CWG 2018: ओलंपिक मेडलिस्ट पीवी सिंधु के हाथों में होगा भारतीय झंडा

Posted By:
नई दिल्ली। अगले महीने ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में 2018 राष्ट्रमंडल खेलों के उद्घाटन समारोह में भारतीय दल की अगुआई रियो ओलंपिक की पदक विजेता बैडमिंटन खिलाड़ी पी.वी. सिंधु करेंगी। इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (आईओए) के सूत्रों ने इस बात की जानकारी दी है। आईओए ने फैसला किया है कि ओपनिंग सेरेमनी में भारतीय दल का नेतृत्व सिंधु को सौंपा जाएगा। हालांकि खबरों की मानें तो इस जिम्मेदारी के लिए सायना नेहवाल और एमसी मैरीकॉम, साक्षी मलिक के नाम पर भी चर्चा की गई थी लेकिन लेकिन सिंधु के ओलिंपिक मेडल के रंग और हाल के दिनों में उनकी कामयाबियों को मद्देनजर रखते हुए यह पैसला किया गया गया। गौरतलब है कि 2004 के एथेंस ओलिंपिक के बाद यह पहला मौका है जब किसी महिला एथलीट को किसी बड़े खेल आयोजन में ध्वजवाहक बनाया गया है। 2004 ओलिंपिक में यह जिम्मेदारी लोंग जंपर अंजू बॉबी जॉर्ज ने निभाई थी। तब से इन पुरुषों ने संभाली है भारतीय तिरंगे की जिम्मेदारी 2008 के बीजिंग ओलिंपिक में मौजूदा खेल मंत्री और एथेंस ओलिंपिक 2004 के सिल्वर मेडलिस्ट राजयवर्धन राठौड़। 2010 के कॉमनवेल्थ खेलों में भारत के ध्वजवाहक ओलिंपिक गोल्ड मेडलिस्ट अभिनव बिंद्रा थे। 2012 के लंदन ओलिंपिक में सुशील कुमार भारत के ध्वज वाहक थे। 2014 ग्लास्गो कॉमनवेल्थ खेलों में यह जिम्मा 2012 लंदन ओलिंपिक के सिल्वर मेडलिस्ट शूटर विजय कुमार के कंधों पर था। 2016 रियो ओलिंपिक अभिनव बिंद्रा ने ही ओपनिंग सेरेमनी में भारत का झंडा उठाया था।

नई दिल्ली। अगले महीने ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में 2018 राष्ट्रमंडल खेलों के उद्घाटन समारोह में भारतीय दल की अगुआई रियो ओलंपिक की पदक विजेता बैडमिंटन खिलाड़ी पी.वी. सिंधु करेंगी। इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (आईओए) के सूत्रों ने इस बात की जानकारी दी है। आईओए ने फैसला किया है कि ओपनिंग सेरेमनी में भारतीय दल का नेतृत्व सिंधु को सौंपा जाएगा।

हालांकि खबरों की मानें तो इस जिम्मेदारी के लिए सायना नेहवाल और एमसी मैरीकॉम, साक्षी मलिक के नाम पर भी चर्चा की गई थी लेकिन लेकिन सिंधु के ओलिंपिक मेडल के रंग और हाल के दिनों में उनकी कामयाबियों को मद्देनजर रखते हुए यह पैसला किया गया गया।

गौरतलब है कि 2004 के एथेंस ओलिंपिक के बाद यह पहला मौका है जब किसी महिला एथलीट को किसी बड़े खेल आयोजन में ध्वजवाहक बनाया गया है। 2004 ओलिंपिक में यह जिम्मेदारी लोंग जंपर अंजू बॉबी जॉर्ज ने निभाई थी।

तब से इन पुरुषों ने संभाली है भारतीय तिरंगे की जिम्मेदारी

  • 2008 के बीजिंग ओलिंपिक में मौजूदा खेल मंत्री और एथेंस ओलिंपिक 2004 के सिल्वर मेडलिस्ट राजयवर्धन राठौड़।
  • 2010 के कॉमनवेल्थ खेलों में भारत के ध्वजवाहक ओलिंपिक गोल्ड मेडलिस्ट अभिनव बिंद्रा थे।
  • 2012 के लंदन ओलिंपिक में सुशील कुमार भारत के ध्वज वाहक थे।
  • 2014 ग्लास्गो कॉमनवेल्थ खेलों में यह जिम्मा 2012 लंदन ओलिंपिक के सिल्वर मेडलिस्ट शूटर विजय कुमार के कंधों पर था।
  • 2016 रियो ओलिंपिक अभिनव बिंद्रा ने ही ओपनिंग सेरेमनी में भारत का झंडा उठाया था।
Story first published: Saturday, March 24, 2018, 11:11 [IST]
Other articles published on Mar 24, 2018

MyKhel से प्राप्त करें ब्रेकिंग न्यूज अलर्ट