पूर्व चयनकर्ता का खुलासा, कोरोना नहीं आता तो महेंद्र सिंह धोनी 2020 में T-20 विश्वकप जरूर खेलते

Former India selector reveals about MS Dhoni's participation in T20 World Cup | Oneindia Sports

नई दिल्ली। भारत को दो विश्व कप जिताने वाले कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने जब पिछले साल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान किया तो हर कोई हैरान हो गया था। 2019 के वनडे विश्वकप के बाद महेंद्र सिंह धोनी ने एक भी मैच तकरीबन एक साल तक नहीं खेला था। ऐसे में फैंस मान रहे थे कि वो टी-20 विश्वकप में खेल सकते हैं। धोनी के फैंस को भी इस बात का यकीन था कि वो 2020 के टी-20विश्वकप में खेल सकते हैं, लेकिन कोरोना के चलते 2020 में विश्वकप को स्थगित करना पड़ा जिसके बाद महेंद्र सिंह धोनी ने आईपीएल से ठीक पहले अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया।

सेलेक्टर्स चाहते थे कि धोनी खेलें

वर्ष 2020 में होने वाले टी-20 विश्वकप में धोनी खेलेंगे इसका यकीन ना सिर्फ उनके फैंस बल्कि भारतीय टीम के पूर्व चयनकर्ता को भी था। टीम इंडिया के पूर्व चयनकर्ता सरनदीप सिंह ने खुद इस बारे में बड़ा बयान दिया है, उन्होंने कहा सेलेक्शन कमेटी की राय थी कि धोनी को 2020 विश्वकप खेलना चाहिए था जोकि अक्टूबर 2020 में ऑस्ट्रेलिया में होनी थी। लेकिन कोरोना की वजह से धोनी ने अपना फैसला बदला और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया।

कोरोना के चलते स्थगित हुआ था टी-20 विश्वकप

बता दें कि कोरोना वैश्विक महाममारी के चलते आईसीसी ने टी-20 विश्वकप को स्थगित कर दिया था। लेकिन इस साल टी-20 विश्वकप का आयोजन किया जाएगा। टी-20विश्व कप अक्टूबर माह में भारत में आयोजित किया जाएगा। सरनदीप सिंह ने स्पोर्ट्सकीडा को दिए इंटरव्यू में कहा कि अगर कोरोना नहीं होता तो निसंदेह धोनी 2020 में टी-20 विश्वकप खेल रहे होते, हमारा भी यही विचार था कि धोनी को 2020 में विश्वकप जरूर खेलना चाहिए था। वह फिट थे, उनके नहीं खेलने की कोई वजह नहीं थी।

माही सबसे फिट खिलाड़ी थे

सरनदीप सिंह ने कहा कि हम हमेशा खिलाड़ी की फिटनेस को देखते हैं कि वो कितना लंबा खेल सकते हैं और माही सबसे फिट खिलाड़ी थे। उन्होंने प्रैक्टिस से कभी भी विश्राम नहीं लिया। वैकल्पिक अभ्यास सत्र में भी धोनी पहुंचते थे। ऐसा कभी भी नहीं हुआ कि धोनी ने अभ्यास से चोटिल होने की वजह से हिस्सा नहीं लिया। यही वजह है कि उन्हें हर कोई इतना सम्मान देता है। हमे हमेशा महसूस होता था कि एक खिलाड़ी जिसने भारत के लिए इतना लंबा खेला है इतनी ट्रॉफी जीती है, ऐसी एक भी ट्रॉफी नहीं है जो उन्होंने नहीं जीती, उसे एक और मौका जरूर देना चाहिए। सेलेक्शन कमेटी में मेरी और हर किसी की यही राय थी कि धोनी को 2020 विश्वकप जरूर खेलना चाहिए।

आईपीएल में नजर आएंगे धोनी

बता दें कि सरनदीप सिंह भारतीय क्रिकेट टीम के चयनकर्ता रह चुके हैं और 2020 में उनका कार्यकाल खत्म हुआ था। वो इस चयनकर्ता समिति के भी सदस्य थे जिसने 2019 में विश्वकप के लिए टीम का चयन किया था। बता दें कि इस साल होने वाले आईपीएल में महेंद्र सिंह धोनी एक बार फिर से क्रिकेट के मैदान पर चेन्नई सुपर किंग्स टीम की कप्तानी करते नजर आएंगे।

इसे भी पढे़ं -माइकल क्लार्क बोले, मुझे नहीं लगता है कि स्टीव स्मिथ इस IPL में खेलेंगे, बताई वजह

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

 

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Sunday, February 21, 2021, 11:02 [IST]
Other articles published on Feb 21, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X