आखिर क्यों डेविड वॉर्नर को हटाया गया कप्तानी से, क्या भारी पड़ गया ये कहना?

नई दिल्ली। आईपीएल के इस सीजन में सनराइजर्स हैदराबाद की टीम का सफर बेहत निराशाजनक रहा है। टीम ने अभी तक खेले गए 6 मैच में सिर्फ एक मैच में जीत दर्ज की है जबकि 5 मैच में टीम को हार का मुंह देखना पड़ा है। जिसकी वजह से हैदराबाद की टीम अंक तालिका में आखिरी पायदान पर है। टीम के शर्मनाक प्रदर्शन के चलते सीजन के बीच में ही टीम मैनेजमेंट ने डेविड वॉर्नर को टीम के कप्तान के पद से हटा दिया है। डेविड वॉर्नर की जगह न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन को कप्तान बनाया गया है। 2016 से सनराइजर्स हैदराबाद की टीम हर बार प्लेऑफ में अपनी जगह बनाने में सफल रही है लेकिन इस सीजन में 6 में से 5 मैच हारकर टीम के लिए प्लेऑफ का सफर मुश्किलभरा लग रहा है।

इसे भी पढ़ें- हमारी टीम बहुत अच्छा कर रही है, किसी एक व्यक्ति पर निर्भर नहीं हैं : धवन

नए कप्तान के साथ उतरेगी टीम

नए कप्तान के साथ उतरेगी टीम

टीम मैनेजमेंट ने सनराइजर्स हैदराबाद की लगातार हार के चलते टीम के कप्तान को बदला है और बाकी के मैच में केन विलियम्सन टीम की कप्तानी करेंगे। लेकिन जिस तरह से वॉर्नर को टीम की कप्तानी के पद से हटाया गया है उसके बाद कई सवाल भी खड़े हो रहे हैं। हालांकि ना सिर्फ टीम के खराब प्रदर्शन बल्कि बतौर बल्लेबाज वॉर्नर कुछ खास नहीं कर सके हैं ऐसे में माना जा रहा था कि उन्हें कप्तान के पद से हटाया जा सकता है। बतौर कप्तान और बल्लेबाज फेल होने की वजह से डेविड वॉर्नर काफी निराश नजर रहे थे और उनकी निराशा मैदान पर भी साफ देखी जा सकती है।

वॉर्नर के लिए खास नहीं रहा है यह सीजन

वॉर्नर के लिए खास नहीं रहा है यह सीजन

चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ मैच में डेविड वॉर्नर ने काफी धीमी बल्लेबाजी की और गेंद उनके बैट पर आ नहीं रही थी। मैच में हार के बाद खुद वॉर्नर ने कहा था कि तकरीबन 12-15 शॉट मैंने फील्डर के पास मारे। इस हार की पूरी जिम्मेदारी मैं लेता हूं, मैंने बहुत धीमी पारी खेली, जिसके चलते हमे मैच में हार मिली। वॉर्नर ने आईपीएल के इस सीजन में 6 पारियों में अभी तक 110.28 के स्ट्राइक रेट से सिर्फ 193 रन बनाए हैं। डेविड वॉर्नर आईपीएल में सर्वाधिक रन बनाने वाले खिलाड़ियों की लिस्ट में शामिल हैं। उन्होंने 148 मैचों में 5447 रन बनाए हैं और इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 140.13 का रहा है।

टीम मैनेजमेंट पर उठाया था सवाल

टीम मैनेजमेंट पर उठाया था सवाल

दरअसल डेविड वॉर्नर ने सार्वजनिक तौर पर टीम के चयनकर्ताओं के फैसले पर सवाल खड़ा किया था। जिस तरह से मनीष पांडे को टीम से बाहर किया गया उसके बाद वॉर्नर ने इस फैसले के खिलाफ कहा था कि उन्हें प्लेइंग इलेवन में शामिल नहीं करना मेरी राय में बहुत ही कड़ा फैसला था। लेकिन अंत में यह चयनकर्ताओं का फैसला है कि वह किसे चुनते हैं। दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ मैच में मनीष पांडे को टीम में नहीं चुना गया था। अपने बयान में वॉर्नर ने किसी चयनकर्ता का नाम नहीं लिया था। बता दें कि टीम के मुख्य कोच टॉम मूडी हैं, सहायक कोच ट्रेवर बाइलिस और ब्रैड हाडिन हैं, जबकि वीवीएस लक्ष्मण टीम के मेंन्टॉर हैं। ऐसे में इन्हीं में से किसी एक पर जरूर वॉर्नर ने सवाल खड़ा किया है।

क्या रंग लाएगा बदलाव

क्या रंग लाएगा बदलाव

मनीष पांडे की जगह टीम में विराट सिंह को जगह दी गई थी लेकिन वह कुछ खास नहीं कर सके और सिर्फ 4 रन बनाया। हालांकि वॉर्नर ने उनका समर्थन किया और कहा कि आप विराट को खारिज नहीं कर सकते हैं, वह अच्छे खिलाड़ी हैं। हालांकि वॉर्नर को टीम की कप्तानी के पद से हटा दिया गया है लेकिन वह अपनी राय टीम के हित में जरूर देते रहेंगे। बहरहाल देखने वाली बात यह है कि टीम के कप्तान को बदलने के बाद क्या टीम के प्रदर्शन पर कुच खास बदलाव देखने को मिलेगा।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Sunday, May 2, 2021, 8:00 [IST]
Other articles published on May 2, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X