जब घर में मदद करने के लिये लुकमान मेरीवाला ने छोड़ा था क्रिकेट, मुश्किल रहा है IPL तक का सफर

IPL 2021
Photo Credit: BCCI/IPL

नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग के 14वें सीजन के 11वें मैच में दिल्ली कैपिटल्स की टीम ने पंजाब किंग्स के खिलाफ 6 विकेट से जीत हासिल कर एक बार फिर से जीत का राह वापस हासिल कर ली है। पंजाब किंग्स की टीम ने इस मैच में टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी की और 4 विकेट खोकर 195 रनों का स्कोर खड़ा किया। इस दौरान जहां पंजाब किंग्स की टीम ने अपनी प्लेइंग 11 में अनकैप्ड प्लेयर जलज सक्सेना को डेब्यू करने का मौका दिया तो वहीं दिल्ली कैपिटल्स की टीम ने तेज गेंदबाज लुकमान मेरीवाला को डेब्यू कराया। लुकमान मेरीवाला ने आईपीएल में डेब्यू करते हुए 3 ओवर गेंदबाजी की और 32 रन देकर एक विकेट हासिल किया।

और पढ़ें: IPL 2021: मनहूस हैं पंजाब किंग्स के लिये केएल राहुल, यह आंकड़े बनाते हैं हार की वजह

लुकमान मेरीवाला ने अपने पहले ओवर में 20 रन दिये लेकिन उसके बाद अच्छी वापसी करते हुए मयंक अग्रवाल का विकेट हासिल किया और टीम के लिये खतरनाक हो रही साझेदारी को तोड़ने का काम किया। हालांकि इस दौरान वह थोड़े अनलकी भी रहे, क्योंकि उनके पहले ओवर की दूसरी ही गेंद पर स्टीव स्मिथ ने केएल राहुल का कैच छोड़ा और उन्होंने अर्धशतक बना डाला। आईपीएल में डेब्यू करने वाले लुकमान मेरीवाला के लिये यह मैच ही नहीं बल्कि यहां तक पहुंचने का सफर भी आसान नहीं रहा है।

और पढ़ें: IPL 2021: 34 साल में कर रहे हैं आईपीएल डेब्यू, जानें कौन हैं पंजाब किंग्स के जलज सक्सेना

14 साल की उम्र में छोड़ दिया था क्रिकेट

14 साल की उम्र में छोड़ दिया था क्रिकेट

29 साल के लुकमान मेरीवाला के लिये आईपीएल के इस प्लेटफार्म तक पहुंचना आसान सफर नहीं रहा है। बड़ौदा के लिये खेलने वाले लुकमान मेरीवाला को करियर के शुरुआती दिनों में ज्यादा मौका नहीं मिला था, जिसके चलते उन्होंने 14 साल की उम्र में क्रिकेट छोड़ दिया था और घर की आर्थिक स्थिति में मदद करने के लिये फैब्रिकेशन का काम शुरू कर दिया था। हालांकि बाद में माता-पिता और चाचा के समर्थन ने इस खिलाड़ी को मैदान पर वापस भेजा और सपने को सच करने के लिये प्रोत्साहित किया।

दिल्ली कैपिटल्स की ओर से जारी एक वीडियो में उन्होंने कहा,' हमारे घर में 5 लोगों का परिवार था और मेरे पिता बेहद छोटे किसान, जिससे घर का खर्च चलाना काफी मुश्किल होता था। इसके चलते मैंने क्रिकेट छोड़कर फैब्रिकेशन का काम शुरू कर दिया था ताकि परिवार में कुछ आर्थिक मदद कर सकूं।'

इशांत शर्मा-उमेश यादव से सीखना चाहते हैं गेंदबाजी के गुर

इशांत शर्मा-उमेश यादव से सीखना चाहते हैं गेंदबाजी के गुर

लुकमान मेरीवाला ने जब परिवार के समर्थन से मैदान पर दोबारा वापसी की तो सपने को सच करने के लिये पूरी तरह से तत्पर दिखाई दिये और बड़ौदा की अंडर-19 टीम में जगह बनाई। इसके बाद वह रुके नहीं और बड़ौदा की वनडे टीम का हिस्सा बनने के बाद 2017 में रणजी ट्रॉफी में डेब्यू भी किया। 20013-14 में वह टी20 क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज भी बने। आईपीएल में दिल्ली कैपिटल्स का हिस्सा बनने के बाद जब उनसे पूछा गया तो उन्होंने साफ किया कि वह ईशांत शर्मा और उमेश यादव जैसे दिग्गज गेंदबाजों से अपनी गेंदबाजी में धार लाने पर मेहनत कर रहे हैं, और नेटस में बड़े खिलाड़ियों के खिलाफ गेंदबाजी कर कमियों को दूर कर रहे हैं।

ऐसा रहा है लुकमान मेरीवाला का घरेलू करियर

ऐसा रहा है लुकमान मेरीवाला का घरेलू करियर

लुकमान मेरीवाला के अब तक के करियर की बात करें तो उन्होंने घरेलू स्तर पर टी20 क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन किया है। मेरीवाला अब तक 44 टी20 मैच खेल चुके हैं जिसमें 7 से कम की इकॉनमी रेट और 15 की औसत से वह 72 विकेट हासिल कर चुके हैं। इस दौरान वो टी20 क्रिकेट में 3 बार 5 विकेट हॉल और एक बार 4 विकेट लेने का कारनामा भी कर चुके हैं।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Monday, April 19, 2021, 16:44 [IST]
Other articles published on Apr 19, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X