इस उम्र में भी कपिल देव की बाउंसर में है धार, मैदान पर उतरे तो भौंचक्के रह गए एमएस धोनी

Written By:

नई दिल्ली। भारत को दो विश्व कप दिलाने वाले पूर्व कप्तान कपिल देव और महेंद्र सिंह धोनी ने गुरुवार को क्रिकेट के मैदान में कुछ ऐसा किया जिसको लेकर उनकी एक बार फिर से चर्चा हो रही है। दोनों ही पूर्व कप्तानों ने कई बच्चो के साथ कोलकाता के इडेन गार्डेन मैदान में मैच खेला। दोनों ही दिग्गज खिलाड़ियों ने एक दूसरे का सामना किया। पहले 1983 में भारत को पहला विश्व कप दिलाने वाले कपिल देव ने महेंद्र सिंह धोनी को गेंदबाजी की जिसपर धोनी के कुछ शानदार स्ट्रोक्स खेले। दोनों ही खिलाड़ियों चिलचिलाती धूप में काफी देर तक मैदान पर समय गुजारा।

इस उम्र में भी कपिल देव की बाउंसर में है धार, धोनी को किया परेशान

58 साल के हो चुके कपिल देव की गेंद में अभी भी उतनी ही धार है जितनी पहले हुआ करती थी। जी हां, दरअसल इसका अंदाजा आप कपिल देव की उस गेंद से लगा सकते हैं जिसे धोनी खेल नहीं पाए और काफी असहज दिखे। दरअसल इस उम्र में भी कपिल की बाउंसर धोनी जैसे दिग्गज खिलाड़ी को चकमा दे सकती है। कपिल देव ने धोनी को एक बाउंसर फेंकी जिसे धोनी खेल नहीं सके और उछलते हुए खुद को गेंद से बचाते हुए दिखे।

कॉमर्शिल एड की शूट के लिए उतरे मैदान में

कॉमर्शिल एड की शूट के लिए उतरे मैदान में

दरअसल दोनों ही दिग्गज खिलाड़ी एक कॉमर्शियल एड के लिए शूट कर रहे थे, जिसके लिए दोनों ने काफी समय मैदान में गुजारा। पहले धोनी ने बल्लेबाजी की जिसके बाद धोनी ने भी गेंदबाजी की और कपिल देव ने धोनी की गेंदों का सामना किया। इस दौरान छोटे बच्चों का एक ग्रुप मैदान पर मौजूद था जोकि शूटिंग का हिस्सा थे। जिस एड के लिए दोनों ही दिग्गज शूट कर रहे हैं वह तकरीबन 30 सेकेंड का होगा। इस एड को जाने माने फिल्ममेकर और एक्टर अरिंदम सिल डायरेक्ट कर रहे हैं। वह टेलीविजन के लिए अपना पहला एड डायरेक्ट कर रहे हैं जिसे लेकर वह काफी उत्साहित हैं।

सपना सच होने जैसा अनुभव

सपना सच होने जैसा अनुभव

इस एड के बारे में अरिंदम ने कहा कि यह मेरे लिए किसी सपने के सच होने जैसा है, मैं दोनों ही दिग्गजों का बहुत लंबे समय से बहुत बड़ा प्रशंसक हूं। मुझे दोनों को खेलते देखना काफी अच्छा लगता रहा है, लेकिन अब उनके साथ शूटिंग करना वह भी क्रिकेट के बारे में यह अपने आप में काफी बेहतर अनुभव है, इस पल को मैं कभी नहीं भूलुंगा। आपको बता दें कि अरिंदम ने ब्योमकेश फिल्म को भी डायरेक्ट किया था।

धोनी को नहीं है रीटेक की जरूरत

धोनी को नहीं है रीटेक की जरूरत

अरिंदम ने कहा कि कपिल देव 58 वर्ष के हैं, लेकिन जब उन्होंने बल्लेबाजी की ऐसा लग रहा था कि कपिल देव अपने पूरे रंग में हैं। हालांकि धोनी बेहतर एक्टर हैं, उन्हे एक भी बार रीटेक लेने की जरूरत नहीं पड़ी। उन्होंने बताया कि धोनी से मुझे दोबारा रीटेक नहीं लेना पड़ा, वह कैमरे के समने बिल्कुल सुलझे हुए सांत और संतुलित दिखते हैं। इस शूट के दौरान धोनी ने बच्चों को क्रिकेट से जुड़ी कुछ खास टिप्स भी दिए। उन्होंने बच्चों को बताया कि कैसे आक्रामक तरह से खेला जाए और किस तरह से बल्लेबाजी करते समय खड़ा हुआ जाए, वह इस दौरान लगातार बच्चों के साथ मुस्कुराते रहे। शूट के दौरान रोमांच उस वक्त और बढ़ गया जब शाम को टीम इंडिया के दिग्गज और पूर्व कप्तान सौरव गांगुली भी पहुंचे।

इसे भी पढ़ें- विराट कोहली ने कही मन की बात, बताया क्यों बनाई सोशल मीडिया से दूरी

Story first published: Friday, November 10, 2017, 12:52 [IST]
Other articles published on Nov 10, 2017
Please Wait while comments are loading...