आज होगा क्रिकेट का सबसे ब्लॉकबस्टर मुकाबला, भारत मजबूत तो पाकिस्तान भी कम खतरनाक नहीं

नई दिल्लीः आखिर वह मुकाबला आ गया है जिसका सभी को बेसब्री से इंतजार था। एक-दूसरे के खिलाफ द्विपक्षीय सीरीज ना खेलने वाले भारत और पाकिस्तान आईसीसी के टी20 वर्ल्ड कप में 24 अक्टूबर को एक-दूसरे के आमने सामने होंगे। एक समय था जब पाकिस्तान के पास बहुत मजबूत टीम थी और दोनों देशों के बीच कुछ बेहतरीन प्रतियोगिताएं हुईं। लेकिन पिछले 10 वर्षों में पाकिस्तान का क्रिकेट का स्तर नीचे चला गया है क्योंकि वहां कोई बहुत बड़ा बल्लेबाज या गेंदबाज नहीं आया है। बाबर आजम इस समय वह बल्लेबाज लग रहे हैं लेकिन लगातार स्कोर अभी और करने होंगे।

भारत के लिए बहुत अच्छी बात यह है कि वह पहले ही मैच में सबसे ज्यादा दबाव वाला मुकाबला खेल लेगा। केवल एक चीज है जो भारत के लिए देखनी वाली बात होगी। टीम इंडिया के लिए एक ऐसा मौका पहले भी आ चुका है जब वे आईसीसी इवेंट (2017 आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी) में पाकिस्तान के खिलाफ लीग मैच में जीतकर फाइनल में हार का सामना कर चुके हैं। इस बार भी अगर समीकरण ने साथ दिया तो ये दोनों टीमें फाइनल में भी आमना-सामना कर सकती हैं।

भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने भी कहा कि वह भारत और पाकिस्तान को फाइनल में भी खेलते देखना चाहेंगे। गावस्कर ने आज तक पर सलाम क्रिकेट 2021 पर कहा, "मैं उस फाइनल में भारत और पाकिस्तान को देखना चाहता हूं। कोई और क्या चाहता है? यहां तक ​​कि आईसीसी भी चाहता है कि भारत और पाकिस्तान फाइनल में हों।"

T20 WC: इयोन मोर्गन के लिए पहले ही मैच में हुई दो अच्छी बातें, जीत का क्रेडिट बॉलरों को दियाT20 WC: इयोन मोर्गन के लिए पहले ही मैच में हुई दो अच्छी बातें, जीत का क्रेडिट बॉलरों को दिया

टी20 क्रिकेट में भारत के कप्तान के रूप में अपना अंतिम कार्य शुरू कर रहे विराट कोहली कह चुके हैं कि वह और बाकी टीम इसे सिर्फ एक और खेल के रूप में देख रहे हैं। हालांकि, उन्हें यह स्वीकार करना पड़ा कि मैच के आसपास के लोग अलग महसूस करते हैं। कोहली ने पिछले हफ्ते मीडिया से कहा कि इतनी भयंकर हाइप बनाई जाती है कि टिकटों की कीमतें आसमान छूने लगती हैं।

कोहली ने तब कहा था, "हां, जो माहौल आप कह सकते हैं, वह प्रशंसकों के दृष्टिकोण से अलग है, निश्चित रूप से आसपास अधिक उत्साह है लेकिन खिलाड़ियों के नजरिए से, हम जितना हो सके उतना पेशेवर रहने की कोशिश करते हैं।"

भारत ने जहां दोनों अभ्यास मैच जीते तो वहीं पाकिस्तान मिले-जुले परिणामों के साथ टूर्नामेंट में आया। विश्व कप से पहले उन्होंने बारिश से प्रभावित चार मैचों की T20I श्रृंखला में वेस्टइंडीज को 1-0 से हराया, जिसमें तीन मैच धुल गए। लेकिन इससे पहले उन्हें इंग्लैंड में 2-1 से हराया गया था और न्यूजीलैंड के आखिरी मिनट में दौरे से हटने के बाद घर में पांच मैचों की टी20ई श्रृंखला नहीं खेल सके। फिर इंग्लैंड ने भी आने से इंकार कर दिया। जबकि भारतीय खिलाड़ी आईपीएल से मंजकर आ रहे हैं।

IND vs PAK: दोनों देशों के राजनीतिक तनाव का मैच पर क्या असर होगा? गंभीर ने दिया ये जवाबIND vs PAK: दोनों देशों के राजनीतिक तनाव का मैच पर क्या असर होगा? गंभीर ने दिया ये जवाब

पाकिस्तान कप्तान बाबर आजम और विकेटकीपर-बल्लेबाज मोहम्मद रिजवान पर अपनी अधिकांश उम्मीदें लगाएगा, जो पिछले कुछ वर्षों में सभी प्रारूपों में उनके सबसे लगातार रन बनाने वालों में से दो हैं। बाबर ने कहा कि वे रविवार को भारत के खिलाफ अपने जीत के रिकॉर्ड को ध्यान में नहीं रखेंगे। पाकिस्तान के कप्तान ने कहा, "ईमानदारी से कहूं तो हम अतीत पर ध्यान केंद्रित नहीं करना चाहते हैं। हम इस विश्व कप का इंतजार कर रहे हैं। हम अपनी ताकत, क्षमता पर ध्यान देंगे और उस दिन इसे लागू करेंगे।"

कभी पाकिस्तान के पास इंजमाम-उल-हक, सईद अनवर, सलीम मलिक जैसे बल्लेबाज थे, उनके पास ऐसे गेंदबाज थे जैसे वसीम अकरम, वकार यूनुस और सकलैन मुश्ताक लेकिन आज ऐसा नहीं लगता कि पाकिस्तान भारत से मुकाबला कर सकता है क्योंकि उनकी टीम में शायद उस स्तर के एक या दो खिलाड़ी हैं। वास्तव में भारत की टक्कर की टीमें इंग्लैंड या ऑस्ट्रेलिया हैं।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Sunday, October 24, 2021, 10:06 [IST]
Other articles published on Oct 24, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X