बड़ी खबर: रिटायरमेंट से वापसी के लिये युवराज सिंह ने BCCI को लिखा लेटर, गांगुली करेंगे फैसला

नई दिल्ली। भारतीय टीम के पूर्व खिलाड़ी और विश्व कप के हीरो रहे युवराज सिंह एक बार फिर से मैदान पर लौटना चाहते हैं। इसको लेकर उन्होंने बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली को रिटायरमेंट से वापस आने के लिये पत्र भी लिखा है। इसके बाद उम्मीद की जा रही है कि वो आगामी सत्र के लिये घरेलू क्रिकेट में पंजाब की ओर से खेलते हुए नजर आ सकते हैं। क्रिकबज को दिये एक इंटरव्यू में सौरव गांगुली ने इस बात की जानकारी देते हुए बताया कि उन्होंने रिटायरमेंट से वापसी के लिये बीसीसीआई को लेटर लिखा है। उल्लेखनीय है कि युवराज सिंह ने पिछले साल 10 जून को क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास ले लिया था।

IPL 2020: किंग्स इलेवन पंजाब के कोच अनिल कुंबले ने BCCI पर साधा निशाना, जानें क्या बोले

संन्यास से वापसी के अपने फैसले पर बात करते हुए युवराज सिंह ने कहा, 'मैंने शुभमन गिल, अभिषेक शर्मा, प्रभसिमरन सिंह, अनमोलप्रीत सिंह जैसे पंजाब के युवा क्रिकेटरों के साथ मोहाली के पीसीए स्टेडियम में कुछ समय गुजारा और मुझे काफी मजा आया। मैंने उनसे खेल के विभिन्न पहलुओं पर बात की। मैंने महसूस किया कि मैं जो कुछ भी उन्हें बता रहा था वो उसे समझ पा रहे थे।'

ENG vs AUS: वनडे सीरीज के लिये वापस लौटे जेसन रॉय, इंग्लैंड ने किया टीम का ऐलान

नेट पर की प्रैक्टिस, कहा- वापस आया पुराना टच

नेट पर की प्रैक्टिस, कहा- वापस आया पुराना टच

उल्लेखनीय है कि युवराज सिंह के रिटायरमेंट के बाद पंजाब क्रिकेट संघ ने संन्यास का फैसला वापस लेकर पंजाब टीम में बतौर खिलाड़ी और मेंटर खेलने का आग्रह किया था।

उन्होंने कहा, 'उन युवा खिलाड़ियों को खेल के कुछ और पहलुओं को बताने के लिए मुझे नेट पर जाना पड़ा। नेट पर उतरने के बाद मैंने जिस तरह से गेंद को हिट किया मुझे काफी आश्चर्य हुआ, जबकि मैंने काफी लंबे अरसे से बैट नहीं पकड़ा था।'

पंजाब को जिता सकता हूं कई बड़े टूर्नामेंट

पंजाब को जिता सकता हूं कई बड़े टूर्नामेंट

पंजाब क्रिकेट असोशिएशन के सचिव पुनीत बाली ने इस बारे में बात करते हुए बताया कि उन्होंने युवराज से आग्रह किया है, जो पहले ही शुभमन गिल समेत कुछ युवा खिलाड़ियों को मार्गदर्शन दे रहे हैं। उन्होंने पिछले साल अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहने के बाद 2 विदेशी लीग में हिस्सा लिया था, जिसमें ग्लोबल टी-20 कनाडा और अबु धाबी टी-10 लीग शामिल है।

युवराज सिंह का मानना है कि अगर खिलाडड़ियों को सही मोटिवेशन दी जाये तो पंजाब की टीम चैम्पियनशिप जीत सकती है। युवराज सिंह ने कहा कि भज्जी (हरभजन सिंह) और मैंने कई टूर्नामेंट्स जीते हैं, लेकिन हमने कभी साथ में यह पंजाब के लिए नहीं किया और इस वजह से मैंने अपना रिटायरमेंट वापस लेने का फैसला किया है।

रिटायरमेंट से वापसी के लिये युवराज ने BCCI को भेजी है मेल

रिटायरमेंट से वापसी के लिये युवराज ने BCCI को भेजी है मेल

रिपोर्ट के मुताबिक, युवराज सिंह ने अपना रिटायरमेंट वापस लेने के लिए बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली और सचिव जय शाह को एक मेल भेजा और उनसे इसके लिए अनुमति मांगी है।

इसके साथ ही उन्होंने कहा, 'शुभमन पहले ही टीम इंडिया के लिए खेल रहे हैं और मुझे ऐसा लगता है कि अन्य तीन खिलाड़ियों में भी काफी काबिलियत है। अगर मैं उन खिलाड़ियों और पंजाब क्रिकेट के लिए किसी भी तरह से कोई योगदान कर पाता हूं, तो इससे बेहतर कुछ नहीं हो सकता।'

अगर घरेलू क्रिकेट में वापसी का मौका मिला तो नहीं खेलूंगा विदेशी लीग

अगर घरेलू क्रिकेट में वापसी का मौका मिला तो नहीं खेलूंगा विदेशी लीग

युवराज ने मेल में स्पष्ट किया है कि अगर उन्हें फिर से पंजाब के लिए खेलने की इजाजत मिलती है, तो वे देश के बाहर खेलने के अपने विचार को छोड़ देंगे।

उन्होंने कहा, अगर मुझे बीसीसीआई की ओर से अनुमति मिलती है, तो मैं सिर्फ टी20 मैच ही खेलूंगा, लेकिन कौन जानता है आगे क्या होगा।"

आपको बता दें कि युवराज सिंह ने भारत के लिए 40 टेस्‍ट, 304 वनडे और 58 टी-20 इंटरनेशनल मैचों में हिस्सा लिया। इसमें उन्होंने क्रमश: 1900, 8701 और 1177 रन बनाए। युवराज ने टेस्ट में 9, वनडे में 111 और टी-20 में 28 विकेट झटके। उन्होंने वह 2007 में टी-20 वर्ल्‍डकप और 2011 में वनडे वर्ल्‍डकप जीतने वाली टीम इंडिया का हिस्सा थे।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

क्रिकेट से प्यार है? साबित करें! खेलें माईखेल फेंटेसी क्रिकेट

Story first published: Wednesday, September 9, 2020, 20:20 [IST]
Other articles published on Sep 9, 2020
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X