इंग्लैंड के फुटबॉल खिलाड़ियों पर ऑनलाइन नस्लीय कमेंट के बाद फेसबुक और ट्विटर कठघरे में

नई दिल्लीः यूरो फाइनल में इटली से टीम की हार के बाद इंग्लैंड के ब्लैक फुटबॉल खिलाड़ियों पर हो रहे नस्लीय दुर्व्यवहार से निपटने में तेजी नहीं दिखा पाने पर फेसबुक और ट्विटर की आलोचना हो रही है। ये दोनों ही बड़े सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म हैं।

रविवार को इंग्लैंड की हार के बाद मार्कस रैशफोर्ड, जादोन सांचो और बुकायो साका प्रमुख सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर नस्लवादी टिप्पणियों के निशाने पर थे। तीनों खिलाड़ी इटली से शूटआउट में 3-2 से हारकर पेनल्टी चूक गए।

फुटबॉल एसोसिएशन की गर्वनिंग बॉडी ने रविवार रात एक बयान में दुर्व्यवहार की निंदा करते हुए कहा कि वह "ऑनलाइन नस्लवाद से हैरान है जिसका उद्देश्य सोशल मीडिया पर हमारे इंग्लैंड के कुछ खिलाड़ियों को निशाना बनाना है।"

एसोसिएशन ने ट्विटर पर कहा, "इस तरह के नफरत भरे बर्ताव करने वालों का स्वागत नहीं है। हम प्रभावित खिलाड़ियों का समर्थन करने के लिए हर संभव प्रयास करेंगे, जबकि किसी भी जिम्मेदार व्यक्ति के लिए सबसे कठिन सजा की मांग करेंगे।"

'हमने टूर्नामेंट में कई बार इतिहास रचा', हार के बाद इंग्लैंड के कोच ने बढ़ाया टीम का हाैसला'हमने टूर्नामेंट में कई बार इतिहास रचा', हार के बाद इंग्लैंड के कोच ने बढ़ाया टीम का हाैसला

नस्लवादी प्रतिक्रिया ने सोशल नेटवर्क पर किए जा रहे नस्लीय बर्ताव पर प्रकाश डाला और सवाल उठाया कि क्या तकनीकी कंपनियां इसका मुकाबला करने के लिए पर्याप्त प्रयास कर रही हैं। कई टॉप ब्रिटिश खेल टीमों और एथलीटों ने नस्लवादी और सेक्सिस्ट पोस्ट को हटाने में कंपनियों की विफलता के विरोध में फेसबुक, इंस्टाग्राम और ट्विटर का बहिष्कार किया है।

ब्रिटिश सरकार हानिकारक सामग्री के प्रसार को लेकर बड़ी तकनीकी कंपनियों पर नकेल कसने की तैयार कर रही है। ब्रिटिश संस्कृति सचिव ओलिवर डाउडेन ने सोमवार सुबह एक ट्वीट में कहा, "मैं अपने खिलाड़ियों के नस्लवादी दुर्व्यवहार पर गुस्से को साझा करता हूं।"

"सोशल मीडिया कंपनियों को और बेहतर काम करने की जरूरत है और, अगर वे विफल होते हैं, तो हमारा नया ऑनलाइन सुरक्षा विधेयक वैश्विक राजस्व के 10 प्रतिशत तक के जुर्माने के लिए उन्हें जिम्मेदार ठहराएगा।"

ब्रिटेन के एक अन्य राजनेता, संसद के कंजर्वेटिव सदस्य डेमियन कोलिन्स ने फेसबुक पर निशाना साधते हुए पूछा कि उसने ऐसे कितने लोगों का अकाउंड डिलीट किया है जो नफरत फैलानी वाली बातों में शामिल थे।

इसी बीच फेसबुक के प्रवक्ता ने कहा, "किसी को भी कहीं भी नस्लवादी दुर्व्यवहार का अनुभव नहीं होना चाहिए, और हम इसे इंस्टाग्राम पर नहीं चाहते हैं। हमने कल रात इंग्लैंड के फुटबॉल खिलाड़ियों के खिलाफ गलत कमेंट वाले अकाउंट को तुरंत हटा दिया और हम उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई करना जारी रखेंगे जो हमारे नियम तोड़ते हैं।"

एक ट्विटर प्रवक्ता ने सीएनबीसी को बताया, "इंग्लैंड के खिलाड़ियों पर कल रात घृणित नस्लवादी दुर्व्यवहार का ट्विटर पर कोई स्थान नहीं है।"

"पिछले 24 घंटों में, मशीन लर्निंग आधारित ऑटोमेशन और मानव समीक्षा के जरिए हमने अपने नियमों का उल्लंघन करने के लिए 1000 से अधिक ट्वीट्स को तेजी से हटा दिया है और कई खातों को स्थायी रूप से सस्पेंड कर दिया है।"

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts
भविष्यवाणियों
VS

Story first published: Tuesday, July 13, 2021, 8:46 [IST]
Other articles published on Jul 13, 2021
+ अधिक
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X