Tokyo Paralympics: भविना पटेल टेबल टेनिस फाइनल में गोल्ड से चूकीं, सिल्वर जीतकर रचा इतिहास

Tokyo Paralympics 2021: Historical moment for India, Bhavina won Silver | वनइंडिया हिन्दी

टोक्यो: भारत की टेबिल टेनिस खिलाड़ी भविना पटेल ने फाइनल मुकाबले में गोल्ड मेडल गंवा दिया है लेकिन सिल्वर जीतकर वे पहले ही इतिहास रच चुकी हैं। फाइनल में उनका सामना चीन की झाउ यिंग से हुआ जो दुनिया की नंबर एक खिलाड़ी हैं। क्लास 4 के तहत यह मुकाबला भविना को 0-3 से गंवाना पड़ा। चीनी खिलाड़ी को 11-7, 11-5 और 11-6 से जीत मिली जो मैच पर उनकी पकड़ को दर्शाता है।

भविना ने मैच में वापसी करने की भरसक कोशिश की लेकिन इस बार चीनी खिलाड़ी को जवाब नहीं था। यिंग ने बिजली की गति से तेज शॉट खेले जो भविना की पहुंच से बाहर थे। हालांकि ये पहला गेम था जहां भविना बराबरी करती हुई दिखाई दे रहीं थीं लेकिन गेम प्वाइंट को हासिल करने के बाद बाकी बचे दो गेम में यिंग ने भविना को मौका नहीं दिया।

IND vs ENG: क्या पुजारा ने करियर बचाने के लिए खेली ये पारी? रोहित शर्मा ने दिया जवाबIND vs ENG: क्या पुजारा ने करियर बचाने के लिए खेली ये पारी? रोहित शर्मा ने दिया जवाब

इससे पहले भविना ने सेमीफाइनल मुकाबले में चीन की झांग मियाओ को 7-11, 11-7, 11-4, 9-11, 11-8 से मात दी थी।

भविना इस मुकाम तक पहुंचने वाली देश की पहली पैरा पैडलर हैं। क्लास 4 में कंपीट करते हुए भविना ने यह इतिहास रचा है। इससे पहले वे क्वार्टरफाइनल में पहुंचने वाली भी भारत की पहले टेबल टेनिस खिलाड़ी बनी थीं। भविना का क्वार्टर फाइनल में मुकाबला सर्बिया की बोरिस्लावा पेरिच रांकोविच से हुआ था।

गुजरात से आने वाली भविना के पिता बेटी की उपलब्धि से खुश हैं और उन्होंने कहा है कि भविना ने उन्हें गर्व का अहसास कराया है और हम भारत आने पर उनका ग्रांड वेलकम करेंगे।

इस अवसर पर भविना के घर के आसपास लोगों का काफी उत्साह देखा गया।

कुछ ऐसा रहा पैरालंपिक में भविना का सफर-

अनुभवी पैडलर ने रोमांचक ग्रुप ए मैच में ग्रेट ब्रिटेन की मेगन शेकलटन को 3-1 से हराकर नॉकआउट स्टेज में जगह पक्की की।

भविना ने तीन सेटों में जीत दर्ज करते हुए क्वार्टरफाइनल में जगह बनाते हुए नॉकआउट की बाधा भी पार की। उन्होंने जॉयस डी ओलिविरिया को इस मुकाबले में मात दी। भाविना ने अपनी उच्च रैंकिंग वाली ब्राजील की प्रतिद्वंद्वी ब्राजील की जॉयस डी ओलिवेरा को 12-10, 13-11, 11-6 से हराया।

क्वार्टरफाइनल में भविना का मुकाबला सर्बिया की बोरिस्लावा रैंकोविक पेरिक से हुआ, जिनके सामने भाविना ने शानदार प्रदर्शन करते हुए एकतरफा अंदाज में जीत हासिल की। भाविना ने क्वार्टरफाइनल मैच में एकतरफा दबदबा बनाया और 3-0 से सीधे सेटों में जीत हासिल कर सेमीफाइनल में जगह बना कर इतिहास रच दिया।

भविना ने सेमीफाइनल मुकाबले में चीन की झांग मियाओ को 7-11, 11-7, 11-4, 9-11, 11-8 से मात दी।

For Quick Alerts
Subscribe Now
For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS
For Daily Alerts

Story first published: Sunday, August 29, 2021, 8:16 [IST]
Other articles published on Aug 29, 2021
POLLS
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Yes No
Settings X