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलौर की टीम अब तक एक भी खिताब नहीं जीत पाई है, हालांकि यह टीम अब तक 3 बार 2009, 2011, 2016 में फाइनल खेच चुकी है। आखिरी बार टीम ने 2016 में फाइनल तक का सफर तय किया था लेकिन उसके बाद से इसका प्रदर्शन निराशाजनक हो चला है।

टीम ने एक बार भी प्ले ऑफ के लिए क्वालिफाई नहीं किया है। परिणामस्वरूप वह अब तक खिताबी जीत से दूर हैं। हालांकि ये कहना गलत नहीं होगा विराट की ये टीम खिताब जीतने की हकदार है मगर वह हर बार ही इससे चूक जाती है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Friday, August 21, 2020, 23:17 [IST]
Other articles published on Aug 21, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X