IPL 2021: नीलामी को लेकर BCCI ने दिया नया आदेश, बढ़ी KXIP की मुश्किलें

IPL Auction 2021 BCCI new order puts KXIP in trouble franchisees has to spend at least 75 percent of purse amount: नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने दुनिया की सबसे मशहूर क्रिकेट लीग आईपीएल के 14वें सीजन की तैयारियां शुरू कर दी हैं। इसी को लेकर खिलाड़ियों की नीलामी का आयोजन 18 फरवरी को किया गया है। इस बीच बीसीसीआई ने नये सीजन के लिये कुछ दिशानिर्देशों जारी किये हैं जिसके चलते किंग्स इलेवन पंजाब की टीम को मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। किंग्स इलेवन पंजाब की टीम ने आईपीएल के 13वें सीजन में काफी करीबी मैच खेले थे लेकिन प्लेऑफ में जगह बनाने में नाकाम रही थी। पंजाब के कप्तान केएल राहुल ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए 670 रन बनाने का कारनामा किया था और लीग में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बनें।

आईपीएल के 13वें सीजन में खराब प्रदर्शन को देखते हुए किंग्स इलेवन पंजाब की टीम ने नीलामी से पहले 9 खिलाड़ियों को रिलीज करने का काम किया जबकि 16 खिलाड़ियों को रिटेन करने का काम किया। किंग्स इलेवन पंजाब की टीम ने ग्लेन मैक्सवेल, शेल्डन कॉट्रेल, के गौथम, मुजीब उर रहमान, जिम्मी नीशम, हार्डस विलजॉन, करुण नायर, जे सुचित और तजिंदर सिंह ढिल्लों को रिलीज करने का काम किया है।

IND vs ENG: जीरो पर आउट होते ही कोहली के नाम हुआ शर्मनाक रिकॉर्ड, अनचाहे क्लब में हुए शामिल

आईपीएल 2021 की नीलामी से पहले किंग्स इलेवन पंजाब की टीम को काफी जगह भरनी है और उसके पास पर्स में सबसे ज्यादा पैसे बचे हैं। पंजाब की टीम के पास 53.2 करोड़ रुपये बचे हैं जिसे उसे खिलाड़ियों की नीलामी पर खर्च करना है। हालांकि आईपीएल की गवर्निंग काउंसिल ने नया आदेश जारी किया है जिसके अनुसार नीलामी के दौरान सभी फ्रैंचाइजियों को कम से कम अपने पर्स का 75 प्रतिशत खर्च करना जरूरी है।

बीसीसीआई की ओर से जारी की गई इस गाइडलाइंस से पंजाब की टीम की परेशानी बढ़ सकती है। पंजाब की टीम ने अपने 16 खिलाड़ियों को रिटेन करने के लिये 31.8 करोड़ रुपये खर्च किये हैं और अब वो ज्यादा से ज्यादा 9 खिलाड़ियों को ही खरीद सकती है। उसे अपने पर्स का 75 प्रतिशत खर्च करने के लिये 18 फरवरी को कम से कम 31.7 करोड़ रुपये खर्च करने होंगे।

वीवीएस लक्ष्मण ने बताई भारतीय टीम की कमजोरी, कहा- टी20 विश्व कप से पहले करना होगा दूर

उल्लेखनीय है कि अगर कोई भी फ्रैंचाइजी अपने पर्स का 75 प्रतिशत खर्च करने में नाकाम रहती है तो बीसीसीआई को घाटा होगा।

इनसाइडस्पोर्ट से बात करते हुए बीसीसीआई के एक अधिकारी ने कहा,'सभी टीमों को अपने पर्स का कम से कम 75 प्रतिशत हिस्सा खर्च करना जरूरी है जो कि मौजूदा लिमिट 85 करोड़ से देखा जायेगा। यह नियम आईपीएल नीलामी के दौरान के पहले भी लागू किया गया था।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

 

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Saturday, February 13, 2021, 21:30 [IST]
Other articles published on Feb 13, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X