कोहली को 13 साल हो गए रन बरसाते, डेब्यू मैच में बनाए थे सिर्फ इतने रन

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली फिलहाल इंग्लैंड दाैरे पर मिली लाॅर्ड्स में टेस्ट जीत का आनंद उठा रहे हैं। कोहली की कप्तानी में टीम ने मैच के आखिरी दिन ना सिर्फ लक्ष्य रखा, बल्कि मेजबान को 120 पर ढेर कर 151 रन से मैच भी जीता। सिर्फ एक दिन में पूरा खेल भारत के पक्ष में चला गया। यह संभव हुआ कोहली की कप्तानी के चलते, जिनका क्रिकेट में लंबा अनुभव रहा। कोहली के लिए आज यानी कि 18 अक्तूबर का दिन बेहद खास है क्योंकि उन्हें अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किए हुए 13 साल पूरे हो गए हैं।

'क्या बेटा बहुत गुस्सा आ गया तुम्हें', जब विनेश फोगाट से बोले PM मोदी'क्या बेटा बहुत गुस्सा आ गया तुम्हें', जब विनेश फोगाट से बोले PM मोदी

डेब्यू मैच में बनाए थे सिर्फ इतने रन

डेब्यू मैच में बनाए थे सिर्फ इतने रन

कोहली साल 2008 में भारतीय टीम में शामिल हुए थे। तब उनकी उम्र 19 साल थी। इन 13 वर्षों में उन्होंने सफलता के कई शिखर पार किए हैं। उन्होंने एमएस धोनी के नेतृत्व में अपनी यात्रा इतनी तेजी से शुरू की कि आज वह भारतीय टीम में सबसे मूल्यवान बल्लेबाज हैं। कोहली हालांकि अपने अंतरराष्ट्रीय डेब्यू मैच में कमाल नहीं दिखा सके थे। टीम पांच वनडे मैचों के लिए श्रीलंका दाैरे पर थी। 18 अक्तूबर को हुए पहले मैच में कोहली को गाैतम गंभीर के साथ ओपनिंग करने का माैका मिला। गंभीर खाता भी नहीं खोल सके तो कोहली ने 22 गेंदों में एक चाैका लगाते हुए सिर्फ 12 रन बनाए। यह मैच भारत 8 विकेट से हार गया था।

कोहली ने 2011 विश्व कप में खिचा था सबका ध्यान

कोहली ने 2011 विश्व कप में खिचा था सबका ध्यान

इस बल्लेबाज ने खुद को अब तक का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज साबित किया है। कोहली ने सबका ध्यान उस समय खींचा जब उन्हें 2011 विश्व कप की टीम में शामिल किया गया। उस समय चयनकर्ताओं ने रोहित शर्मा को बाहर करते हुए कोहली को जगह दी थी। हालांकि, कोहली ने मिले माैका का पूरा फायदा उठाया जब 2011 विश्व कप के पहले मैच में उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ शतक बनाया और अपनी ताकत दिखाई। सहवाग ने उस मैच में 175 रन बनाए लेकिन विराट के शतक ने भी सबका ध्यान खींचा। यह यहां था कि उन्होंने एक नई पहचान स्थापित की और एक रन मशीन के रूप में एक नई पहचान की ओर यात्रा शुरू हुई। कोहली अभी तक 94 टेस्ट मैचों में 27 शतक की मदद से 7609 रन बना चुके हैं। वनडे में उन्होंने 43 शतक के साथ 12169 रन बनाए हैं तो 89 टी20 मैचों में 3159 रन बनाए हैं। खास बात यह है कि कोहली तीनों फाॅर्मेट में 50 से अधिक की औसत से रन बनाने वाले इकलाैते बल्लेबाज हैं।

कुछ अहम बातों पर एक नजर-

कुछ अहम बातों पर एक नजर-

18 अगस्त, 2008 - दांबुला में श्रीलंका के खिलाफ वनडे क्रिकेट में डेब्यू

-12 जून 2010 - हरारे में जिम्बाब्वे के खिलाफ पहला अंतरराष्ट्रीय टी20 खेला

-20 - 23 जून 2011 - किंग्सटाउन में विंडीज के खिलाफ टेस्ट डेब्यू किया

-दिसंबर 24, 2009 - श्रीलंका के खिलाफ ईडन गार्डन्स स्टेडियम में अपना पहला अंतरराष्ट्रीय शतक जड़ा

-19 अप्रैल 2011 - पहला विश्व कप शतक

-6 जनवरी 2015 - भारतीय टेस्ट टीम का पहला मैच बताैर कप्तान के रूप में (ऑस्ट्रेलिया, सिडनी के खिलाफ)

-15 जनवरी 2017 - तीनों फाॅर्मेट के कप्तान बने

-16 नवंबर 2017 - अंतरराष्ट्रीय करियर में 50 शतक पूरे (श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट मैच, कोलकाता का ईडन गार्डन्स स्टेडियम)

-18 अगस्त 2018 - दस साल का करियर पूरा हुआ

- 22 नवंबर 2019- इस दिन के बाद नहीं निकला अभी तक कोई अंतरराष्ट्रीय शतक

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Read more about: virat kohli indian cricket team
Story first published: Wednesday, August 18, 2021, 14:46 [IST]
Other articles published on Aug 18, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X